• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • CRICKET DEEPAK CHAHAR BECOME IMPORTANT PART OF INDIAN BOWLING ATTACK ALL EYE ON WORLD CUP NOW

एमएस धोनी का ये शागिर्द बना विराट कोहली का सबसे बड़ा हथियार, जिताएगा टी-20 वर्ल्ड कप!

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी गेंदबाजी से छाप छोड़ने के बाद अब दीपक चाहर की नजरें टी-20 वर्ल्ड कप पर हैं. (फाइल फोटो)

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) की नई सनसनी दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है. उन्हें तराशने में भारतीय दिग्गज और चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) का अहम योगदान रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    मोहाली. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) मौजूदा समय में ऐसे दौर से गुजर रही है जो इससे पहले शायद ही देखने को मिला होगा. टीम इंडिया (Team India) के पास तेज गेंदबाजों की ऐसी फौज है जो किसी भी टीम के बल्लेबाजी क्रम को तहस-नहस कर सकती है. चाहे भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) और इशांत शर्मा (Ishant Sharma) जैसे अनुभवी खिलाड़ियों की बात हो या फिर जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), खलील अहमद (Khaleel Ahmed) और नवदीप सैनी (Navdeep Saini) जैसे युवाओं की. हर कोई गेंदबाज एक से बढ़कर एक है. अब इस कड़ी में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के शागिर्द रहे एक ऐसे युवा गेंदबाज का नाम भी जुड़ गया है, जो अगले साल होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का सबसे बड़ा हथियार बन सकता है.

    7 अगस्त 1992 को उत्तर प्रदेश के आगरा में जन्मे दीपक लोकेंद्रसिंह चाहर (Deepak Chahar) सीमित ओवर प्रारूप में अपने चार मैच के करियर में ही अपनी पहचान स्‍थापित करने में सफल रहे हैं. दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ मोहाली (Mohali) में खेले गए सीरीज के दूसरे टी-20 मैच में भी अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया. दीपक चाहर ने इस मुकाबले में अपने कोटे के चार ओवरों में महज 22 रन देकर दो महत्वपूर्ण विकेट लिए. चाहर ने दक्षिण अफ्रीकी ओपनर ब्यूरेन हेंड्रिक्स और तीसरे नंबर पर खेलने उतरे बावुमा को आउट किया. बावुमा ने टीम की ओर से 43 गेंद पर 49 रन की पारी खेली.

    virat kohli t20 cricket, virat kohli t20 record, virat kohli south africa t20, virat kohli mohali t20, virat kohli records, विराट कोहली टी20 रिकॉर्ड, विराट कोहली मोहली टी20, विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका टी20, विराट कोहली रिकॉर्ड, दीपक चाहर, deepak chahar, महेंद्र सिंह धोनी, mahendra singh dhoni, आईपीएल, चेन्नई सुपरकिंग्स, इंडियन प्रीमियर लीग, chennai superkings, ipl, indian premier league
    भारतीय तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने मोहाली में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मुकाबले में दो विकेट लिए. (AP)


    धोनी ने दिखाई दिशा, चाहर ने दिए नतीजे
    दीपक चाहर (Deepak Chahar) के बतौर गेंदबाज विकसित होने में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) का अहम रोल है. धोनी द्वारा दिखाए आत्मविश्वास का चाहर को काफी फायदा पहुंचा. यही वजह है कि उन्होंने आईपीएल (Indian Premier League) में सबसे अधिक स्विंग हासिल की. यहां तक कि भुवनेश्वर कुमार, ट्रेंट बोल्ट और टिम साउथी जैसे गेंदबाज भी उनसे आधी गेंदें ही स्विंग करा सके. चाहर ने चेन्नई की पिच पर भी स्विंग हासिल की, जहां तेज गेंदबाजों के लिए अधिक मदद नहीं होती. यही वजह है कि इंडियन प्रीमियर लीग के पिछले तीन सीजन में पावरप्ले में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज का नाम दीपक चाहर ही है.

    30 गज के घेरे का नियम बना वरदान
    महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Superkings) के लिए खेलते हुए दीपक चाहर (Deepak Chahar) को वो भूमिका दी, जिसमें वो अपनी क्षमताओं और कौशल का सबसे अच्छा इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन बड़ी चुनौती चाहर के सामने ये भी थी कि उन्हें तब गेंदबाजी करनी थी जब 30 गज के घेरे के बाहर सिर्फ दो ही खिलाड़ी होते हैं. खासकर पावरप्ले में जब आप शुरू के दो ओवर में विकेट नहीं ले पाते हैं तो फिर बल्लेबाज पावरप्ले का फायदा उठाते हुए बड़े शॉट लगाते हैं. मगर 30 गज के घेरे के बाहर सिर्फ दो खिलाड़ी रखने का नियम ही चाहर के लिए मानो वरदान बन गया.

