शुभमन गिल के अंपायर से भिड़ने पर इस दिग्‍गज को आया गुस्‍सा, कहा- इंडिया ए की कप्‍तानी छीन लो

भारत ए (India A) टीम के कप्तान शुभमन गिल (Shubman Gill) ने दिल्ली के खिलाफ मैच के दौरान पहले दिन विकेट के पीछे कैच आउट होने के बावजूद क्रीज नहीं छोड़ी थी.
भारत ए (India A) टीम के कप्तान शुभमन गिल (Shubman Gill) ने दिल्ली के खिलाफ मैच के दौरान पहले दिन विकेट के पीछे कैच आउट होने के बावजूद क्रीज नहीं छोड़ी थी.

भारत ए (India A) टीम के कप्तान शुभमन गिल (Shubman Gill) ने दिल्ली के खिलाफ मैच के दौरान पहले दिन विकेट के पीछे कैच आउट होने के बावजूद क्रीज नहीं छोड़ी थी.

  • Share this:
नई दिल्ली: अपने जमाने के दिग्गज स्पिनर बिशन सिंह बेदी (Bishan Singh Bedi) ने शनिवार को शुभमन गिल  (Shubman Gill) की मोहाली में रणजी मैच के दौरान मैदानी अंपायर से बहस करने के लिये आलोचना की और उनके व्यवहार को ‘उग्र’ और ‘निर्लज्ज’ करार दिया. भारत ए (India A) टीम में सीमित ओवरों के कप्तान 20 वर्षीय गिल ने दिल्ली के खिलाफ मैच के दौरान पहले दिन विकेट के पीछे कैच आउट होने के बावजूद क्रीज नहीं छोड़ी. इसके बाद उन्होंने अंपायर से बहस की और मैदानी अंपायरों की बातचीत के बाद फैसला बदल दिया गया.

'इस तरह का उग्र व्यवहार माफी योग्य नहीं'
बेदी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘किसी का भी इस तरह का उग्र व्यवहार माफी योग्य नहीं है. कम से कम भारत ए के प्रस्तावित कप्तान से ऐसी उम्मीद नहीं की जाती है.’ गिल को न्यूजीलैंड दौरे के लिये भारत ए का कप्तान नियुक्त किया गया है. बेदी ने संकेतों में उन्हें भारत ए की कप्तानी से हटाने की मांग भी की.

bishan singh bedi shubman gill, shubman gill controversy, shubman gill india a, शुभमन गिल विवाद, शुभमन गिल अंपायर से भिड़े, बिशन सिंह बेदी शुभमन गिल
बिशन सिंह बेदी का ट्वीट.

'किसी संतुलित व्यक्ति को भारत ए की कप्तानी सौंप देनी चाहिए'


उन्होंने कहा, ‘कोई कितना भी प्रतिभाशाली क्यों न हो, कोई भी खिलाड़ी मैच से बड़ा नहीं हो सकता. उदाहरण पेश करना जरूरी है, रेफरी को भी डराया जाए इससे पहले ही किसी संतुलित व्यक्ति को भारत ए की कप्तानी सौंप देनी चाहिए.’

10 मिनट तक रुका रहा था मैच
बता दें कि शुभमन गिल शुक्रवार को रणजी ट्रॉफी के दौरान दिल्ली के खिलाफ मैच में आउट दिए जाने के बाद मैदान पर अंपायर से भिड़ गए थे. इस वजह से दस मिनट तक खेल रोकना पड़ा. भारत ए टीम के कप्तान ने सुबोध भाटी की गेंद पर विकेट के पीछे लपके जाने के बाद क्रीज छोड़ने से इनकार कर दिया. अंपायर के साथ उनकी बहस भी हुई. मैदानी अधिकारियों से मशविरे के बाद अंपायर ने फैसला बदला. उस समय गिल 10 रन बनाकर खेल रहे थे लेकिन वह ज्यादा देर टिक नहीं सके. वह 41 गेंद में 23 रन बनाकर सिमरजीत सिंह की गेंद पर आउट हुए.

रांची में खेली जा रही देवधर ट्रॉफी (Deodhar Trophy) के दूसरे मैच में इंडिया सी के कप्तान शुभमन गिल (Shubman Gill) ने 143 रन बनाए, मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने भी 120 रनों की पारी खेली
शुभमन गिल घरेलू क्रिकेट में पंजाब की ओर से खेलते हैं.


मिल सकती है सजा
अंपायर के फैसले पर नाराजगी व्यक्त करना ‘आचार संहिता’ का उल्लघंन है और ऐसी भी संभावना है कि मैच रैफरी पी रंगनाथन इस खिलाड़ी से बात करें. उन्हें चेतावनी लेकर भी छोड़ा जा सकता है या फिर लेवल एक उल्लघंन के अंतर्गत आरोपित किया जा सकता है. मैच रैफरी द्वारा किसी भी तरह के जुर्माने संबंधित फैसला चौथे दिन के खेल के खत्म होने के बाद ही घोषित होगा.

राहुल द्रविड़ की शरण में जाएंगे पृथ्वी शॉ, न्यूजीलैंड जाना खतरे में

तीनों फॉर्मेट में खेलने के कारण पड़ा फिटनेस पर असर - जसप्रीत बुमराह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज