होम /न्यूज /खेल /पूर्व पाक गेंदबाज ने भारत की बॉलिंग को बताया- थर्ड क्लास, बोले- पोल खुल रही है

पूर्व पाक गेंदबाज ने भारत की बॉलिंग को बताया- थर्ड क्लास, बोले- पोल खुल रही है

भारत को बांग्लादेश के हाथों दूसरे वनडे में मिली 5 रन से हार (PIC: AP)

भारत को बांग्लादेश के हाथों दूसरे वनडे में मिली 5 रन से हार (PIC: AP)

India vs Bangladesh: पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर ने भारतीय गेंदबाजों की जमकर आलोचना की है. उन्होंने भारतीय गेंदबाजी क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

बांग्लादेश ने सीरीज में 2-1 की अजेय बढ़त ले ली है.
बांग्लादेश ने पहले वनडे में भारत को 1 विकेट से हराया.
भारत बनाम बंग्लादेश तीसरा वनडे शनिवार को खेलना है.

नई दिल्ली. पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने सीरीज में बांग्लादेश से हार के बाद टीम इंडिया के गेंदबाजों पर निशाना साधा है. बुधवार, 7 दिसंबर को ढाका में दूसरे वनडे मैच में मेजबान टीम को 69/6 से 271/7 तक जाने की अनुमति देने के बाद कनेरिया ने भारत की गेंदबाजी को ‘थर्ड क्लास’ बताया है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए बांग्लादेश ने 19 ओवर में छह विकेट गंवा दिए थे. लेकिन इसके बाद मेहदी हसन मिराज (83 गेंदों पर 100*) और महमुदुल्लाह (96 गेंदों पर 77 रन) ने सातवें विकेट के लिए 148 रन जोड़कर बांग्लादेश की पारी बड़े स्कोर में बदल दिया.

मेजबान टीम ने दूसरा वनडे पांच रन से जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली. बांग्लादेश के प्रदर्शन की सराहना करते हुए दानिश कनेरिया ने विपक्षी टीम के निचले क्रम को आउट करने में असमर्थता जताने के लिए भारतीय गेंदबाजों की आलोचना की है. अपने यूट्यूब चैनल पर कनेरिया ने कहा, ”यह कठोर लग सकता है, लेकिन भारत की गेंदबाजी थर्ड क्लास थी. कहां जा रहा है भारतीय क्रिकेट? बांग्लादेश के हालात भारत जैसे हैं. गेंदबाजों के अनुकूल विकेट हैं; अभी भी उनके गेंदबाजों की पोल खुल रही है. क्या उनके पास विकेट लेने की क्षमता नहीं है? क्या भारत को बुमराह, शमी, भुवनेश्वर की कमी खल रही है? भारत को एक अच्छी गेंदबाजी इकाई बनाने की जरूरत है.”

टूटा जबड़ा, टूटी नाक, खून की उल्टी, फ्रेक्चर, दस्त… क्रिकेटरों ने मैदान पर पेश की देशप्रेम की मिसाल

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि भारत के गेंदबाजों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि मेहदी-महमूदुल्लाह की जोड़ी को कहां गेंदबाजी करनी है. उन्होंने कहा, ”किसी ने स्टंप्स पर गेंदबाजी नहीं की. कोई यॉर्कर नहीं था. अमल सही नहीं था. कप्तानी भी अच्छी नहीं रही, क्योंकि रन आसानी से आ गए. उनके 69/6 पर होने के बाद, भारत को बांग्लादेश को 100-120 पर आउट कर खेल को खत्म कर देना चाहिए था. दूसरे हाफ में बल्लेबाजी के लिए विकेट मुश्किल हो जाता है और बांग्लादेश जानता है कि बोर्ड पर 180 के स्कोर के साथ भी विरोधियों को कैसे दबाना है.”

क्या IPL कर रहा टीम इंडिया का बेड़ा गर्क? T20 वर्ल्ड कप के लिए भी बना रोड़ा, वेंकटेश प्रसाद ने उठाया सवाल

टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर 3/37 के आंकड़े के साथ शानदार गेंदबाज थे. हालांकि, बाकी गेंदबाजी ईकाई ने संघर्ष किया. खासकर जब महेदी और महमूदुल्लाह बल्लेबाजी कर रहे थे. टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने जहां बांग्लादेश के दोनों सलामी बल्लेबाजों को सस्ते में आउट कर दिया, लेकिन वहीं अंत में बेहद महंगे साबित हुए.”

" isDesktop="true" id="5020275" >

सिराज की कोशिशों से कनेरिया प्रभावित नहीं दिखे. कनेरिया ने कहा कि सिराज आक्रामक होने के नाम पर स्वच्छंद नहीं हो सकते. उन्होंने कहा, ”सिराज ने बहुत रन दिए. यह अच्छा है कि आप आक्रामक हैं, लेकिन उनकी गेंदबाजी ज्यादा ही खुली है. वह लय में बिल्कुल भी नहीं दिख रहे थे. यहां तक शार्दुल ठाकुर भी लय में नहीं दिखे. एक बार जब बांग्लादेश 270 पर पहुंच गया, तो हर किसी को पता था कि भारत के लिए यह कठिन होगा.” मोहम्मद सिराज ने 10 ओवर में 73 रन दिए तो वहीं शार्दुल ठाकुर ने सिर्फ 47 रन दिए, लेकिन अपने अंतिम ओवर में उन्होंने 16 रन लुटा दिए.

Tags: Danish Kaneria, India vs Bangladesh, Mohammed siraj, Shardul thakur, Team india

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें