लाइव टीवी

ऑकलैंड टी20 से पहले कोहली का बड़ा बयान, कहा-न्यूजीलैंड के खिलाड़ी इतने अच्छे कि बदला...

News18Hindi
Updated: January 24, 2020, 11:32 AM IST
ऑकलैंड टी20 से पहले कोहली का बड़ा बयान, कहा-न्यूजीलैंड के खिलाड़ी इतने अच्छे कि बदला...
विराट कोहली की अगुआई में भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड का पिछला दौरा साल 2018 में किया था. (फाइल फोटो)

जुलाई 2019 में आईसीसी वर्ल्ड कप सेमीफाइनल (ICC World Cup Semifinal) में न्यूजीलैंड (New Zealand) ने भारतीय टीम (Indian Team) को 18 रन से मात दी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2020, 11:32 AM IST
  • Share this:
ऑकलैंड. भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच क्रिकेट के मैदान पर पिछली भिड़ंत जुलाई 2019 में हुई थी. तब इंग्लैंड में खेले गए आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल (World Cup Semifinal) में विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम को सेमीफाइनल में हार का मुंह देखना पड़ा ‌था. न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को 18 रन से हराकर फाइनल में जगह बनाई थी. भारत के पूर्व कप्तान और दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) का भी पिछला वही था, उसके बाद से ही धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूरी बनाए हुए हैं.

ऐसे में जबकि अब दोनों टीमें एक बार फिर से क्रिकेट के मैदान पर एक-दूसरे के सामने होंगी तो सबसे बड़ा सवाल यही है कि क्या टीम इंडिया वर्ल्ड कप सेमीफाइनल (World Cup Semifinal) में मिली हार का बदला न्यूजीलैंड को उसी के घर में हराकर ले सकेगी. इस बात की उम्मीद इसलिए भी अधिक है क्योंकि भारतीय टीम ने साल 2018 में पिछली बार न्यूजीलैंड का दौरा किया था तब टीम ने वनडे सीरीज में 4-1 से जीत दर्ज की थी, वहीं टी20 सीरीज में उसे करीबी अंतर से 2-1 से हार का सामना करना पड़ा था.



न्यूजीलैंड ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पेश किया उदाहरण
इसे लेकर जब भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) से सवाल पूछा गया तो उन्होंने इसका बड़ा मजेदार जवाब दिया. कोहली ने कहा, 'वास्तव में ऐसा नहीं है. अगर आप बदला लेने के बारे में सोचोगे भी तो ये खिलाड़ी इतने अच्छे हैं कि आप उस तरह से सोच ही नहीं पाओगे. सारा मामला मैदान पर कड़ी प्रतिस्पर्धा दिखाने का है. न्यूजीलैंड ऐसी टीम है, जिसने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सही उदाहरण स्‍थापित किया है. हम इस बात से खुश थे कि न्यूजीलैंड ने आईसीसी वर्ल्ड कप के फाइनल के लिए क्वालीफाई किया. जब आप हारते हैं तो आपको इसकी बड़ी तस्वीर देखनी चाहिए. इसलिए बदले जैसा कुछ भी नहीं है.'

cricket news, sports news, india vs new zealand, first t20, indian cricket team, virat kohli press conference, team india, rishabh pant, prithvi shaw, क्रिकेट न्यूज, इंडिया वस न्यूजीलैंड, विराट कोहली, इंडियन क्रिकेट टीम, विराट कोहली प्रेस कांफ्रेंस, पृथ्वी शॉ, केएल राहुल, ऋषभ पंत, ऑकलैंड टी20, पहला टी20
विराट कोहली ने पिछले न्यूजीलैंड दौरे पर वनडे सीरीज 4-1 से अपने नाम की थी. (एपी)


न्यूजीलैंड को फायदा, लेकिन हम भी यहां खेलने आए हैं...
विराट कोहली (Virat Kohli) से प्रेस कांफ्रेंस में दो सीरीज के बीच में लगातार कम होते जा रहे समय को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस बारे में ध्यान रखा जाना चाहिए. विराट ने साफ कर दिया कि भारतीय टीम न्यूजीलैंड को हल्के में लेने की भूल नहीं कर रही है. उन्होंने कहा, 'जीतने के लिए आपको अच्छा क्रिकेट खेलना ही होता है. हम जानते हैं कि वे घरेलू हालात में किस तरह हमारे खिलाफ उतर सकते हैं, इसलिए हम उन्हें हल्के में नहीं ले रहे हैं. वे इन हालात को बेहतर जानते हैं. उन्हें पिच और मैदान के कोण की अच्छी जानकारी है. उनके पास घरेलू फायदा है. मगर हम भी यहां खेलने आए हैं. तो हम निश्चित रूप से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे.'

cricket news, sports news, india vs new zealand, first t20, indian cricket team, virat kohli press conference, team india, rishabh pant, prithvi shaw, क्रिकेट न्यूज, इंडिया वस न्यूजीलैंड, विराट कोहली, इंडियन क्रिकेट टीम, विराट कोहली प्रेस कांफ्रेंस, पृथ्वी शॉ, केएल राहुल, ऋषभ पंत, ऑकलैंड टी20, पहला टी20
केन विलियम्सन की अगुआई में न्यूजीलैंड की टीम आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के फाइनल में पहुंची थी. (एपी)


हमेशा नतीजों से नहीं होना चाहिए आकलन
भारतीय कप्तान विराट कोहली की अक्सर इस बात को लेकर आलोचना की जाती है कि वे अभी तक अपनी कप्तानी में कोई आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत सके हैं. इस बारे में विराट ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि लीडरशिप का आकलन हमेशा नतीजों से किया जाना चाहिए. बल्कि फर्क इस बात से पड़ता है कि आप टीम को एकजुट कैसे करते हैं. खिलाड़ी आपकी अगुआई में बेहतर प्रदर्शन करें, ये अहम है. मुझे लगता है कि केन विलियम्सन ने बहुत अच्छी तरह ये काम किया है. सभी खिलाड़ी उन पर भरोसा और उनका सम्मान करते हैं. वह बेहद चतुर क्रिकेटर हैं. मुझे लगता है कि अगर कोई टीम आपको हराती है तो आपको ये स्वीकार करना होगा कि ये टीम की विफलता है न कि कप्तानी या लीडरशिप की. मेरा फोकस हमेशा टीम को आगे ले जाने का होता है न कि नतीजों के बारे में चिंतित होने पर मेरा ध्यान रहता है.

विराट कोहली ने किया प्लेइंग इलेवन का खुलासा! ऋषभ पंत की जगह मनीष पांडे खेलेंगे

क्रिकेट के इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा,स्लेजिंग करने से टूटा खिलाड़ी का जबड़ा!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 24, 2020, 11:25 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर