खेल

IPL 2020: जीत की हकदार नहीं है एमएस धोनी की चेन्नई सुपरकिंग्स!

IPL 2020: चेन्नई सुपरकिंग्स पांचवां मैच हारी
IPL 2020: चेन्नई सुपरकिंग्स पांचवां मैच हारी

IPL 2020: Chennai Super Kings VS Royal Challengers Bangalore: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने चेन्नई सुपरकिंग्स को 37 रनों से हराया

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 11, 2020, 6:10 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वो टीम जो 3 बार आईपीएल जीत चुकी है. वो टीम जिसका कप्तान मिट्टी को छूकर सोना बना देता था. वो टीम जिसे हार को जीत में तब्दील करने की आदत थी, अब वही टीम आईपीएल 2020 में ऐसा प्रदर्शन कर रही है जिसे देख यकीन कर पाना मुश्किल हो रहा है. बात हो रही है चेन्नई सुपरकिंग्स की, जिसने इस सीजन में 7 में से 5 मैच गंवा दिये हैं. शनिवार को सीजन के 25वें मुकाबले में उसे आरसीबी ने एकतरफा अंदाज में 37 रनों से हरा दिया. चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) इस सीजन में नौसिखियों की तरह खेल रही है. ऐसा लग ही नहीं रहा है कि जैसे ये टीम तीन बार की आईपीएल चैंपियन हो. आइए आपको बताते हैं बैंगलोर के खिलाफ धोनी के धुरंधरों ने क्या गलतियां की?
चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजों ने 15 ओवरों तक बैंगलोर पर शिकंजा कसकर रखा लेकिन अंतिम 5 ओवर में उन्होंने बेहद खराब गेंदबाजी की. आखिरी 5 ओवरों में चेन्नई सुपरकिंग्स ने 74 रन लुटा डाले. मतलब चेन्नई के गेंदबाजों ने आखिरी 5 ओवर में लगभग 15 के इकॉनमी रेट से रन दिये. विराट कोहली और शिवम दुबे ने 34 गेंदों में 76 रनों की साझेदारी की, जिसकी वजह से एक समय 130 रनों तक पहुंचने के लिए जूझ रही बैंगलोर की टीम 169 रनों तक पहुंच गई.
दीपक चाहर और रवींद्र जडेजा को छोड़कर चेन्नई के सभी गेंदबाज महंगे साबित हुए. सैम क्ररन ने 4 ओवर में 48 रन दिये, शार्दुल ने 4 ओवर में 40 रन लुटाए. ब्रावो ने 3 ओवर में 29 दिये, कर्ण शर्मा ने 4 ओवर में 34 दिये.
चेन्नई सुपरकिंग्स की ओपनिंग एक मैच में चलने के बाद एक बार फिर नाकाम रही. बैंगलोर के खिलाफ डुप्लेसी बेहद ही खराब शॉट खेलकर 8 रन पर आउट हुए. शेन वॉटसन ने भी 14 ही रन बनाए. चेन्नई सुपरकिंग्स को इस टूर्नामेंट में अच्छी शुरुआत नहीं मिल पा रही है. दो मैचों में उसके ओपनरों ने दम दिखाया है लेकिन 5 मैचों में वो फेल रहे हैं.
चेन्नई सुपरकिंग्स का मिडिल ऑर्डर उसे लगातार मैच हरवा रहा है. सुरेश रैना के जाने से चेन्नई के बैटिंग ऑर्डर का संतुलन बिगड़ गया है. रायडू, धोनी, सैम कर्रन सभी बल्लेबाज रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. बैंगलोर के खिलाफ जगदीशन को मौका दिया, उन्होंने 33 रन भी बनाए लेकिन इसके लिए उन्होंने 28 गेंद खेलीं. चेन्नई हर मैच में एक जैसी गलतियां कर रही है तो सोचिए ये टीम कैसे जीत की हकदार हो सकती है?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज