ICC World Cup : ...तो ऑलराउंडर पहुंचाएंगे अपनी टीमों को खिताबी मंजिल तक

क्रिकेट इतिहास इस बात का गवाह है कि फॉर्मेट कोई भी रहे अगर टीमों के पास विश्वस्तरीय ऑलराउंडर है तो उसका रुतबा काफी बढ़ जाता है. करिश्माई शख्सियत और X फैक्टर की बात करें तो सिर्फ हार्दिक पंड्या और बेन स्टोक्स इस दौड़ में सबसे आगे दिखते हैं।

विमल कुमार@Vimalwa | News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 11:23 AM IST
ICC World Cup : ...तो ऑलराउंडर पहुंचाएंगे अपनी टीमों को खिताबी मंजिल तक
क्रिकेट इतिहास इस बात का गवाह है कि फॉर्मेट कोई भी रहे अगर टीमों के पास विश्वस्तरीय ऑलराउंडर है तो उसका रुतबा काफी बढ़ जाता है. करिश्माई शख्सियत और X फैक्टर की बात करें तो सिर्फ हार्दिक पंड्या और बेन स्टोक्स इस दौड़ में सबसे आगे दिखते हैं।
विमल कुमार@Vimalwa | News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 11:23 AM IST
कपिल देव, इमरान ख़ान, रिचर्ड हेडली और इयान बॉथम. ये वो चौकड़ी है जिसे क्रिकेट जगत में महान ऑलराउंडर्स का दर्जा हासिल है. इन चारों दिग्गज़ों ने कभी गेंद से तो कभी बल्ले से और कुछ मौकों पर अपनी बेजोड़ कप्तानी से कई मैचों का रुख़ बदला. 70 और अस्सी के दशक में इन खिलाड़ियों की तूती बोलती थी और इनके खेल के चलते इनकी टीमों को ज़बरदस्त फायदा हुआ.

क्रिकेट इतिहास दरअसल इस बात का गवाह है कि फॉर्मेट चाहे कोई भी रहे अगर टीमों के पास कोई एक विश्व स्तरीय ऑलराउंडर है तो उसका रुतबा और पहचान ही अलग हो जाती थी. खिलाड़ी चाहे ऑस्ट्रेलिया के कीथ मिलर हों या फिर वेस्टइंडीज़ के गैरी सोबर्स... क्रिकेटप्रेमियों ने हमेशा इन खिलाड़ियों को ज़्यादा सराहा.

कैलिस का नाम भला कैसे भुलाया जा सकता है...

हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले जैक कैलिस के योगदान को कौन भुला सकता है? हर किसी ने इस बात को माना कि कैलिस के तौर पर दक्षिण अफ्रीका के पास हर मैच में 11 नहीं बल्कि 12 खिलाड़ी हुआ करते थे क्योंकि कैलिस किसी भी टीम में सिर्फ एक गेंदबाज़ या फिर सिर्फ एक बल्लेबाज़ के तौर पर शामिल हो सकते थे. बहरहाल, ये शायद मुमकिन नहीं हो कि आज के थकाऊ कैलेंडर में कोई भी खिलाड़ी कैलिस के रिकॉर्ड को तोड़े सके.

icc, cricket, icc cricket world cup 2019, hardik pandya, indian cricket team, world cup, allrounder, आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019, भारतीय क्रिकेट टीम, क्रिकेट, ऑलराउंडर, हार्दिक पांड्या, भारत वस श्रीलंका, वर्ल्ड कप, क्रिकेट वर्ल्ड कप, जैक कैलिस, jaques kallis
जैक कैलिस का नाम दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में लिया जाता है.


अगर मौजूदा वर्ल्ड कप की बात करें तो बांग्लादेश के शाकिब अल हसन, भारत के हार्दिक पंड्या, इंग्लैंड के बेन स्टोक्स, न्यूज़ीलैंड के लिए जिमी नीशम और कोलिन डि ग्रैंडहोम इस कैटेगरी में शामिल दिखते हैं. शाकिब के आंकड़े ज़ाहिर तौर पर सबसे बेहतर हैं और इसमें दो राय नहीं है कि कैलिस के बाद आधुनिक क्रिकेट के वो सबसे बड़े ऑलराउंडर हैं. वैसे तो नीशम और ग्रैंडहोम के आंकड़े भी मौजूदा वर्ल्ड कप में अच्छे हैं लेकिन करिश्माई शख्सियत और X फैक्टर की बात करें तो सिर्फ पंड्या और स्टोक्स ही इस दौड़ में सबसे आगे दिखते हैं. ये खिलाड़ी तेज़ गेंदबाज़ी करने वाले ऑलराउंडर हैं जो अपने बल्ले से भी मैच का रुख़ बदलने की काबिलियत रखते हैं.

...मगर तब वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के पास नहीं था कोई महान ऑलराउंडर
Loading...

वैसे ये जरूरी नहीं है कि टीमें असाधारण कामयाबी के लिए ऑलराउंडर्स पर ही निर्भर होती हैं. अस्सी के दशक में अपराजेय वेस्टइंडीज़ टीम के पास कोई ऑलराउंडर नहीं था. 1995 से लेकर 2005 तक दबदबे के दौर में ऑस्ट्रेलियाई टीम के पास भी कोई महान ऑलराउंडर नहीं था लेकिन इसके बावजूद वो इतिहास की शानदार टीमों में से एक रहीं. लेकिन, उन टीमों के पास बल्लेबाज़ या गेंदबाज़ के तौर पर एक या दो नहीं बल्कि 3-3 या 4-4 चैंपियन खिलाड़ी हुआ करते थे जो किसी ऑलराउंडर्स की कमी महसूस नहीं होने देते. सिक्के का दूसरा पहलू ये भी है कि दक्षिण अफ्रीका के पास पिछले 22 सालों में कैलिस के अलावा भी ब्रायन मैकमिलन, शॉन पोलाक, लांस क्लूज़नर और हैंसी क्रोन्ये समेत कई ऑलराउंडर मिले लेकिन वो फिर भी वे टीम को वर्ल्ड चैंपिंयन नहीं बना सके.

क्रिकेटप्रेमियों को भले ही अस्सी के दशक की तरह चार लाजवाब ऑलराउंडर एक साथ खेलते भले ही देखने को नहीं मिलें लेकिन मौजदा युवा ऑलराउंडर्स में भी वो काबिलियत है कि वो अपने लिए आधुनिक क्रिकेट में ऑलराउंडर के तौर पर एक अलग पहचान बना सकते हैं. और इसके लिए सबसे अच्छा मौका अपनी टीम को वर्ल्ड कप में ख़िताब दिलाने के अलावा और क्या होगा?

वर्ल्ड कप: श्रीलंका के खिलाफ मैच में इस खिलाड़ी को टीम इंडिया दे सकती है आराम

रोहित शर्मा ने चहल की तस्वीर पर की अजब टिप्पणी, लिखा - जूते तेरे चेहरे से बड़े हैं
First published: July 5, 2019, 11:12 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...