वर्ल्‍ड कप: युजवेंद्र चहल की वेस्‍ट इंडीज को चेतावनी- यह IPL नहीं है

भारतीय लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल का मानना है कि मुकाबले के दौरान विंडीज के बल्‍लेबाजों पर दबाव होगा.

News18Hindi
Updated: June 24, 2019, 7:23 PM IST
वर्ल्‍ड कप: युजवेंद्र चहल की वेस्‍ट इंडीज को चेतावनी- यह IPL नहीं है
युजवेंद्र चहल. (AP Photo)
News18Hindi
Updated: June 24, 2019, 7:23 PM IST
आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में भारत का अगला मुकाबला वेस्‍ट इंडीज से 27 जून को मैनचेस्‍टर में होगा. मैच से पहले भारतीय लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल का मानना है कि मुकाबले के दौरान विंडीज के बल्‍लेबाजों पर दबाव होगा. उन्‍होंने कहा कि वेस्‍ट इंडीज के बल्‍लेबाज टी20 लीग में जबर्दस्त खेलते हैं लेकिन भारत के खिलाफ वर्ल्‍ड कप मैच में उन पर कंडीशन का दबाव होगा. बता दें कि वेस्टइंडीज सेमीफाइनल की दौड़ से लगभग बाहर हो चुका है. वहीं सुपरस्‍टार खिलाड़ी आंद्रे रसेल भी चोटिल हैं. इससे कप्‍तान जेसन होल्‍डर की समस्‍याएं और बढ़ गई हैं. रसेल चोट के कारण न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछला मैच नहीं खेले थे.

चहल ने कहा, ‘हमने रणनीति बनाई है. रसेल आक्रामक बल्लेबाज है लेकिन हमने उसे काफी गेंदबाजी की है. अपने देश के लिए खेलना आईपीएल खेलने से एकदम अलग है. इसमें मैच जीतने का दबाव उन पर भी उतना ही होगा जितना हम पर है. वे जीत के लिए बेचैन हैं और फॉर्म पाने की कोशिश में जुटे हैं. हालात एकदम अलग हैं.’

चहल ने कहा, ‘रसेल चार बल्लेबाजों के आउट होने के बाद आते हैं और उन्हें भी पता है कि ऐसे हालात में कैसे खेलना है. हम भी मैच के मुताबिक रणनीति बनाएंगे.’ अफगानिस्तान के खिलाफ कम स्कोर वाले मैच में भारतीय गेंदबाजों ने अपनी उपयोगिता साबित की.

yuzvendra chahal, yuzvendra chahal world cup, india vs west indies match, ind vs wi match, युजवेंद्र चहल वर्ल्‍ड कप, युजवेंद्र चहल न्‍यूज, इंडिया वेस्‍ट इंडीज वर्ल्‍ड कप
वेस्टइंडीज सेमीफाइनल की दौड़ से लगभग बाहर हो चुका है. (AP Photo)


चहल ने कहा, ‘हमने 230 से कम रन बनाए थे जिसके नकारात्मक और सकारात्मक दोनों पहलू हैं. इस तरह के मैच जीतने पर हौसला मिलता है कि हम कम स्कोर वाले मैच भी जीत सकते हैं.’

उन्होंने केदार जाधव की तारीफ करते हुए कहा, ‘पहली पारी में केदार की बल्लेबाजी शानदार थी जब पिच टर्न ले रही थी. हमें लगा कि हम 270 के करीब रन बना लेंगे लेकिन उन्होंने इतनी अच्छी गेंदबाजी की कि हम 30-40 रन पीछे रह गए. गेंदबाजी में हमारा लक्ष्य ज्यादा से ज्यादा डॉट गेंद डालने का था ताकि आखिरी ओवरों में उन्हें छह या सात की औसत से रन बनाने हों. कई बार आप 350 रन बनाकर भी हार जाते हैं और कई बार 250 रन बनाकर भी जीत जाते हैं, यह मानसिकता की बात है.’

साउथ अफ्रीका से जीत के बाद बदली सरफराज़ की किस्मत!
बड़ी खबर:वेस्टइंडीज के खिलाफ नहीं खेलेंगे विराट कोहली-बुमराह
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...