लाइव टीवी

CoA का ICC को करारा जवाब- हमारे मामलों में दखल न दें, हाल ही में लिए फैसलों को नहीं मानेंगे

भाषा
Updated: October 18, 2019, 6:57 AM IST
CoA का ICC को करारा जवाब- हमारे मामलों में दखल न दें, हाल ही में लिए फैसलों को नहीं मानेंगे
बीसीसीआई.(फाइल फोटो)

आईसीसी बोर्ड (ICC Board) ने अगले आठ साल के चक्र के लिए दो टी20 विश्व कप (T20 World Cup) और 50 ओवरों के दो विश्व कप के अलावा अतिरिक्त वैश्विक टूर्नामेंट (50 ओवरों के प्रारूप में छह देशों का टूर्नामेंट) को मंजूरी दी थी.

  • Share this:
नई दिल्ली: प्रशासकों की समिति (Committee Of Administrative) ने आईसीसी (ICC) से कहा है कि हाल ही में दुबई में हुई आईसीसी बोर्ड की बैठक में लिए गए फैसलों को बीसीसीआई (BCCI) नहीं मानेगा क्योंकि अमिताभ चौधरी (Amitabh Chaudhary) भारत के अधिकृत प्रतिनिधि नहीं थे. चौधरी को सीओए ने आईसीसी की बैठक में भाग लेने से रोका था लेकिन उन्होंने शशांक मनोहर (Shashank Manohar) की अध्यक्षता वाली आईसीसी के न्यौते पर नीतिगत फैसलों के लिये मतदान में भाग लिया.

हर तीन साल में वनडे वर्ल्‍ड कप का प्रस्‍ताव खारिज
आईसीसी बोर्ड ने अगले आठ साल के चक्र के लिए दो टी20 विश्व कप और 50 ओवरों के दो विश्व कप के अलावा अतिरिक्त वैश्विक टूर्नामेंट (50 ओवरों के प्रारूप में छह देशों का टूर्नामेंट) को मंजूरी दी थी. सदस्यों ने हर तीन साल में वनडे विश्व कप कराने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था.

'आईसीसी के किसी फैसले को मानने के लिए बीसीसीआई बाध्‍य नहीं'

सीओए ने तल्ख लहजे में आईसीसी के मुख्य कार्यकारी मनु साहनी (Manu Sawhney) को लिखे पत्र में कहा, ‘सीओए आईसीसी की बैठक में अमिताभ चौधरी को बीसीसीआई (BCCI) का अधिकृत प्रतिनिधि नहीं मानता. बीसीसीआई (BCCI) उनके द्वारा बीसीसीआई की ओर से लिए गए किसी फैसले को नहीं मानता और ना ही आईसीसी के किसी फैसले को मानने के लिए बाध्य है.’

bcci, icc, committee of administrative, shashank manohar, amitabh chaudhary, sourav ganguly, सौरव गांगुली, आईसीसी, बीसीसीआई, सीओए, शशांक मनोहर
सीओए के प्रमुख विनोद राय और अमिताभ चौधरी.


'आईसीसी की दखल अवैध'
Loading...

साथ ही साहनी को कड़े शब्‍दों में कहा कि उन्‍हें बीसीसीआई के आंतरिक मामलों में दखल देने की जरूरत नहीं है. बता दें कि साहनी ने 14 अक्‍टूबर को पत्र लिखकर सीओए से कहा था कि आईसीसी की लीग सेल ने बोर्ड मीटिंग में चौधरी के शामिल होने की जांच की है. सीओए के पत्र में आगे कहा गया है, 'बीसीसीआई के अपने प्रतिनिधि को चुनने के अधिकार में आईसीसी किसी तरह की दखल देने का दावा नहीं कर सकती. कृपया ध्‍यान दें कि आईसीसी का एक सदस्‍य राष्‍ट्र के अंदरूनी मामलों में दखल देना अवैध और गैरजरूरी है.'

ICC का मुख्‍यालय दुबई में है.


'बीसीसीआई जो भी उसका हक है उस पर दावा करेगा'
बीसीसीआई के नए शासन से जुड़े लोगों ने सीओए के मेल को सामान्‍य बताया. बीसीसीआई के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने पीटीआई को बताया, 'जैसा कि हमारे चुने हुए अध्‍यक्ष सौरव गांगुली ने पहले ही साफ कर दिया है कि बीसीसीआई जो भी उसका हक है उस पर दावा करेगा. जो सीओए करता है यह उससे अलग नहीं है. (शशांक) मनोहर का एकमात्र उद्देश्‍य बीसीसीआई के खजाने पर निशाना साधना है तो आईसीसी की ऐसी किसी नीति में बीसीसीआई शामिल नहीं होगा.'

रांची टेस्‍ट: कोहली-रोहित प्रैक्टिस सेशन से दूर, कुलदीप की बैटिंग प्रैक्टिस

भारतीय तेज आक्रमण मुझे वेस्‍टइंडीज के आक्रमण की याद दिलाता है: ब्रायन लारा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 11:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...