मैट पार्किंसन ने शेन वॉर्न की 'बॉल ऑफ द सेंचुरी' की याद दिलाई, वीडियो देखकर होगा यकीन

लैंकशर के लेग स्पिनर मैट पार्किंसन ने ऐसी गेंद फेंकी जिसकी तुलना शेन वॉर्न की बॉल ऑफ द सेंचुरी से हो रही. (County Championship twitter)

लैंकशर के लेग स्पिनर मैट पार्किंसन ने ऐसी गेंद फेंकी जिसकी तुलना शेन वॉर्न की बॉल ऑफ द सेंचुरी से हो रही. (County Championship twitter)

इंग्लैंड काउंटी चैम्पियनशिप 2021 (English County Championship 2021) में लैंकशर के लेग स्पिनर मैट पार्किंसन (Matt Parkinson) ने नॉर्थथैम्पटनशर (Northampshire) के बल्लेबाज एडम रॉसिंग्टन (Adam Rossington) को ऐसी गेंद पर क्लीन बोल्ड किया, जिसकी तुलना ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वॉर्न (Shane Warne) की 1993 में एशेज सीरीज में फेंकी गई बॉल ऑफ द सेंचुरी (Ball Of The Century) से हो रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2021, 12:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वॉर्न(Shane Warne) को क्रिकेट को अलविदा कहे लंबा वक्त हो चुका हो. लेकिन आज भी उनकी 'बॉल ऑफ द सेंचुरी' (Ball of The Century) की बात अक्सर होती है. वॉर्न ने आज से 28 साल पहले इंग्लैंड के खिलाफ ओल्ड ट्रैफर्ड में एशेज सीरीज(Ashes Test Series) के टेस्ट मैच में इंग्लैंड के बल्लेबाज माइक गैटिंग(Mike Gatting) को ये गेंद फेंकी थी. इसके बाद किसी ने ये नहीं सोचा था कि इतिहास खुद को दोहराएगा. लेकिन इंग्लिश काउंटी चैम्पियनशिप 2021(English County Championship 2021) में ऐसा हुआ. इंग्लैंड के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल चुके 24 साल के लेग स्पिनर मैट पार्किंसन(Matt Parkinson) ने लैंकशर(Lancashire) की ओर से खेलते हुए नॉर्थथैम्पटनशर (Northampshire) के एडम रॉसिंग्टन( Adam Rossington) को वॉर्न जैसी गेंद के जरिए बोल्ड किया. पार्किंसन ने जिस गेंद पर रॉसिंग्टन को बोल्ड किया है. वो वॉर्न की बॉल ऑफ द सेंचुरी से बिल्कुल मेल खाती दिख रही है.

पार्किंसन ने जिस गेंद पर रॉसिंग्टन को आउट किया. वो लेग स्टम्प के बाहर पिच हुई थी. वहां से गेंद ने इतना ज्यादा टर्न हुई कि बल्लेबाज का ऑफ स्टम्प ले उड़ी. कुछ देर के लिए बल्लेबाज को समझ ही नहीं आया कि हुआ क्या. लेकिन जब उसने विरोधी टीम के खिलाड़ियों को जश्न मनाते देखा तो उसे समझ आ गया कि अब पवेलियन लौटना होगा. पार्किंसन ने ठीक वैसी गेंद फेंकी थी, जैसी वॉर्न की बॉल ऑफ दे सेंचुरी पर इंग्लिश बल्लेबाज गैटिंग क्लीन बोल्ड हुए थे. इसलिए पार्किंसन की तुलना वॉर्न से हो रही है.

वॉर्न ने एशेज टेस्ट के पहले ओवर में बॉल ऑफ द सेंचुरी फेंकीवॉर्न ने 1993 में इंग्लैंड दौरे पर एशेज टेस्ट के दौरान ऐसी ही गेंद फेंकी थी, जिसे बॉल ऑफ द सेंचुरी नाम दिया गया था. दरअसल, सीरीज के पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया था. ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम पहली पारी में 289 रन पर ऑल आउट हो गई थी. इसके जवाब में इंग्लैंड के लिए ओपनर ग्राहम गूच और माइक आर्थटन ने पहले विकेट के लिए 71 रन जोड़े. इसी स्कोर पर आर्थटन आउट हो गए. उनके बाद माइक गैटिंग बल्लेबाजी के लिए आए. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एलन बॉर्डर ने शेन वॉर्न को गेंद थमाई. ये वॉर्न का मैच में पहला ओवर था. गैटिंग 4 रन पर खेल रहे थे. वॉर्न ने फ्लाइटेड गेंद फेंकी. जो लेग स्टम्प के बाहर गिरी. सभी को यही लगा कि गेंद लेग स्टम्प के बाहर निकल जाएगी. लेकिन जो हुआ, वो देखकर सब दंग रह गए. गेंद गैटिंग का ऑफ स्टम्प ले उड़ी.

यह भी पढ़ें : TOP 10 Sports News: चेन्नई सुपर किंग्स ने दर्ज की पहली जीत, बेन स्टोक्स 3 महीने रहेंगे मैदान से दूर
IPL 2021 : दीपक चाहर ने गेंदबाजी से बरपाया कहर, धोनी के 200वें मैच में चेन्नई ने पंजाब को दी मात

गैटिंग इस गेंद के जरिए इतिहास का हिस्सा बने

गैटिंग कुछ देर के लिए वहीं खड़े रह गए. वॉर्न को भी समझ नहीं आया कि क्या हुआ. लेकिन, तब तक वॉर्न इतिहास रच चुके थे. खुद गैटिंग ने भी बाद में इस गेंद को लेकर कहा था कि ये गेंद ठीक-ठाक सी नजर आ ऱही थी. मुझे उस गेंद को स्वीप करना था. मैंने बाद में वॉर्न से भी पूछा था कि अगर आपको ऐसी गेंद मिलती तो क्या करते. तो उन्होंने भी कहा था कि मैं भी इस पर स्वीप शॉट खेलता और शायद कैच आउट हो जाता. मुझे ये लम्हा हमेशा याद रहेगा. क्योंकि मैं इसके जरिए इतिहास का हिस्सा बना था. वॉर्न ने भी बाद में इस गेंद को तुक्का करार दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज