पाकिस्तानी बल्लेबाज आसिफ अली को सजा, गेंदबाज को बैट से मारने की कोशिश की थी

पाकिस्तानी बल्लेबाज आसिफ अली को सजा, गेंदबाज को बैट से मारने की कोशिश की थी
CPL 2020: आसिफ अली को मिली सजा

कैरेबियन प्रीमियर लीग 2020 (CPL 2020) में जमैका तहलावाज के खिलाड़ी आसिफ अली (Asif Ali) ने कीमो पॉल ( Keemo Paul) को बैट से मारने की कोशिश की थी, अब उन्हें सजा मिली

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 28, 2020, 10:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पाकिस्तान के बल्लेबाज आसिफ अली (Asif Ali) ने वेस्टइंडीज में चल रही कैरेबियन प्रीमियर लीग में अपने देश की भद्द तो पिटाई ही और इसके बाद अब उन्हें सजा भी सुना दी गई है. आसिफ अली को गयाना वॉरियर्स के गेंदबाज कीमो पॉल को बैट से मारने की कोशिश का दोषी पाया गया है. सीपीएल आचार संहिता के उल्लंघन के दोषी पाए जाने के बाद आसिफ अली की 20 फीसदी मैच फीस काट ली गई है.

आसिफ अली ने कीमो पॉल की ओर घुमाया था बैट
सीपीएल में जमैका तहलावाज की ओर से खेल रहे आसिफ अली गयाना वॉरियर्स के खिलाफ मुकाबले में अपना आपा खो बैठे थे. आउट होने के बाद उन्होंने तेज गेंदबाज कीमो पॉल को मारने के लिए बैट घुमाया था. उनका ये वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ. फैंस ने उन्हें काफी ट्रोल किया और कीमो पॉल भी आसिफ अली की इस हरकत से बेहद नाराज दिखे थे.





आसिफ अली की बदसलूकी
गयाना वॉरियर्स के खिलाफ जमैका तहलावाज जब लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो 8वें ओवर में कीमो पॉल (Keemo Paul) की गेंद को आसिफ अली ने पुल करने की कोशिश की. गेंद उनके बल्ले पर ठीक से नहीं आई और लॉन्ग ऑन पर खड़े कप्तान ग्रीन ने बेहतरीन डाइव लगाकर उनका कैच लपक लिया. आसिफ अली के आउट होने के बाद गेंदबाज कीमो पॉल ने जश्न मनाया और इसे देख आसिफ अली बौखला गए. उन्होंने कीमो पॉल के मुंह के पास बैट घुमाया, जो कि उनके बेहद करीब से गुजरा. अगर कीमो पॉल को बैट लग जाता तो उन्हें गंभीर चोट लग सकती थी. आसिफ अली की इस हरकत ने सभी को हैरान कर दिया था.

सीपीएल में फ्लॉप रहे हैं आसिफ अली
आसिफ अली के सीपीएल 2020 में प्रदर्शन की बात जाए तो वो फ्लॉप ही साबित हुए हैं. आसिफ अली ने 5 पारियों में महज 88 रन ही बनाए हैं और उनका बल्लेबाजी औसत सिर्फ 22 का है. उनके बल्ले से एक भी अर्धशतक नहीं निकला है. आसिफ अली को आक्रामक बल्लेबाज माना जाता है लेकिन उनका स्ट्राइक रेट भी महज 111 है. साफ है अच्छा प्रदर्शन ना कर पाने का दबाव उनपर दिखाई देने लगा है. शायद इसीलिए वो ऐसी हरकतें करने पर उतारू हो गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज