चामिंडा वास ने 3 दिन में ही श्रीलंका का गेंदबाजी कोच पद छोड़ा, SLC ने कहा-फिरौती मांगने की कोशिश

चामिंडा वास ने विवाद के बाद छोड़ा श्रीलंका गेंदबाजी कोच का पद (फोटो-चामिंडा वास इंस्टाग्राम)

चामिंडा वास (Chaminda Vaas) 19 फरवरी को श्रीलंका के गेंदबाजी कोच नियुक्त किये गए थे लेकिन सोमवार को उन्होंने इस पद को छोड़ दिया, जानिए क्या है इसकी वजह.

  • Share this:
    नई दिल्ली. श्रीलंका क्रिकेट वेस्टइंडीज दौरे से पहले एक बार फिर मुसीबत में पड़ गया है. दरअसल श्रीलंका के गेंदबाजी कोच चामिंडा वास (Chaminda Vaas) ने दौरे से ठीक पहले अपने पद से इस्तीफा दे दिया. वास 3 दिन पहले ही 19 फरवरी को टीम के गेंदबाजी कोच नियुक्त हुए थे लेकिन सोमवार को उन्होंने अचानक से अपना पद छोड़ दिया. वास के इस्तीफे की वजह उनका श्रीलंका क्रिकेट एसोसिएशन से पैसों को लेकर विवाद को बताया जा रहा है.

    श्रीलंका क्रिकेट एसोसिएशन ने वास के अचानक इस्तीफे पर बेहद निराशा व्यक्त की और उन्होंने इस दिग्गज खिलाड़ी पर फिरौती मांगने का आरोप लगाया. श्रीलंका क्रिकेट की ओर से जारी प्रेस रिलीज के मुताबिक वास ने श्रीलंका क्रिकेट एसोसिएशन से अपना भत्ता बढ़ाने की मांग की लेकिन बोर्ड ने इससे इनकार कर दिया जिसके बाद उन्होंने अपना पद छोड़ दिया.

    श्रीलंका क्रिकेट ने वास पर लगाया फिरौती मांगने का आरोप
    श्रीलंका क्रिकेट की प्रेस रिलीज के मुताबिक- 'श्रीलंका के पूर्व क्रिकेटर चामिंडा वास ने गेंदबाजी कोच पद से इस्तीफा दे दिया है, उन्होंने ये भी बताया कि वो वेस्टइंडीज दौरे पर बतौर सपोर्ट स्टाफ नहीं जाएंगे. वास का इस्तीफा टीम के वेस्टइंडीज जाने से कुछ ही घंटों पहले आया है. ये बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि चामिंडा वास ने मुश्किल आर्थिक वक्त के बीच अपनी सैलरी बढ़ाने की बात कही और उसके बाद उन्होंने गैरजिम्मेदाराना कदम उठाया.' श्रीलंका क्रिकेट ने आगे कहा, 'श्रीलंका क्रिकेट और पूरा देश चामिंडा वास को देश का उच्च सम्मानीय क्रिकेट खिलाड़ी मानता है. उन्होंने देश के लिए बहुत कुछ हासिल किया है लेकिन ये बेहद ही निराशाजनक है कि इन हालातों में चामिंडा वास ने अपना इस्तीफा देकर खेल में फिरौती का सहारा लिया है.'

    IPL 2021: ग्लेन मैक्सवेल के 14.25 करोड़ में बिकने से दंग हैं डेविड वॉर्नर, कर दिया बुरी तरह ट्रोल

    श्रीलंका क्रिकेट के मुताबिक, 'चामिंडा वास बोर्ड के अनुबंधित कर्मचारी हैं लेकिन इसके बावजूद उन्होंने अपना वेतन बढ़ाने की अनुचित मांग की जिसे बोर्ड ने मानने से इनकार कर दिया. वास पहले ही अपने अनुभव, योग्यता और विशेषज्ञता के मुताबिक पारिश्रमिक हासिल कर रहे हैं.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.