लाइव टीवी

3 ओवर में 100 रन जड़कर ब्रैडमैन ने रखी थी आक्रामक बल्लेबाजी की नींव, जिंदगी के आखिरी पड़ाव पर सचिन से की मुलाकात

News18Hindi
Updated: February 25, 2020, 8:23 AM IST
3 ओवर में 100 रन जड़कर ब्रैडमैन ने रखी थी आक्रामक बल्लेबाजी की नींव, जिंदगी के आखिरी पड़ाव पर सचिन से की मुलाकात
डॉन ब्रैडमैन ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज हैं

सर डॉन ब्रैडमैन (Sir Don Bradman) ने 25 फरवरी 2001 को आखिरी सांस ली थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2020, 8:23 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आज से करीब 20 साल पहले दुनिया के एक महान और आक्रामक बल्लेबाजी की नींव रखने वाले क्रिकेटर ने दुनिया को अलविदा कह दिया था. पूरी दुनिया अपने स्टार को खाेने के कारण सदमे में थी. मगर दुनिया को क्रिकेट की एबीसीडी सिखाने वाले सर डॉन ब्रैडमैन (Sir Don Bradman) का शुक्रिया भी अदा कर रही थी कि उन्होंने क्रिकेट की एक नई परिभाषा दी. आक्रामक बल्लेबाजी की एक नींव रखी. 27 अगस्त 1908 को ऑस्ट्रेलिया में जन्में ब्रैडमैन ने 92 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया था. दरअसल उन्हें निमोनिया हो गया था, जिस वजह से उन्‍हें दिसंबर 2000 में  हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था. नए साल पर वह हॉस्पिटल से घर तो आ गए थे, मगर उम्र के कारण उनके शरीर ने भी उनका साथ देना छोड़ दिया था  और 25 फरवरी 2001 काे सर्वकालिक महान खिलाड़ी ने आखिरी सांस ली.

जिंदगी के आखिरी पड़ाव पर की थी सचिन से मुलाकात
डॉन ब्रैडमैन ने जिंदगी के आखिरी पड़ाव पर उस समय के अपने दो पसंदीदा क्रिकेटर से मुलाकात की थी, जिसमें एक शेन वॉर्न थे और दूसरे सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar). दरअसल 1997 में ब्रैडमैन की पत्नी ने दुनिया को अलविदा कह दिया था, उम्र के इस पड़ाव पर जीवन साथी का साथ छूटने से वें थोड़े अकेले पड़ थे, मगर जीने की आस नहीं छोड़ी. इसके अगले साल अपने 90वें जन्मदिन के मौके पर उन्होंने दोनों क्रिकेटरों से मुलाकात की, मगर इससे बाद वह फिर कभी उन्हें एडिलेड में नहीं देख पाए.

99 से ऊपर रहा औसत



ब्रैडमैन (Sir Don Bradman)  दुनिया के एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं, जिनका औसत 99 से ऊपर का रहा. ब्रैडमैन के नाम एक और ऐसा रिकॉर्ड है, जो शायद ही कोई बल्लेबाज तोड़ पाए. इस कीर्तिमान को उन्होंने 1931 में रचा था.बात 1931 की है, जब ब्रैडमैन ने सिर्फ तीन ओवर में शतक जड़ दिया था. ब्लैकहीथ इलेवन की ओर से खेलते हुए ब्रैडमैन ने यह कमाल किया था. उन्होंने अपनी पारी में 14 छक्के और 29 चौके लगाकर कुल 256 रन बनाए थे. दरअसल उस समय  एक ओवर में छह नहीं आठ गेंद फेंकी जाती थी. यानी ब्रैडमैन ने तीन ओवर में 24 गेंदों का सामना किया था. इस दिग्गज ने अपना शतक तो 22 गेंदों में ही पूरा कर लिया था. पहले ओवर में 33 रन, दूसरे में 40 और तीसरे ओवर में कुल 27 रन जोड़े थे.

सौरव गांगुली पर बनेगी फिल्म, करण जौहर से की मुलाकात!

मुश्फिकुर रहीम ने दोहरा शतक ठोकने के बाद बनाया 'डायनासोर' जैसा मुंह!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 8:23 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर