• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • बड़ा खुलासा: फंसे हुए फाइनल मैच में सिगरेट पीकर बेन स्‍टोक्‍स ने इंग्‍लैंड को बनाया था विश्‍व चैंपियन!

बड़ा खुलासा: फंसे हुए फाइनल मैच में सिगरेट पीकर बेन स्‍टोक्‍स ने इंग्‍लैंड को बनाया था विश्‍व चैंपियन!

इंग्‍लैंड को पहली बार विश्‍व विजेता बनाने में बेन स्‍टोक्‍स का सबसे बड़ा हाथ था (फाइल फोटो)

इंग्‍लैंड को पहली बार विश्‍व विजेता बनाने में बेन स्‍टोक्‍स का सबसे बड़ा हाथ था (फाइल फोटो)

एक किताब में खुलासा किया गया कि बेन स्टोक्स (Ben Stokes) कई बार लॉर्ड्स में खेल चुके थे और वह चप्पे- चप्पे से वाकिफ थे. इसी वजह से कैमरों की नजर के बीच भी जगह ढूंढ ली

  • Share this:
    क्राइस्टचर्च. इंग्लैंड की विश्व कप जीत से संबंधित एक नई किताब में खुलासा किया गया है कि स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने न्यूजीलैंड के खिलाफ फाइनल में सुपर ओवर से पहले खुद को तनावमुक्त करने के लिए ‘सिगरेट ब्रेक’लिया था. इंग्लैंड ने ठीक एक साल पहले न्यूजीलैंड को विवादास्पद बाउंड्री की गिनती के आधार पर हराकर पहली बार विश्व कप जीता था. फाइनल मैच टाई रहा था और इसके बाद सुपर ओवर भी बराबरी पर छूटा था.

    इस ऐतिहासिक उपलब्धि के एक साल पूरे होने पर एक किताब ‘'मॉर्गन मेन: द इनसाइड स्टोरी ऑफ इंग्लैंड राइज ऑफ क्रिकेट वर्ल्ड कप ह्यूमिलीऐशन टु ग्लोरी’ में खुलासा किया गया है कि लार्ड्स में उस दिन स्टोक्स कैसे दबाव में थे.

    लॉर्ड्स के चप्‍पे- चप्‍पे से वाकिफ थे स्‍टोक्‍स

    निक हॉल्ट और स्टीव जेम्स द्वारा लिखी गयी किताब के कुछ अंश स्टफ.सीओ.एनजेड में प्रकाशित हुए हैं, जिसके अनुसार, ‘‘सुपर ओवर से पहले 27 हजार दर्शकों से भरे स्टेडियम में और हर तरफ लगी कैमरों की नजर के बीच एकांत ढूंढना मुश्किल था. इसमें कहा गया है कि लेकिन बेन स्टोक्स कई बार लॉर्ड्स में खेल चुके थे और इसके चप्पे चप्पे से वाकिफ थे. जब ऑएन मोर्गन इंग्लैंड के ड्रेसिंग रूम में तनाव कम करने की कोशिश कर रहे थे और रणनीति तैयार करने में लगे थे तो तब स्टोक्स ने अपने लिए शांति के कुछ पल निकाले.

    यह भी पढ़ें :

    आज ही के दिन पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बना था इंग्लैंड, फाइनल में ऐसे टूटा न्यूजीलैंड का दिल

    दो रणजी सीजन में बनाए 800 से ज्यादा रन, अब टीम इंडिया में आने के लिए उठाया ये बड़ा कदम
    सिगरेट जलाकर शांति से बिताए कुछ पल

    किताब के अनुसार, ‘‘स्‍टोक्‍स धूल और पसीने से लथपथ थे. उन्‍होंने तनाव भरे क्षणों में दो घंटे 27 मिनट तक बल्लेबाजी की थी. स्टोक्स ने क्या किया. वह वापस इंग्लैंड के ड्रेसिंग रूम में गए और शॉवर लेने के लिए चले गए. वहां उन्‍होंने सिगरेट जलाई और कुछ मिनट शांति से बिताए. स्टोक्स को उनकी नाबाद 84 रन की पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया. उन्होंने सुपर ओवर में भी आठ रन बनाए थे जिससे इंग्लैंड यादगार जीत दर्ज करने में सफल रहा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज