लाइव टीवी

ऑस्ट्रेलिया से सीरीज जीतने के बाद बड़ा खुलासा, इस मामले में दुनिया के सबसे फिसड्डी कप्तानों में शामिल हैं विराट कोहली


Updated: January 20, 2020, 12:24 PM IST
ऑस्ट्रेलिया से सीरीज जीतने के बाद बड़ा खुलासा, इस मामले में दुनिया के सबसे फिसड्डी कप्तानों में शामिल हैं विराट कोहली
टीम इंडिया का रिव्यू लेने का फैसला अक्सर गलत सा‌बित होता है

रिव्यू के मामले में टीम इंडिया (Team India) ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज, इंग्लैंड, श्रीलंका टीम से काफी कमजोर है.

  • Last Updated: January 20, 2020, 12:24 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुआई में टीम इंडिया (Team India) ने ऑस्ट्रेलिया को तीन मैचों की वनडे सीरीज में 2-1 से मात देकर क्रिकेट जगत में अपनी धाक जमाई. सीरीज का पहला मुकाबला 10 विकेट के अंतर से गंवाने के बाद भारत ने 36 रन से दूसरा वनडे और सात विकेट से तीसरा वनडे जीता. इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने साबित कर दिया कि उसके पास दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज, गेंदबाज और फील्डर्स मौजूद हैं, जो हर मामले में दुनिया की सभी टीमों से एक कदम आगे हैं. मगर एक मामले में टीम इंडिया की हालत बांग्लादेश टीम जैसी है और वो है रिव्यू के मामले में, ज‌हां पर टीम अधिकतर गलत साबित हो जाती है.

सही रिव्यू लेने के मामले में वेस्टइंडीज की टीम सबसे आगे है.


आंकड़ों को देखा जाए तो 2017 चैंपियंस ट्रॉफी से अभी तक भारत ने 40 बॉलिंग रिव्यू लिए हैं, जहां उनकी सफलता का प्रतिशत सिर्फ 28 फीसदी ही रहा. जबकि बांग्लादेश का 26 फीसदी है. इस मामले में वेस्टइंडीज की टीम सबसे ऊपर है. उनके लिए गए रिव्यू ज्यादातर सही साबित होते हैं.

40 में से भारत के 11 रिव्यू ही हुए सही साबित

2017 चैंपियंस ट्रॉफी से अभी तक भारत ने गेंदबाजी में 40 रिव्यू लिए हैं, जिसमें से उनके सिर्फ 11 रिव्यू ही सही साबित हुए, जबकि 21 रिव्यू गंवा दिए. जो बाकी टीमों के मुकाबले काफी ज्यादा है. इनके अलावा आठ रिव्यू पर अंपायर्स कॉल रहा. गेंदबाजी रिव्यू में भारत की सफलता का प्रतिशत सिर्फ 28 ही है.

cricket, team india, bowling drs, sports news,virat kohli, क्रिकेट, टीम इंडिया, रिव्यू, स्पोर्ट्स न्यूज, विराट कोहली
टीम इंडिया ने 2017 चैंपियंस ट्रॉफी से अभी तक कुल 21 रिव्यू गंवा दिए हैं.


सबसे सटीक रिव्यू लेने के मामले में वेस्टइंडीज (West Indies) की टीम सबसे आगे है. कम ही मौकों पर उनके रिव्यू गलत होते हैं. 2017 से अभी तक उन्होंने 22 रिव्यू लिए, जिसमें से 10 सही रहे, आठ गंवाए और 4 पर अंपायर्स कॉल रहा. उनकी सफलता का प्रतिशत 46 है. दूसरे नंबर पर श्रीलंका की टीम है. जो  46 रिव्यू में से 18 में सही, 20 में फेल रही और 8 पर अंपायर्स कॉल रहा. उनकी सफलता का प्रतिशत 39 है. श्रीलंका के बाद ऑस्ट्रेलिया कुल 25 रिव्यू में से 9 में सही, 13 गलत और 3 अंपायर्स कॉल के साथ तीसरे स्‍थान पर है. ऑस्ट्रेलिया का सफलता का प्रतिशत 36 है. इसके बाद इंग्लैंड का नंबर आता है. वर्ल्ड चैंपियन इंग्लैंड ने 2017 से अभी तक 31 रिव्यू लिए, जिसमें से 10 सही रहे और 15 में उसे नुकसान हुआ. 6 पर अंपायर्स कॉल रहा. उसकी सफलता का प्रतिशत 32 है.बांग्लादेश से थोड़ा ही आगे है भारत
इंग्लैंड (England) के बाद भारत का नंबर आता है. गेंदबाजी रिव्यू के मामले में भारत का सफलता का प्रतिशत 28 है, जबकि भारत के बाद 26 प्रतिशत के साथ बांग्लादेश, 21 के साथ न्यूजीलैंड, 15 के साथ पाकिस्तान, 13 के साथ साउथ अफ्रीका और नौ के साथ अफगानिस्तान का नंबर आता है.

यह भी पढ़ें :-

रोहित के जोड़ीदार का कमाल, '15 गेंदों में ठोक डाले 80 रन', जड़े 10 छक्‍के

प्रवीण कुमार तो बच गए, लेकिन इस खिलाड़ी ने डिप्रेशन की वजह से की खुदकुशी,और...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 11:36 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर