चेतन चौहान ने बिना शतक जड़े बनाए थे 2 हजार से अधिक रन, दुनिया का कोई बल्‍लेबाज नहीं चाहता ये रिकॉर्ड तोड़ना

चेतन चौहान ने बिना शतक जड़े बनाए थे 2 हजार से अधिक रन, दुनिया का कोई बल्‍लेबाज नहीं चाहता ये रिकॉर्ड तोड़ना
पिछले महीने चेतन चौहान को कोरोना हो गया था

चेतन चौहान (Chetan chauhan) इस रिकॉर्ड को अपने नाम करने वाले दुनिया के दूसरे और भारत के पहले बल्‍लेबाज थे

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 16, 2020, 7:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पूर्व भारतीय सलामी बल्‍लेबाज चेतन चौहान (Chetan Chauhan) का निधन हो गया है. उन्‍होंने रविवार को अंतिम सांस ली. वह 73 साल के थे. चेतन चौहान पिछले महीने कोरोना (Coronavirua) की चपेट में आ गए थे, जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई. गुरुग्राम के एक अस्‍पताल में उन्‍हें वेंटिलेंटर पर रखा गया था, मगर तमाम कोशिशों के बावजूद डॉक्‍टर्स उन्‍हें बचा नहीं पाए.

चेतन चौहान हालांकि भारत की तरफ से ज्‍यादा मैच नहीं खेल पाए. मगर उन्‍होंने जितने भी मैच खेले, वो यादगार रहे. सुनील गावस्‍कर के साथ उनकी ओपनिंग जोड़ी को काफी खतरनाक माना जाता था. इस जोड़ी ने मिलकर टेस्‍ट क्रिकेट में 3 हजार से अधिक रन बनाए. द ओवल में इन जोड़ी के जो कोहराम मचाया था, वो आज भी भारतीय क्रिकेट के इतिहास में दर्ज है. मगर एक ऐसा रिकॉर्ड भी है, जो चेतन चौहान के नाम दर्ज है और इस रिकॉर्ड को शायद ही कोई क्रिकेटर तोड़ना चाहे.

इंटरनेशनल क्रिकेट में नहीं जड़ पाए एक भी शतक
73 साल के चेतन ने 1969 में टेस्‍ट क्रिकेट से इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्‍यू किया था और 1978 में उन्‍होंने वनडे क्रिकेट में डेब्‍यू किया. भारत की तरफ से उन्‍होंने 40 टेस्‍ट और 7 वनडे मैच खेले. टेस्‍ट क्रिकेट में 2 हजार से अधिक रन बनाने के बावजूद चेतन चौहान बदकिस्मत रहे कि उनके नाम एक भी इंटरनेशनल शतक नहीं जुड़ सका. वह टेस्‍ट क्रिकेट में इतिहास में बिना एक भी शतक जड़े 2 हजार से अधिक बनाने वाले दुनिया के दूसरे और भारत के पहले खिलाड़ी थे.
यह भी पढ़ें : 



सुनील गावस्‍कर के साथ मिलकर चेतन चौहान ने की थी इंग्लिश गेंदबाजों की जमकर धुनाई, रच दिया था इतिहास

चेतन चौहान के करियर की वो 10 बातें, जिसे शायद ही जानते होंगे फैंस

शेन वॉर्न के नाम है ये शर्मनाक रिकॉर्ड
बिना शतक जड़े सबसे ज्‍यादा रन जड़ने वाले बल्‍लेबाजों में पहला नाम शेन वॉर्न (Shane Warne) का आता है. उन्‍होंने बिना शतक जड़े 145 टेस्‍ट मैचों में 3 हजार 154 रन जड़े थे. हालांकि वह गेंदबाज थे. टेस्‍ट क्रिकेट में उनकी सर्वश्रेष्‍ठ पारी 99 रन की रही. जबकि चौहान ने 40 टेस्‍ट मैच में 2 हजार 84 रन बनाए और उनकी सर्वश्रेष्‍ठ टेस्‍ट पारी 97 रन की रही. चौहान के नाम 16 अर्धशतक हैं. वह दो बार नर्वस नाइटीज का शिकार हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज