लाइव टीवी
Elec-widget

डेविड वॉर्नर की फब्तियां सुनकर बेन स्‍टोक्‍स ने ठोका था करिश्‍माई शतक, ऑस्‍ट्रेलिया से छीन ली थी जीत

भाषा
Updated: November 14, 2019, 10:33 PM IST
डेविड वॉर्नर की फब्तियां सुनकर बेन स्‍टोक्‍स ने ठोका था करिश्‍माई शतक, ऑस्‍ट्रेलिया से छीन ली थी जीत
हेडिंग्‍ले टेस्‍ट में बेन स्‍टोक्‍स ने शतक लगाकर इंग्‍लैंड को जिताया था.

एशेज सीरीज (Ashes Series) के हेडिंग्‍ले टेस्‍ट (Headingley Test) में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ शतक के बारे में बेन स्‍टोक्‍स (Ben Stokes) ने बड़ा खुलासा किया.

  • भाषा
  • Last Updated: November 14, 2019, 10:33 PM IST
  • Share this:
मेलबर्न: इंग्लैंड (England) की विश्व कप विजेता टीम के नायक रहे बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने खुलासा किया कि हेडिंग्ले (Headingley) में एशेज टेस्ट (Ashes Test) में उनके अकेले दम पर टीम को जीत दिलाने का श्रेय डेविड वॉर्नर (David Warner)  को जाता है. उन्‍होंने कहा कि इस जीत का क्रेडिट वॉर्नर के उन्हें परेशान करने के प्रयासों को जाता है जिन्होंने मैदान पर फब्तियां कसकर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया. अपनी नई किताब ‘ऑन फायर’ में स्टोक्स ने कहा कि वह वॉर्नर ही थे जिन्होंने उन्हें प्रेरित किया और उनकी टीम को बचाया जिससे उन्होंने उस टेस्‍ट में ऑस्ट्रेलियाई टीम को ट्रॉफी रखने से रोक दिया था.

'वॉर्नर चुप ही नहीं हो रहा था'
स्टोक्स ने ‘डेली मिरर’ में प्रकाशित किताब के अंश में खुलासा किया, ‘मुझे तीसरे दिन शाम के समय मैदान में कुछ बातें कही गई थीं और उनके कारण ही मैं ज्यादा ही प्रेरित किया. कुछ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कुछ ज्यादा ही बोल रहे थे, लेकिन डेविड वॉर्नर मुझे ज्यादा ही परेशान करता दिख रहा था. वह चुप ही नहीं हो रहा था. मैं किसी और से तो यह सब सुन भी लेता, लेकिन सच कहूं तो उससे नहीं.’

engalnd australia test, ashes series 2019, ben stokes headingle test, ashes series headingle test, ben stokes book, david warner sledging, बेन स्‍टोक्‍स हेडिंग्‍ले टेस्‍ट, एशेज सीरीज 2019, बेन स्‍टोक्‍स डेविड वॉर्नर, बेन स्‍टोक्‍स किताब
बेन स्‍टोक्‍स के लिए साल 2019 काफी गजब का गुजरा है.


हेडिंग्‍ले टेस्‍ट से पहले 1-0 से पीछे था इंग्‍लैंड   
एशेज सीरीज के दौरान इंग्‍लैंड की टीम एजबेस्‍टन टेस्‍ट हारने के बाद 1-0 से पीछे थी. इसके बाद हेडिंग्‍ले टेस्‍ट की पहली पारी में भी मेजबान टीम 67 रन पर सिमट गई तो लगा कि उसके हाथ से एशेज सीरीज निकल गई. ऑस्‍ट्रेलिया ने इंग्‍लैंड के सामने इस टेस्‍ट में 359 रन का लक्ष्‍य रखा. इंग्‍लैंड की टीम इसका पीछा करते हुए लड़खड़ा रही थी. बेन स्‍टोक्‍स मैच के तीसरे दिन क्रीज पर आए और खेल खत्‍म होने तक 2 रन बनाकर नाबाद रहे. इसके बाद चौथे दिन बेन स्‍टोक्‍स ने एक छोर थामे रखा.

आखिरी विकेट के लिए जोड़े 76 रन
Loading...

उन्‍होंने आखिरी विकेट के लिए जैक लीच के साथ 76 रन की साझेदारी की. इस पार्टनरशिप में लीच का योगदान केवल एक रन था और वह भी तब आया जब इंग्‍लैंड को जीत के लिए 2 रन चाहिए थे. स्‍टोक्‍स ने आखिरी विकेट की साझेदारी के लिए तूफानी अंदाज में बल्‍लेबाजी की और इंग्‍लैंड को ऐतिहासिक जीत दिला दी.

ऑस्‍ट्रेलिया ने ओल्‍ड ट्रैफर्ड टेस्‍ट जीतकर एशेज अपने नाम कर ली थी. वहीं इंग्‍लैंड ने द ओवल में खेला गया आखिरी मुकाबला जीतकर एशेज सीरीज को ड्रॉ कर दिया था. 1972 के बाद पहली बार एशेज सीरीज ड्रॉ हुई थी.

राहुल द्रविड़ को बड़ी राहत, हितों के टकराव के मामले में बरी

जिसे KXIP ने 1 मैच नहीं खिलाया उसकी ताबड़तोड़ बैटिंग, बुरी तरह हारी दिल्‍ली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 10:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...