142 साल बाद टेस्ट क्रिकेट में अब होने वाले हैं ये बड़े बदलाव

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में पहले से ही घरेलू क्रिकेट में जर्सी पर नंबर का इस्तेमाल किया जाता है

News18Hindi
Updated: March 19, 2019, 1:13 PM IST
142 साल बाद टेस्ट क्रिकेट में अब होने वाले हैं ये बड़े बदलाव
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: March 19, 2019, 1:13 PM IST
मैचों को दिलचस्प बनाने के लिए वनडे क्रिकेट में लगातार बदलाव होते रहते हैं. अब इसी कड़ी में टेस्ट क्रिकेट में भी बदलाव की तैयारी चल रही है. अब यहां भी वनडे की तरह खिलाड़ियों की जर्सी पर नंबर और नाम लिखा होगा. इसकी शुरुआत इस साल एशेज से होने वाली है.

दरअसल इसी साल टेस्ट चैम्पियनशिप की शुरुआत हो रही है. इसी के तहत आईसीसी ने कहा है कि खिलाड़ी यहां भी नाम और नंबर का इस्तेमाल करेंगे. हालांकि जर्सी का रंग नहीं बदलेगा और खिलाड़ी सफेद कपड़ों में ही खेलेंगे. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की वेबसाइट के मुताबिक इस नए बदलाव को लेकर तैयारी शुरू हो गई है.

साल 1877 में पहला टेस्ट खेला गया था. तब से लेकर अब तक खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट में सफेद कपड़ों का ही इस्तेमाल करते आए हैं. बाद में खिलाडियों की टोपी पर नंबर लिखा जाने लगा. ये नंबर ये बताता था कि वो टेस्ट में अपने देश के लिए कौन से नंबर के खिलाड़ी हैं.

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में पहले से ही घरेलू क्रिकेट में जर्सी पर नंबर का इस्तेमाल किया जाता है. जबकि भारत में रणजी ट्रॉफी में खिलाड़ी जर्सी पर किसी भी नंबर का इस्तेमाल नहीं करते हैं. यहां सिर्फ वनडे और टी-20 के घरेलू टूर्नामेंट में नंबर और नाम का इस्तेमाल किया जाता है.

बता दें कि टेस्ट खेलने वाली टॉप 9 टीमें टेस्ट चैम्पियनशिप में हिस्सा लेंगी. 2 साल के दौरान टीमें घर और विदेश दोनों जगहों पर 3-3 सीरीज खेलेंगी. टॉप पर रहने वाली 2 टीमों के बीच फाइनल होगा. इसका फाइनल जुलाई 2021 में खेला जाएगा.

ये भी पढ़ें:

वर्ल्ड कप से पहले सचिन की टीम इंडिया को दी सलाह
Loading...

एक बार भी नहीं जीता IPL, लेकिन इन 4 मामलों में कोई नहीं है RCB के आसपास!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...