Home /News /sports /

'भारत के बिजनेसमैन ने दी रिश्वत, कोकीन और फिर ब्लैकमेल किया...' पूर्व कप्तान का हैरान करने वाला खुलासा

'भारत के बिजनेसमैन ने दी रिश्वत, कोकीन और फिर ब्लैकमेल किया...' पूर्व कप्तान का हैरान करने वाला खुलासा

जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान ब्रेंडन टेलर ने खुलासा किया है कि उन्हें स्पॉट फिक्सिंग के लिए मजबूर किया गया था. (AFP)

जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान ब्रेंडन टेलर ने खुलासा किया है कि उन्हें स्पॉट फिक्सिंग के लिए मजबूर किया गया था. (AFP)

जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान ब्रेंडन टेलर (Brendan Taylor) ने खुलासा किया है कि उन्हें भारत यात्रा के लिए 2019 में 15 हजार डॉलर दिए गए थे. इतना ही नहीं, एक भारतीय व्यवसायी ने उन्हें ड्रग्स दिए और उनका वीडियो शूट कर दिया. बाद में उन्हें स्पॉट फिक्सिंग के लिए मजबूर किया गया. हालांकि उन्होंने दावा किया कि वह कभी किसी तरह की फिक्सिंग में शामिल नहीं रहे.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान ब्रेंडन टेलर (Brendan Taylor) ने सोमवार को हैरान करने वाले खुलासे किए. उन्होंने इसके लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया. टेलर ने दावा किया कि एक भारतीय बिजनेसमैन ने उन्हें धोखे से कोकीन जैसा नशीला पदार्थ दिया और बाद में ब्लैकमेल किया. दाएं हाथ के इस क्रिकेटर ने यह भी खुलासा किया कि उस शख्स ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय मैचों में स्पॉट फिक्सिंग कराने की धमकी तक दी थी. टेलर को मानसिक और शारीरिक तौर पर इसका गलत असर पड़ा और वह अपने रिहैबिलिटेशन से गुजरने को तैयार हैं.

टेलर ने बताया कि यह घटना अक्टूबर 2019 में हुई, जब जिम्बाब्वे के खिलाड़ी वित्तीय संकट से जूझ रहे थे. उस वक्त देश का क्रिकेट बोर्ड खिलाड़ियों को फीस का भुगतान करने में भी विफल रहा था. वास्तव में, तब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने जिम्बाब्वे क्रिकेट (ZC) को बोर्ड में सरकार के हस्तक्षेप को रोकने में असमर्थ रहने के चलते निलंबित कर दिया था. उसी समय, एक भारतीय व्यवसायी ने प्रायोजन और जिम्बाब्वे में एक टी20 टूर्नामेंट शुरू करने को लेकर टेलर से संपर्क किया. क्रिकेटर को उनकी भारत यात्रा के लिए 15 हजार डॉलर की राशि भी दी गई थी.

इसे भी देखें, बेटी वामिका का फोटो वायरल होने पर आया विराट कोहली-अनुष्का का रिएक्शन

टेलर ने अपने पोस्ट में लिखा, ‘मैं थोड़ा सावधान था लेकिन समय ऐसा था कि हमें जिम्बाब्वे क्रिकेट द्वारा 6 महीने से भी फीस भुगतान नहीं किया गया था. यह संदिग्ध था कि क्या जिम्बाब्वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलना जारी रख पाएगा. इसलिए मैंने भारत की यात्रा की. साथ बैठे, चर्चा हुई. होटल में एक रात व्यवसायी और उनके सहयोगी मुझे जश्न मनाने के लिए डिनर पर लेकर गए.’

ब्रेंडन ने तब खुलासा किया कि धोखाधड़ी से उन्हें ड्रग्स का सेवन कराया और बाद में उन्हें ब्लैकमेल करने के लिए पूरी घटना का वीडियो भी बना लिया. टेलर ने कहा, ‘हमने शराब पी और शाम के दौरान उन्होंने मुझे खुलेआम कोकीन की पेशकश की, जिसका वह खुद भी सेवन कर रहे थे. मैंने भी मूर्खता से कोकीन ली. अगली सुबह, वही लोग मेरे होटल के कमरे में घुस गए और मुझे एक वीडियो दिखाया. मुझसे कहा कि अगर मैंने उनके लिए अंतरराष्ट्रीय मैचों में स्पॉट फिक्सिंग नहीं की तो वीडियो वायरल कर देंगे.’

इस पूरी घटना ने क्रिकेटर को भयानक मानसिक परेशानी में डाल दिया, लेकिन उन्होंने किसी भी तरह की फिक्सिंग में शामिल नहीं होने का दावा किया.इस बीच, टेलर ने यह भी उल्लेख किया कि आईसीसी उन पर कई साल का प्रतिबंध लगाने के लिए तैयार है और वह इसे स्वीकार करेंगे. उन्होंने युवाओं से इस कहानी से सीखने का भी आग्रह किया कि वे इस तरह के किसी जाल में न फंसें. उन्होंने कहा, ‘मैं धोखेबाज नहीं हूं. क्रिकेट के खूबसूरत खेल के लिए मेरा प्यार किसी भी तरह के खतरों से कहीं ज्यादा है.’

Tags: Cricket news, ICC, Match fixing, Zimbabwe

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर