होम /न्यूज /खेल /'विश्वास ने मेरे करियर को बदल डाला...' दिल्ली T20 में जीत के हीरो रहे डेविड मिलर ने भरी हुंकार

'विश्वास ने मेरे करियर को बदल डाला...' दिल्ली T20 में जीत के हीरो रहे डेविड मिलर ने भरी हुंकार

डेविड मिलर ने भारत के खिलाफ पहले टी20 मैच में नाबाद 64 रन की पारी खेली. (Instagram)

डेविड मिलर ने भारत के खिलाफ पहले टी20 मैच में नाबाद 64 रन की पारी खेली. (Instagram)

David Miller on his Career: डेविड मिलर की धमाकेदार पारी के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने नई दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. दक्षिण अफ्रीका को भारत (IND v SA 1st T20) के खिलाफ पहले टी20 में रिकॉर्ड जीत दिलाने में डेविड मिलर (David Miller) और रासी वान डर डुसेन ने अहम भूमिका निभाई. मेहमान प्रोटियाज टीम ने टीम इंडिया की ओर से रखे गए 212 रनों के विशाल लक्ष्य को 5 गेंद बाकी रहते हासिल कर लिया. दक्षिण अफ्रीका की टी20 में रनों का पीछा करते हुए यह सबसे बड़ी जीत है. उधर, भारत का लगातार 12 मैचों से चला आ रहा विजय अभियान भी थम गया. जीत के बाद मिलर ने कहा कि विश्वास एक ऐसी चीज है जिसने उनके करियर को बदल दिया.

डेविड मिलर ने 31 गेंदों पर 4 चौकों और 5 छक्कों की मदद से नाबाद 64 रन बनाए. एक समय दक्षिण अफ्रीका ने 81 के कुल स्कोर पर अपने तीन विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद मिलर ने रासी वान डर डुसेन (Rassie van der Dussen)  के साथ पारी को संभाला. दोनों बल्लेबाजों ने चौथे विकेट के लिए 131 रन की अटूट साझेदारी कर अपनी टीम को रोमांचक जीत दिला दी. डुसेन ने 46 गेंदों पर 7 चौकों और पांच छक्कों की मदद से नाबाद 75 रन बनाए.

यह भी पढ़ें:IND v SA 1st T20 Match Report: ईशान की अर्धशतकीय पारी बेकार, मिलर और डुसेन ने भारत के जबड़े से छीनी जीत

IND vs SA: टीम इंडिया नहीं बना सकी 13 टी20 मैच जीतने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, श्रेयस अय्यर बने विलेन

‘चेज करते समय दो खिलाड़ियों की जरूरत होती है’

‘मैच ऑफ द मैच’ चुने गए मिलर ने कहा, ‘निश्चिततौर पर मुझे पिछले कुछ वर्षों में अपने खेल को बेहतर ढंग से समझने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी. जब आप चेज कर रहे होते हैं तो दो खिलाड़ियों की जरूरत होती है. रासी ने कुछ बड़े ओवरों के साथ दूसरे छोर पर शानदार प्रदर्शन किया. मैंने उनसे यही कहा कि क्रीज पर रूकने का प्रयास करो. विश्वास एक ऐसी चीज है जिसने मेरे करियर को बदल दिया. ज्यादा से ज्यादा मैच जीतने और अधिक निरंतरता से आपका विश्वास बढ़ता है. मैं किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी के लिए तैयार हूं.’

लक्ष्य का पीछा करते हुए साउथ अफ्रीका की सबसे बड़ी जीत 

इससे पहले साउथ अफ्रीका ने टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 206 रन का लक्ष्य वेस्टइंडीज के खिलाफ साल 2007 में हासिल किया था. भारत के खिलाफ भी दक्षिण अफ्रीका की यह सबसे बड़ी रन चेज है. आईसीसी की फुल मेंबर टीमों के खिलाफ यह चौथे विकेट के लिए दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है. पहले नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर और ग्लेन मैक्सवेल की जोड़ी है, जिन्होंने साल 2016 में चौथे विकेट पर जोहांसबर्ग में 161 रन की साझेदारी की थी.

Tags: David Miller, Ind vs sa, India vs South Africa, Indian Cricket Team, Team india

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें