कोरोनावायरस के कारण स्थगित नहीं हुआ है महिला वर्ल्ड, जानिए क्या है असली वजह

कोरोनावायरस के कारण स्थगित नहीं हुआ है महिला वर्ल्ड, जानिए क्या है असली वजह
पिछली बार भारतीय महिला टीम फाइनल में पहुंची थी

न्यूजीलैंड (New Zealand) को महिला विश्व कप (Women World Cup) की मेजबानी अगले साल छह फरवरी से सात मार्च के बीच करनी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 10, 2020, 1:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आईसीसी (ICC) ने हाल ही में 2021 में न्यूजीलैंड में होने वाले महिला वर्ल्ड कप को स्थगित करने का फैसला किया गया था. इससे पहले आईसीसी ने इस साल ऑस्ट्रेलिया (Australia) में होने वाले पुरुष टी20 वर्ल्ड कप को भी स्थगित कर दिया था. फैंस को लग रहा था कि यह फैसला भी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण खिलाड़ियों की सुरक्षा को देखते हुए किया गया है लेकिन इसका असली कारण कुछ और ही है जो सीईओ आंद्रिया नेल्सन ने बताया.

खिलाड़ियों को मिलेगा तैयारी का समय
खिलाड़ियों के पास तैयारी के समय की कमी के कारण महिला विश्व कप स्थगित किया न्यूजीलैंड (New Zealand) में होने वाले महिला एकदिवसीय क्रिकेट विश्व कप की सीईओ आंद्रिया नेल्सन ने कहा है कि खिलाड़ियों के प्रतिनिधित्व को लेकर काफी कम समय से जुड़ी चिंताओं के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के महिला एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय विश्व कप को स्थगित किया गया और इस फैसले का न्यूजीलैंड में कोरोना वायरस को लेकर सुरक्षा मुद्दों से कुछ लेना देना नहीं है.

न्यूजीलैंड में कोरोना वायरस के काफी केस हैं
फरवरी 2021 में शुरू होने वाले महिला एक दिवसीय विश्व कप को कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए एक साल के लिए स्थगित कर दिया गया है. मेजबान न्यूजीलैंड हालांकि कोरोना वायरस से निपटने में सफल रहा है. देश में अब तक इस संक्रमण के सिर्फ 1569 पुष्ट मामले सामने आए हैं जिसमें से अधिकांश उबर चुके हैं. न्यूजीलैंड इस तरह इस वायरस से सबसे कम प्रभावित देशों में शामिल है.



आंद्रिया ने स्थानीय मीडिया समूह ‘एनजेडएमई’ से कहा, ‘टूर्नामेंट के लिए टीमों के क्वालिफाई करने के समय को देखते हुए ऐसा किया गया.’ क्वालिफायर टूर्नामेंट जुलाई में खेला जाना था लेकिन महामारी के कारण इसे स्थगित कर दिया गया. भारत, इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और मेजबान टीम पहले ही टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई कर चुकी हैं. टूर्नामेंट की बाकी तीन टीमों का फैसला क्वालीफायर के जरिए होगा और आंद्रिया ने इसी बिंदू पर जोर दिया.

खिलाड़ियों ने जताई थी निराशा
उन्होंने कहा, ‘इस टूर्नामेंट को लेकर हमने कई आपात योजनाएं बनाई जिससे कि सफलतापूर्वक आगे बढ़ने का सर्वश्रेष्ठ संभव मौका मिले. अंतत: क्रिकेट को ध्यान में रखकर टूर्नामेंट में विलंब का फैसला किया गया.’ आंद्रिया ने कहा, ‘अब तक क्वालिफाइंग टूर्नामेंट का आयोजन नहीं हो पाया है इसलिए क्वालिफाई करना और फिर 2021 में प्रतियोगिता में हिस्सा लेना काफी जोखिम भरा है.’

न्यूजीलैंड को महिला विश्व कप की मेजबानी अगले साल छह फरवरी से सात मार्च के बीच करनी थी. पिछले शुक्रवार को टेलीकांफ्रेंस के जरिए हुई आईसीसी बोर्ड बैठक में टूर्नामेंट को स्थगित करने का फैसला किया गया. इंग्लैंड की कप्तान हीथर नाइट और ऑस्ट्रलिया की विकेटकीपर एलिसा हीली टूर्नामेंट के स्थगित होने पर निराशा जता चुकी हैं लेकिन आंद्रिया का मानना है कि इससे खिलाड़ियों को तैयारी का अधिक समय मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज