कोरोना का कहर, क्रिकेट बोर्ड के इन 40 लोगों पर मंडराया खतरा

कोरोना का कहर, क्रिकेट बोर्ड के इन 40 लोगों पर मंडराया खतरा
क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया 40 लोगों को नौकरी से निकालेगा (फाइल फोटो)

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण कई बोर्ड वित्‍तीय संकट से जूझ रहे हैं

  • Share this:
मेलबर्न. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (Cricket Australia) ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 (Covid-19) महामारी के कारण आए वित्तीय संकट से उबरने के लिए खर्चों में कटौती के प्रयासों के तहत वह वरिष्ठ प्रबंधन के बोनस में कटौती और 40 अन्य कर्मचारियों को बर्खास्त करने के अलावा ‘ए’ टीमों के अंतरराष्ट्रीय दौरों पर रोक लगाया जाएगा. क्रिकेटर्स के दौरों पर रोक लगाने की बात उठने से अब उनके भविष्‍य पर भी संकट मंडराने लगा रहा है. मंगलवार को त्यागपत्र देने वाले केविन रॉबर्ट्स की जगह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में अंतरिम मुख्य कार्यकारी का पद संभालने वाले निक हॉकले एक नई योजना लेकर आए हैं, जिसके अनुसार उनका मानना है कि यह खेल की ‘दीर्घकालिक स्थिरता और विकास’ सुनिश्चित करेगा.

महामारी के दौरान खेल की स्थिरता बनाए रखने के लिए लिया गया कड़ा फैसला
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की बुधवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार कर्मचारियों के सामने पेश की गई वित्त वर्ष 2021 की संशोधित योजना में वर्ष में लगभग चार करोड़ डॉलर की कटौती की पहचान की गई है, ताकि कोविड-19 के कारण पड़े रहे प्रभावों को आंशिक तौर पर कम किया जा सके. इसमें कहा गया है कि खेद के साथ कहना पड़ रहा है इसमें 40 लोगों को नौकरी से हटाना भी शामिल है. यह क्रिकेट के लिए मुश्किल दिन है.
अप्रैल में रॉबर्ट्स की अगुआई में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने 80 प्रतिशत स्टाफ को सरकारी खर्चे पर डाल दिया था. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चेयरमैन अर्ल एडिंग्स ने कहा कि यह कर्मचारियों के लिए मुश्किल समय है लेकिन यह फैसला इस महामारी के दौरान खेल की स्थिरता बनाए रखने के लिए किया गया है. शीर्ष संस्था ने इसके साथ वित्त वर्ष 2021 के लिए ऑस्ट्रेलिया ए के दौरों के अलावा क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया एकादश के कार्यक्रम, फॉक्स क्रिकेट राष्ट्रीय प्रीमियर क्रिकेट टी20 और टोयोटा सेकंड इलेवन प्रतियोगिताओं पर रोक लगाने का भी फैसला किया है.
गांगुली की बायोपिक में काम करना चाहते थे सुशांत, पूर्व कप्‍तान से हुई थी बातचीत, जानें फिर क्‍या हुआ



बड़ी खबर: अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया नहीं जाएगी भारतीय टीम! बीसीसीआई ने कह दी ये बात
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज