टीम इंडिया के इस खिलाड़ी के पिता ने बनाई जबर्दस्त बॉडी, बेटे ने कहा- सिक्स पैक्स बनाने में बुराई क्या है?

टीम इंडिया के इस खिलाड़ी के पिता ने बनाई जबर्दस्त बॉडी, बेटे ने कहा- सिक्स पैक्स बनाने में बुराई क्या है?
दीपक चाहर बोले-मेरे पिता काफी फिट हैं

दीपक चाहर (Deepak Chahar) की फिटनेस बेहद लाजवाब है, उनके सिक्स पैक्स एब्स भी काफी पॉपुलर हैं लेकिन उनके पिता लोकेंद्र चाहर की भी जबर्दस्त बॉडी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2020, 2:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस की वजह से क्रिकेट ठप है तो खिलाड़ी घर पर ही अपनी फिटनेस पर ध्यान दे रहे हैं. टीम इंडिया के तेज गेंदबाज दीपक चाहर (Deepak Chahar) भी जिम में काफी पसीना बना रहे हैं. चाहर की बॉडी तो गजब की हो गई है. उनके सिक्स पैक्स सोशल मीडिया पर छाए रहते हैं. वैसे सिर्फ दीपक चाहर ही नहीं उनके पिता लोकेंद्र चाहर की भी जबर्दस्त बॉडी है. दीपक चाहर ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया कि उनके पिता ने 20 किलो वजन घटाया है और उनके डोले काफी अच्छे हैं.

फिट दीपक चाहर के पिता हैं सुपरफिट
स्पोर्ट्स तक के साथ बातचीत में दीपक चाहर (Deepak Chahar) से उनकी फिटनेस और पिता के डोलों पर सवाल पूछा गया. इस पर टीम इंडिया के तेज गेंदबाज ने जवाब दिया, 'मेरे पिता ने मुझे कोचिंग देने के लिए नौकरी छोड़ दी थी. इसके बाद उनका सारा ध्यान मुझपर और राहुल पर आ गया. इस बीच उनका वजन काफी ज्यादा बढ़ गया. वो बीमार भी हो गए थे. हमारे पिता ने वादा किया था कि जब हम दोनों भाई टीम इंडिया के लिए खेलोगे तो वो जिम जाएंगे. हमने ऐसा किया और उन्होंने जिम शुरू की. पिताजी ने 20 किलो वजन कम किया. अब उनका वजन मुझसे कम है. उनके डोले बहुत शानदार हैं. वो पहले पहलवानी करते थे.

दीपक चाहर (Deepak Chahar) से पूछा गया कि वो अपने लुक्स पर काफी ध्यान देते हैं तो इसपर चाहर ने कहा कि उनका ध्यान खेल पर है और अच्छा दिखना कोई बुरी बात नहीं. चाहर बोले, ' मेरा पूरा ध्यान खेलने पर है, मॉडलिंग नहीं करनी. अच्छा दिखने में तो कोई बुराई नहीं है. फिटनेस भी बेहद जरूरी है. एब्स बन जाएं तो उसमें बुराई क्या है. खेल में भी मदद मिलती है.'
चाहर ने बताया रोहित-धोनी की कप्तानी में काफी समानता


दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने रोहित शर्मा और एमएस धोनी की कप्तानी के संबंध में सवाल पूछा गया तो उन्होंने बताया कि ये दोनों ही खिलाड़ी बतौर कप्तान काफी शांत रहते हैं. चाहर ने कहा, 'विराट कोहली बहुत आक्रामक हैं लेकिन रोहित और धोनी बहुत कूल रहते हैं. दोनों ही बेहद शांत हैं और खिलाड़ी से अच्छा प्रदर्शन कराते हैं. धोनी ओवर के बाद ही सलाह देते हैं क्योंकि वो विकेटकीपर हैं तो बार-बार नहीं आ सकते समझाने, वहीं रोहित शर्मा मिड ऑफ पर ही खड़े रहते हैं. चाहर ने आगे कहा, 'रोहित शर्मा गेंदबाज पर बहुत भरोसा करते हैं और उसके मुताबिक ही फील्डिंग लेते हैं. धोनी कुछ खिलाड़ी खुद से सेट करते हैं, उन्हें बहुत ज्यादा अनुभव है.

दीपक चाहर (Deepak Chahar) ने बताया कि धोनी और रोहित शर्मा की कप्तानी में एक ही अंतर नजर आता है. उन्होंने कहा,'धोनी बदलाव ज्यादा नहीं करते. वो एक फॉर्मूले पर कायम रहते हैं. दूसरी ओर रोहित शर्मा बहुत ज्यादा बदलाव करते हैं. कभी-कभी वो टी20 के पावर प्ले में सभी गेंदबाज इस्तेमाल कर देते हैं. वो बल्लेबाज को सेट नहीं होने देते. ये सब वो चौंकाने के लिए करते हैं.'

कुलदीप यादव का खुलासा, पूर्व पाकिस्‍तानी कप्‍तान ने ऐसे की थी उनकी मदद

केएल राहुल की राह पर ये इंग्लिश गेंदबाज, मदद के लिए 3 चीजों की करेंगे नीलामी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज