• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • दीपक चाहर का बड़ा बयान- लार के इस्तेमाल पर बैन से गेंदबाजों पर कोई असर नहीं पड़ेगा

दीपक चाहर का बड़ा बयान- लार के इस्तेमाल पर बैन से गेंदबाजों पर कोई असर नहीं पड़ेगा

बीसीसीआई ने शनिवार को पुष्टि की थी कि 11 सदस्य और दो खिलाड़ियों को कोरोना हो गया है. खबरों के मुताबिक यह सभी लोग चेन्नई सुपर किंग्स से जुड़े हुए हैं. खिलाड़ी के तौर पर तेज गेंदबाज दीपक चाहर का नाम सामने आया था और अब उनकी बहन मालती चहर ने इस बात की एक तरह से पुष्टि की.  (INSTAGRAM)

बीसीसीआई ने शनिवार को पुष्टि की थी कि 11 सदस्य और दो खिलाड़ियों को कोरोना हो गया है. खबरों के मुताबिक यह सभी लोग चेन्नई सुपर किंग्स से जुड़े हुए हैं. खिलाड़ी के तौर पर तेज गेंदबाज दीपक चाहर का नाम सामने आया था और अब उनकी बहन मालती चहर ने इस बात की एक तरह से पुष्टि की. (INSTAGRAM)

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने ऐसी बात क्यों कही, जबकि कई दिग्गज लार पर बैन के फैसले के खिलाफ हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. मंगलवार को आईसीसी ने बड़ा फैसला लेते हुए गेंद पर लार के इस्तेमाल पर बैन लगा दिया. इस फैसले से अब गेंदबाजों को काफी मुश्किल पेश आ सकती है लेकिन टीम इंडिया के तेज गेंदबाज दीपक चाहर (Deepak Chahar) को ऐसा नहीं लगता. चाहर का मानना है कि गेंद पर बैन का असर कम से कम टी20 और वनडे क्रिकेट में नहीं पड़ेगा. दुनिया के कई बड़े क्रिकेटर लार के बैन का विकल्प मांग रहे हैं लेकिन दीपक चाहर ऐसा क्यों कह रहे हैं, इसकी वजह बेहद दिलचस्प है.

    चाहर ने कहा-लार पर बैन से दिक्कत नहीं
    दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने इस मुद्दे पर बात करते हुए स्टार स्पोर्ट्स शो ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ से कहा, 'मुझे नहीं लगता कि इससे हम पर ज्यादा असर पड़ेगा क्योंकि सफेद गेंद केवल दो ओवर के लिये ही स्विंग करती है. अगर हम टी20 प्रारूप के बारे में बात करते हैं तो विकेट केवल दो-तीन ओवर के लिये ही अच्छा होता है और गेंद तीन ओवर के लिये ही स्विंग करती है इसलिये इससे गेंद को चमकाने की जरूरत कम हो जाती है.'

    दीपक चाहर (Deepak Chahar) की बात सही है कि टी20 में गेंद 2-3 ओवर ही स्विंग होता है लेकिन उन दो-तीन ओवरों में गेंदबाजों को बल्लेबाजों पर हावी होने का मौका मिलता है. इसके बाद तो गेंदबाजों की पिटाई ही होती है. अब गेंद अगर स्विंग होगा ही नहीं तो पहली गेंद से ही गेंदबाज खतरे में होंगे. बता दें दीपक चाहर खुद स्विंग गेंदों से आईपीएल में फायदा उठाते नजर आए हैं लेकिन अगर उनकी गेंद स्विंग नहीं होती है तो वो भी दिक्कतों में नजर आते हैं.

    लार पर बैन के बावजूद ऐसे बच सकते हैं गेंदबाज
    वैसे लार पर बैन (Salaiva Ban) के बावजूद क्रिकेट के खेल में संतुलन बनाया जा सकता है. जिस स्टेडियम में मुकाबले होने हैं वहां गेंदबाजों की मददगार पिच बनाई जा सकती है, जिससे कम से कम 22 गज की पट्टी से तो गेंदबाजों को मदद मिले. साथ ही बाउंड्री लाइन भी बड़ी की जा सकती है, ताकि बल्लेबाज बड़े शॉट खेलने से पहले दो बार सोचें.

    आईसीसी के नए नियम
    कोरोना वायरस के मद्देनजर आईसीसी ने मंगलवार को क्रिकेट के कुछ नियम बदले हैं. पहला नियम तो यही है कि गेंदबाज गेंद पर सलाइवा का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे. दो बार टीमों को चेतावनी दी जाएगी, अगर इसके बावजूद वो इस नियम को तोड़ते हुए नजर आएंगे तो उनपर पांच रनों की पेनल्टी लगेगी. इसके अलावा आईसीसी ने घरेलू अंपायरों और मैच रेफरी को नियुक्त करने की इजाजत दे दी है. साथ ही आईसीसी ने वनडे और टी20 में 2-2 और टेस्ट में 4-4 डीआरएस रिव्यू लेने का नियम बनाया है.

    इस भारतीय क्रिकेटर की हत्या के आरोप में बेटा अश्विन गिरफ्तार, शराब पीकर मार डाला!

    गंजे क्रिकेटरों की टीम में नहीं मिली सहवाग को जगह, चुने गए ये 11 खिलाड़ी!

    (भाषा के इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज