होम /न्यूज /खेल /BCCI से आई बड़ी खबर, कोरोना वायरस से हुए नुकसान की भरपाई के लिए नहीं खेलेगा आईसीसी टूर्नामेंट!

BCCI से आई बड़ी खबर, कोरोना वायरस से हुए नुकसान की भरपाई के लिए नहीं खेलेगा आईसीसी टूर्नामेंट!

बीसीसीआई ने कहा कि  लॉकडाउन के चौथे चरण में वह राज्य संघों के साथ मिलकर स्थानीय स्तर पर अभ्यास शुरू करेगा.

बीसीसीआई ने कहा कि लॉकडाउन के चौथे चरण में वह राज्य संघों के साथ मिलकर स्थानीय स्तर पर अभ्यास शुरू करेगा.

बीसीसीआई (BCCI) के कोषाध्‍यक्ष अरुण धूमल (Arun Dhumal ) के कहा कि द्विपक्षीय सीरीज से बोर्ड को ज्‍यादा कमाई होती है

    नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण सभी खेल इवेंट्स के साथ साथ क्रिकेट भी पूरी तरह से ठप्‍प पड़ा हुआ है. क्रिकेट न होने के कारण ज्‍यादातर बोर्ड वित्‍तीय संकट से जूझ रहे हैं. बीसीसीआई को भी नुकसान हो रहा है और अगर आईपीएल (IPL) का आयोजन नहीं होता है तो बीसीसीआई को 4 हजार करोड़ रुपये का नुकसान होगा. इस नुकसान की भरपाई के लिए कोरोना वायरस खत्‍म होने के बाद बीसीसीआई (BCCI) के लिए द्विपक्षीय सीरीज ज्‍यादा अहम होगी. बीसीसीआई के कोषाध्‍यक्ष अरुण धूमल ने क्रिकबज से खास बातचीत में बताया कि हम इस वायरस के कारण जो भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेल पा रहे हैं, उससे हमें नुकसान हो रहा है. अगर हम आईपीएल का आयोजन नहीं करवा पाते हैं तो इससे 4 हजार करोड़ रुपये का नुकसान होगा.

    मौका मिलने पर करवाएंगे आईपीएल
    धूमल ने कहा कि बीसीसीआई (BCCI) की प्राथमिकता क्रिकेटर्स की सुरक्षा और उनका स्‍वास्‍थ्‍य है. अगर कोई विंडो मिलती है तो हम आईपीएल का आयोजन करना पसंद करेंगे. पहले से ही आईसीसी का आठ साल का फ्यूचर टूर प्रोग्राम बना हुआ है, जो 2023 तक का है. इस महामारी के कारण इस समय सभी क्रिकेट बोर्ड संघर्ष कर रहे हैं. हर किसी के लिए जरूरी है कि वह इस समय बैठे और क्रिकेट को वापस लाने और नुकसाान की भरपाई करने के लिए रणनीति बनाए. , क्‍योंकि सभी बोर्ड नुकसान से जूझ रहे हैं और इससे हर कोई प्रभावित होगा. धूमल ने कहा कि एक बार क्रिकेट शुरू हो जाए, तो हम सभी बोर्ड से बात करेंगे, एक दूसरे की मदद करेंगे और विश्‍व क्रिकेट को फिर से जीवित करेंगे.
    द्विपक्षीय सीरीज अहम
    अरुण धूमल (Arun Dhumal) ने कहा कि लगभग सभी बोर्ड वित्‍तीय संकट से जूझ रहे हैं, ऐसे में निकट भविष्‍य में आईसीसी टूर्नामेंट में हिस्‍सा लेने की बजाय द्विपक्षीय सीरीज खेलने पर विचार किया जाएगा. इससे आसानी से कोई भी क्रिकेट बोर्ड अधिक कमाई कर सकता है. अगर व्‍यक्तिगत क्रिकेट बोर्ड वित्‍तीय संकट से जूझेगा तो आईसीसी भी इससे प्रभावित होगा. उन्‍होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि आईसीसी (ICC) अपने दम पर सभी क्रिकेट बोर्ड का चलाता है और उनकी जरूरत पूरी करता है. अगर हम सभी अपने पैरों पर वापस आ जाए तो हम एक दूसरे की मदद कर पाएंगे.

    एमएस धोनी की सफेद दाढ़ी देखकर मां ने दिया ऐसा रिएक्शन, कहा-मेरा बेटा...

    केविन पीटरसन और मिचेल जॉनसन के बीच हुई थी मैदान पर 'लड़ाई', देखिए वीडियो

    Tags: BCCI, Coronavirus, COVID 19, Cricket, Indian cricket tem, IPL, Sports news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें