Home /News /sports /

chandrakant pandit ranji champion coach said before ipl 2012 met shahrukh khan but could not agree to work under foreign coach

'शाहरुख खान से मिला, लेकिन...', 6 बार के रणजी चैम्पियन कोच चंद्रकांत पंडित ने बताया- क्यों IPL से नहीं जुड़े?

रणजी ट्रॉफी जीतने के बाद कोच चंद्रकांत पंडित मध्य प्रदेश के कप्तान आदित्य श्रीवास्तव के साथ. (BCCI Domestic/Twitter)

रणजी ट्रॉफी जीतने के बाद कोच चंद्रकांत पंडित मध्य प्रदेश के कप्तान आदित्य श्रीवास्तव के साथ. (BCCI Domestic/Twitter)

चंद्रकांत पंडित ने हाल ही में बतौर कोच मध्य प्रदेश क्रिकेट टीम के साथ अपना छठा रणजी ट्रॉफी खिताब जीता. वो इससे पहले, 3 बार मुंबई और 2 बार विदर्भ को चैम्पियन बना चुके हैं. इतने चमकदार प्रदर्शन के बावजूद वो कभी आईपीएल में किसी टीम से क्यों नहीं जुड़े? खुद चंद्रकांत पंडित ने हाल ही में इसकी वजह बताई है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारतीय घरेलू क्रिकेट में जब भी सबसे कामयाब कोच की बात होगी, तो सबसे पहले नाम चंद्रकांत पंडित का ही आएगा. उन्होंने हाल ही में मध्य प्रदेश को पहली बार रणजी ट्रॉफी का चैम्पियन बनाया. उनके लिए यह जीत इसलिए भी खास थी, क्योंकि वो बतौर कप्तान 1999 में मध्य प्रदेश को चैम्पियन बनाने से चूक गए थे. तब कर्नाटक ने फाइनल में मध्य प्रदेश के हाथ से जीत छीन ली थी. तब से ही उनके मन में इस हार की कसक थी, जो एमपी के पहली बार चैम्पियन बनने से दूर गई. यही वजह है कि जब मध्य प्रदेश ने रणजी ट्रॉफी के फाइनल में मुंबई को हराकर खिताब जीता, तो सख्त मिजाज कोच कहलाने वाले चंद्रकांत पंडित भी भावुक हो गए और उनकी आंखों से भी आंसू बह निकले.

    एक कोच के रूप में चंद्रकांत पंडित का रणजी ट्रॉफी का यह छठा खिताब है. वो इससे पहले लगातार 2 बार विदर्भ और तीन बार मुंबई को चैम्पियन बना चुके हैं. घरेलू क्रिकेट में एक कोच के रूप में इतने चमकदार प्रदर्शन के बावजूद पंडित कभी इंडियन प्रीमियर लीग की किसी टीम के साथ नजर नहीं आए. हाल ही में न्यूज एजेंसी पीटीआई से हुई बातचीत में चंद्रकांत पंडित ने यह बताया था कि आखिर क्यों वो इस टी20 लीग से नहीं जुड़े.

    मैं 2012 में शाहरुख खान से मिला था: चंद्रकांत 
    चंद्रकांत ने कहा, “अगर मैं किसी आईपीएल टीम को फोन करता, तो मुझे भी कुछ न कुछ मिल जाता. लेकिन, यह मेरा स्टाइल कभी था नहीं.” उन्होंने इस बातचीत के दौरान उन्होंने एक घटना को याद किया, जब वो आईपीएल 2012 सीज़न से पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के मुख्य ओनर और बॉलीवुड आइकन शाहरुख खान से मिले थे. तब उनसे केकेआर ने टीम में एक कोचिंग भूमिका के लिए संपर्क किया था. लेकिन उन्होंने इसे अस्वीकार कर दिया, क्योंकि वह एक विदेशी कोच के नीचे रहकर काम नहीं करना चाहते थे.

    ‘विदेशी कोच के नीचे नहीं काम करना चाहता था’
    उन्होंने आगे कहा,”2012 में मैं शाहरुख खान से मिला था. लेकिन मैं तब खुद को विदेशी कोच के नीचे काम करने के लिए राजी नहीं कर पाया.” 2012 में कोलकाता नाइट राइडर्स ने ऑस्ट्रेलियाई कोच ट्रेवर बेलिस की अगुआई में पहली बार आईपीएल का खिताब जीता था.

    ‘यह यादगार लम्हा है… 23 साल पहले मुझसे यहां कुछ छूट गया था,’ खिताबी जीत के बाद चंद्रकांत पंडित की आंखों से छलके आंसू

    मप्र भले ही पहली बार बना रणजी चैंपियन, पहले मध्य भारत का रहा दबदबा, सीके नायडू से लेकर आदित्य श्रीवास्तव तक

    ‘मध्य प्रदेश की जीत खास है’
    चंद्रकांत पंडित 60 साल से ऊपर के हो चुके हैं और अब शायद ही किसी राष्ट्रीय टीम के कोच की जिम्मेदजारी उन्हें मिले. लेकिन, इसका उन्हें कोई मलाल नहीं. पंडित ने कहा, “हर ट्रॉफी संतुष्टि देती है लेकिन यह खास है. मैं 23 साल पहले मध्य प्रदेश के कप्तान के रूप में ऐसा नहीं कर सका था. इतने सालों में मैंने हमेशा महसूस किया है कि मेरा कोई काम अधूरा रह गया, कुछ यहां छूट गया है. यही कारण है कि मैं मध्य प्रदेश के चैम्पियन बनने से थोड़ा अधिक उत्साहित और भावुक हूं”.

    Tags: Cricket news, IPL, Ranji Trophy, Shahrukh khan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर