टी20 वर्ल्ड कप से पहले न्यूजीलैंड को मिला विस्फोटक बल्लेबाज, जानें क्यों खतरनाक हैं डेवॉन कॉनवे

डेवन कॉनवे(Devon Conway) ने बांग्लादेश के खिलाफ पहले टी20 में सिर्फ 52 गेंद पर नाबाद 92 रन की पारी खेली. (PIC:AFP)

डेवन कॉनवे(Devon Conway) ने बांग्लादेश के खिलाफ पहले टी20 में सिर्फ 52 गेंद पर नाबाद 92 रन की पारी खेली. (PIC:AFP)

न्यूजीलैंड को इस साल भारत में होने वाले टी20 वर्ल्ड (T20 World Cup 2021) कप से पहले ही डेवॉन कॉनवे (Devon Conway) के रूप में एक विस्फोटक बल्लेबाज मिल गया. कॉनवे को अभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 5 महीने ही हुए हैं. लेकिन इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने अपनी आक्रामक बल्लेबाजी के दम पर ये दिखा दिया है कि वो भविष्य में विरोधियों के लिए बड़ा खतरा साबित होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 9:47 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. न्यूजीलैंड को इस साल भारत में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 वर्ल्ड (T20 World Cup 2021) कप से पहले ही डेवॉन कॉनवे (Devon Conway) के रूप में एक विस्फोटक बल्लेबाज मिल गया. कॉनवे को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखे सिर्फ 5 महीने ही हुए हैं. लेकिन इन पांच महीनों में ही उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से साबित कर दिया कि वो यहां लंबा रूकने के लिए आए हैं. अगर वो अपने मौजूदा फॉर्म को बरकरार रखने में सफल होते हैं तो इस साल टी20 वर्ल्ड कप में जरूर विरोधी टीमों की नींद उड़ा देंगे.

उन्होंने रविवार को बांग्लादेश के खिलाफ पहले टी20 में 52 गेंद पर नाबाद 92 रन की पारी खेलकर इसे साबित भी किया. टीम का पहला विकेट एक रन पर गिर जाने के बाद भी कॉनवे ने आक्रामक बल्लेबाजी जारी रखी और पहले मार्टिन गुप्टिल के साथ दूसरे विकेट के लिए 52 और फिर डेब्यू मैच खेल रहे विल यंग के साथ तीसरे विकेट के लिए 105 रन की साझेदारी की. इस दौरान कॉनवे ने 37 गेंद पर अपने पचास रन पूरे किए. पहले 50 रन 37 गेंद पर बनाने वाले कॉनवे ने अगले 42 रन सिर्फ 15 गेंद में ठोक डाले. उन्होंने 52 गेंद पर नाबाद 92 रन बनाए. उनकी बदौलत न्यूजीलैंड ने 20 ओवर में 3 विकेट पर 210 रन बनाए.

2017 में दक्षिण अफ्रीका से न्यूजीलैंड आए थे
कॉनवे मूल रूप से दक्षिण अफ्रीका के हैं और 2009 में उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया था. कुछ साल दक्षिण अफ्रीका में खेलने के बाद वो 2017 में न्यूजीलैंड आ गए थे. इसके चार साल के भीतर वो इस देश के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने लगे. इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने नवंबर 2020 में न्यूजीलैंड के लिए टी20 क्रिकेट में डेब्यू किया था. इसके बाद से वो अब तक 12 टी20 खेल चुके हैं. इसमें उन्होंने 65 से ज्यादा की औसत से 458 रन बनाए हैं. उनका स्ट्राइक रेट भी 150 से ज्यादा का रहा है. इस मैच से पहले तक वो 11 टी20 में में 3 अर्धशतक लगा चुके हैं. वहीं, तीन बार तीस या उससे ज्यादा रन बना चुके हैं. इस फॉर्मेट में उन्होंने 36 चौके और 11 छक्के लगाए हैं.

यह भी पढ़ें:

TOP 10 Sports News: बीसीसीआई ने आईपीएल से सॉफ्ट सिग्नल को हटाया, सचिन-यूसुफ हुए कोरोना पॉजिटिव

IND vs ENG: टीम इंडिया के पास इंग्लैंड को फिर झटका देने का मौका, 7 साल से ऐसा नहीं हुआ



डेब्यू वनडे सीरीज में कॉनवे ने 225 रन बनाए

इसी महीने उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ ड्यूनेडिन में वनडे डेब्यू किया था. पहले मैच में तो वो 27 रन बना सके. लेकिन सीरीज के दूसरे मैच में उन्होंने 72 और आखिरी वनडे में 110 गेंद पर 126 रन की आतिशी पारी खेली. उनकी इस पारी की बदौलत न्यूजीलैंड न सिर्फ मैच जीता, बल्कि बांग्लादेश को तीन वनडे की सीरीज में क्लीन स्वीप किया. वनडे सीरीज में उन्होंने कुल 225 रन बनाए और उन्हें मैन ऑफ द सीरीज चुना गया. इसके बाद से ही उन्हें न्यूजीलैंड की टेस्ट टीम में जगह देने की मांग उठने लगी है.

फैंस यही चाह रहे हैं कि कॉनवे 18 जून भारत के खिलाफ साउथैम्प्टन में होने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल खेलें. उनके अंतरराष्ट्रीय करियर पर अगर नजर डालें तो वो वनडे, टी20 मिलाकर 15 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं. इसमें उन्होंने 5 अर्धशतक और एक शतक लगाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज