लाइव टीवी

Coronavirus: मुश्किल समय में BCCI ने दिखाई दरियादिली, खिलाड़ियों का बकाया चुकाया

News18Hindi
Updated: April 10, 2020, 5:14 PM IST
Coronavirus: मुश्किल समय में BCCI ने दिखाई दरियादिली, खिलाड़ियों का बकाया चुकाया
बीसीसीआई के करीब 13 अरब रुपये आईसीसी के पास फंसे हुए हैं.

बीसीसीआई (BCCI) ने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) के कारण बनी अनिश्चितता के बावजूद वह किसी को परेशान नहीं होने देगी .

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2020, 5:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूरी दुनिया इस समय मुश्किल दौर से गुजर रही है. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने करीब 200 देशों को अपनी चपेट में ले लिया है, जिस कारण लोगों की जिंदगियां तो प्रभावित हुई ही है, साथ ही कुछ देश आर्थिक संकट के कगार पर पहुंच गए हैं. भारत भी इस महामारी से जूझ रहा है. जिस वजह से देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है. न तो कोई घर से बाहर निकल सकता है और न ही ऑफिस खुलेंगे. इसके कारण लोग घर में कैद होने को मजबूर हो गए हैं. इस मुश्किल समय में बीसीसीआई (BCCI) ने भी दरियादिली दिखाते हुए अनुबंधित खिलाड़ियों का बकाया चुका दिया है.

बीसीसीआई ने केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों की तिमाही बकाया राशि का भुगतान कर दिया है और कहा कि कोविड-19 के कारण बनी अनिश्चितता के बावजूद वह किसी को परेशान नहीं होने देंगे. कोरोना वायरस के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा है. इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे प्रमुख क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियों के वेतन में कटौती के संकेत दिए हैं. इस महामारी के कारण अभी तक विश्व भर में 95 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

ऐसी स्थिति के लिए तैयार थी बीसीसीआई
बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई से कहा कि लॉकडाउन 24 मार्च को घोषित किया गया और इसके बावजूद बीसीसीआई किसी भी तरह की स्थिति के लिए तैयार था. बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों की केंद्रीय अनुबंध भुगतान की तिमाही किश्त चुका दी है. उन्होंने कहा कि इसके अलावा इस दौरान भारत या भारत ए की तरफ से खेलने वाले सभी खिलाड़ियों का मैच शुल्क या सभी बकाये वित्तीय वर्ष के आखिर तक चुका दिए गए हैं.



इंटरनेशनल और घरेलू क्रिकेटर्स को कोई परेशानी नहीं 


बीसीसीआई अधिकारी ने कहा कि जब अन्य बोर्ड इस मुश्किल घड़ी में अपने घरेलू खिलाड़ियों को भुगतान करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं तब भारतीय बोर्ड की मजबूत वित्तीय स्थिति से मदद मिल रही है. उन्होंने कहा कि एक क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों को सरकारी अवकाश (सरकारी सहायत कार्यक्रम) पर रख दिया है. हर जगह वेतन में कटौती की बात चल रही है, लेकिन उन्‍हें विश्वास है कि बीसीसीआई हमेशा की तरह अपने खिलाड़ियों की अच्छी तरह से देखभाल करने में सक्षम है. उन्होंने कहा कि उनके इंटरनेशनल या घरेलू क्रिकेटरों को परेशानी नहीं होगी.

आईपीएल न होने से नुकसाान
अधिकारी ने हालांकि इस पर सहमति जताई कि इस साल के आखिर तक आईपीएल (IPL) का होना जरूरी है, क्योंकि अगर यह नहीं होता है तो सभी शेयरधारकों को वित्तीय नुकसान उठाना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि अभी यह नहीं कहा जा सकता है कि यह कब होगा. सितंबर में एशिया कप होना और इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला खेलना है या फिर अक्टूबर में जब टी20 विश्व कप का आयोजन होगा. अधिकारी ने कहा कि जब आप यही नहीं जानते कि चीजें कब तक सामान्य होंगी तो फिर यह कैसे कह सकते हैं कि आईपीएल कब होगा.

वेतन में कटौती के लिए तैयार इंग्लिश और ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ी
इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों ने खुले तौर पर स्वीकार किया है कि वे वेतन में कटौती के लिए तैयार हैं. ऑस्ट्रेलिया में केंद्रीय अनुबंध की घोषणा टाल दी गई है, जबकि इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने यार्कशर के अपने साथियों सहित सरकारी अवकाश पर जाने के लिए आवेदन किया है. इसके तहत ब्रिटिश सरकार वेतन का 80 प्रतिशत का भुगतान करती है जो कि 2500 पौंड तक हो सकता है.

(भाषा इनपुट के साथ )

जडेजा की नकल कर 'निशाने' पर आए वॉर्नर, कोहली ने दिया ऐसा रिएक्शन

कोरोना वायरस के बीच इस क्रिकेटर का हुआ निधन, सदमे में खेल जगत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 10, 2020, 5:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading