कैमरन बैनक्रॉफ्ट का बड़ा खुलासा-ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को बॉल टेंपरिंग के बारे में पता था

कैमरन बैनक्रॉफ्ट ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के साथ (फोटो साभार- cbancroft4)

ऑस्ट्रेलिया के 28 वर्षीय बल्लेबाज कैमरन बैनक्रॉफ्ट (Cameron Bancroft) ने कहा है कि सैंडपेपर गेट स्कैंडल में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को बॉल टेंपरिंग के बारे में जानकारी थी. बैनक्रॉफ्ट को गेंद से छेड़छाड़ मामले में पकड़े जाने के बाद छह महीने के लिए बैन कर दिया गया था.

  • Share this:
    नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर कैमरन बैनक्रॉफ्ट ने कहा है कि ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों को बॉल टेंपरिंग की घटना के बारे में जानकारी थी. बैनक्रॉफ्ट साल 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन में खेले गए टेस्ट में गेंद को सैंडपेपर से रगड़ते हुए कैमरे में कैद हुए थे. इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें गेंद से छेड़छाड़ का दोषी मानते हुए छह महीने के लिए बैन कर दिया था. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस घटना के लिए कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर को भी दोषी माना था और इन दोनों खिलाड़ियों पर एक साल का प्रतिबंध लगाया था.

    द गार्जियन को दिए एक इंटरव्यू में जब बैनक्रॉफ्ट से पूछा गया कि क्या किसी गेंदबाज को इसके बारे में पता है? अपनी प्रतिक्रिया में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने कहा कि वह अपने कार्यों के लिए खुद जिम्मेदार है, लेकिन साथ ही कहा कि शायद इसके बारे में 'जानकारी' थी. उन्होंने कहा, 'देखिए, मैं बस इतना चाहता था कि कि मैंने मैदान पर जो किया, उसके लिए जिम्मेदार और जवाबदेह बनूं. हां, ये बात तो साफ है कि मैंने जो किया उससे गेंदबाजों को फायदा हुआ और इसके बारे में अलग से किसी जागरुकता की जरूरत नहीं थी. सबको पता था कि वो क्या कर रहे हैं? उन्होंने कहा कि अगर मुझे बेहतर जागरूकता होती तो मैं बेहतर निर्णय लेता. जब स्पष्ट शब्दों में फिर से पूछा गया, "तो कुछ गेंदबाजों को पता था?" रिपोर्ट के अनुसार बैनक्रॉफ्ट ने झिझकते हुए जवाब दिया, "उफ... देखिए, मुझे लगता है हां."

    इस घटना पर आगे बोलते हुए, बैनक्रॉफ्ट ने कहा कि वह अपने कार्यों से निराश थे, लेकिन उन्होंने अपनी गलतियों से सीखा है. उन्होंने कहा, "मैं निश्चित रूप से निराश था क्योंकि मैंने टीम को निराश किया और एक ऐसा कार्य किया जिसने मेरे मूल्यों से पूरी तरह समझौता किया. ऐसा लगा जैसे मैंने बहुत कुछ फेंक दिया हो.' बैनक्रॉफ्ट ने कहा, 'मैंने उस बिंदु तक बहुत अधिक निवेश किया जहां मैंने अपने मूल्यों पर नियंत्रण खो दिया. मेरे लिए जो महत्वपूर्ण हो गया था, वह था पसंद किया जाना. अपने साथियों के लिए वास्तव में महत्वपूर्ण महसूस करना, जैसे मैं क्रिकेट की गेंद पर सैंडपेपर का उपयोग करके कुछ योगदान दे रहा था. ऐसा कुछ है जो मुझे नहीं लगता कि मैं तब तक समझ पाया जब तक कि गलती नहीं हुई. लेकिन यह यात्रा का हिस्सा है और मुझे सीखने के लिए एक कठिन सबक की जरूरत है.'

    यह भी पढ़ें:

    विराट कोहली के पीछे पड़े वॉन, कहा-इंग्लैंड में भारतीय कप्तान से ज्यादा रन केन विलियमसन बनाएंगे

    न्यूजीलैंड के खिलाफ नहीं खेलेंगे इंग्लैंड के बड़े सितारे, लॉकडाउन से मानसिक स्वास्थ्य हुआ प्रभावित

    इस बल्लेबाज ने कहा, 'हां, मैंने जो भी गलती की, वह माफी के योग्य नहीं है लेकिन मैंने अपने और जीवन के बारे में जो कुछ भी सीखा है, उसके लिए मैं एक तरह से गलती के लिए आभारी हूं. यह एक दिलचस्प यात्रा रही है और मैं इसे दुनिया के लिए नहीं बदलूंगा. इसने मुझे बदल दिया. इसने मुझे क्रिकेट और रोजमर्रा की जिंदगी के साथ आने वाली चिंता और निराशा से निपटना भी सिखाया है. हमेशा चुनौतियां होने वाली हैं. ऐसा होने पर आप यथासंभव संतुलित रहने में सक्षम होते हैं.'