    virat kohli t20 cricket, virat kohli t20 record, virat kohli south africa t20, virat kohli mohali t20, virat kohli records, विराट कोहली टी20 रिकॉर्ड, विराट कोहली मोहली टी20, विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका टी20, विराट कोहली रिकॉर्ड, दीपक चाहर, deepak chahar, महेंद्र सिंह धोनी, mahendra singh dhoni, आईपीएल, चेन्नई सुपरकिंग्स, इंडियन प्रीमियर लीग, chennai superkings, ipl, indian premier league
    दीपक चाहर को तराशने में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का अहम योगदान रहा है. (AP)


    डेथ ओवरों में गेंदबाजी करना है आसान
    इस बारे में चाहर बताते हैं कि जब मैं बैठकर रणनीति बनाता हूं तो मेरे दिमाग में यही बात होती है कि मेरे पास सिर्फ दो ही फील्डर हैं. मेरे लिए ये मेरी आदत बन चुकी है. मैं जब भी किसी बल्लेबाज के खिलाफ योजना बनाता हूं तो यही सोचता हूं कि मेरे पास सिर्फ दो ही फील्डर हैं. इसी वजह से मुझे डेथ ओवरों में गेंदबाजी करने का फायदा भी मिलता है. मुझे लगता है कि डेथ ओवरों में गेंदबाजी करना आसान होता है. वो इसलिए क्योंकि मेरा दिमाग इस बात का आदी हो चुका है कि मेरे पास सिर्फ दो ही फील्डर हैं और मैं डेथ ओवरों में भी इसी सोच के साथ गेंदबाजी करता हूं. ऐसे में डेथ ओवरों में 30 गज के घेरे के बाहर पांच खिलाड़ी होने से काफी मदद मिलती है.

    गेंदबाजी में विविधता
    दीपक चाहर (Deepak Chahar) कहते हैं कि आप डेथ ओवरों में अनुमानित गेंदबाजी नहीं कर सकते. अगर बल्लेबाज को पता होगा कि आप सिर्फ यॉर्कर या धीमी बाउंसर ही फेकेंगे तो वो आपको निशाना बना सकता है. आपके पास यॉर्कर, स्लोअर बाउंसर, धीमी गेंद सहित विविधता होनी चाहिए. अगर आप इन सभी गेंदों का इस्तेमाल करेंगे तो बल्लेबाजी सतर्कता से आपको खेलेगा.

    virat kohli t20 cricket, virat kohli t20 record, virat kohli south africa t20, virat kohli mohali t20, virat kohli records, विराट कोहली टी20 रिकॉर्ड, विराट कोहली मोहली टी20, विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका टी20, विराट कोहली रिकॉर्ड, दीपक चाहर, deepak chahar, महेंद्र सिंह धोनी, mahendra singh dhoni, आईपीएल, चेन्नई सुपरकिंग्स, इंडियन प्रीमियर लीग, chennai superkings, ipl, indian premier league
    भारतीय तेज गेंदबाज दीपक चाहर की खास बात ये है कि वो नई गेंद से दोनों ओर स्विंग कराने में सक्षम हैं. (AP)


    टी-20 वर्ल्ड कप के लिए ठोका दावा
    दीपक चाहर (Deepak Chahar) अब अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2020) के लिए अपनी मजबूत दावेदारी ठोक चुके हैं. अभी तक इस बड़े टूर्नामेंट के लिए गेंदबाजी विभाग में सिर्फ जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की जगह ही पक्की है. यहां तक कि स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को लेकर भी सवाल खड़े हो गए हैं, क्योंकि बतौर बल्लेबाज उनका योगदान ज्यादा नहीं रहा है.

    अंतरराष्ट्रीय करियर पर एक नजर
    तेज गेंदबाज दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने अभी तक महज चार अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं. इनमें से उन्होंने तीन टी-20 मुकाबले और एक वनडे मैच में हिस्सा लिया है. 1 वनडे में उन्हें एक विकेट लिया है, जबकि तीन टी-20 मैच में दीपक ने कुल छह विकेट लिए हैं. इनमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 4 रन देकर तीन विकेट है. टी-20 में गेंदबाजों की सबसे ज्यादा धुनाई होती है, लेकिन इस प्रारूप में दीपक चाहर का इकोनॉमी रेट 6.27 का ही है.

    घरेलू क्रिकेट करियर 
    दीपक चाहर ने 45 फर्स्ट क्लास मैच में 126 जबकि 38 लिस्ट ए मैचों में 54 विकेट चटकाए हैं. इसके अलावा उन्होंने 61 टी-20 मैच भी खेले हैं. इन मुकाबलों में उन्होंने 72 खिलाड़ियों को पवेलियन की राह दिखाई है.

    विराट कोहली के आगे 'नतमस्तक' हुए शाहिद अफरीदी, कह दी ये बड़ी बात

    India vs South Africa : विराट कोहली ने तोड़ा रोहित शर्मा का ये सबसे बड़ा रिकॉर्ड
    First published: