होम /न्यूज /खेल /'कोहली, विलियमसन की तरह गेंदबाज पर अपनी नजर रखें' : दीप्ति शर्मा रन आउट पर बोले इयान बिशप

'कोहली, विलियमसन की तरह गेंदबाज पर अपनी नजर रखें' : दीप्ति शर्मा रन आउट पर बोले इयान बिशप

इयान बिशप ने दीप्ति शर्मा के 'मांकड़' रन आउट को लेकर अपनी राय जाहिर की है.

इयान बिशप ने दीप्ति शर्मा के 'मांकड़' रन आउट को लेकर अपनी राय जाहिर की है.

Deepti Sharma Charlotte Dean Run Out: चार्ली डीन और फ्रेया डेविस ने 35 रन जोड़कर इंग्लैंड की जीत की उम्मीदें जगा दी थी. ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

लंदन. वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज इयान बिशप ने शनिवार को लॉर्ड्स में खेले गए भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरे एकदिवसीय मैच से चल रहे रन आउट विवाद पर अपनी राय जाहिर की है. दरअसल, चार्ली डीन और फ्रेया डेविस (नाबाद 10) ने 10वें विकेट के लिए 35 रन जोड़कर इंग्लैंड की जीत की उम्मीदें जगा दी थी. तभी दीप्ति शर्मा (24 रन पर एक विकेट) ने समझदारी दिखाते हुए अपनी ही गेंद पर चार्ली डीन को रन आउट कर दिया. फ्रेया डेविस बल्लेबाजी कर रही थी और गेंद दीप्ति के हाथ में थी. दीप्ति जब गेंदबाजी करने के लिए आगे बढ़ीं, तो उनके गेंद फेंकने से पहले ही चार्ली डीन गेंदबाजी छोर पर काफी आगे निकल गईं और भारतीय गेंदबाज ने उन्हें रन आउट कर दिया.

इसे तीसरे अंपायर को भेजा गया, जहां पूरी घटना की समीक्षा की गई और फिर डीन को रन आउट घोषित किया गया. कई लोग इस तरह से रन आउट को खेल भावना के विपरीत मानकर इसकी आलोचना कर रहे हैं. हालंकि, ऐसे लोग भी हैं जो आईसीसी के नियमों का हवाला देकर दीप्ति के साथ खड़े हैं. इसी मामले पर अब बिशप ने चुप्पी तोड़ते हुए युवा क्रिकेटरों को सलाह दी कि वे आधुनिक समय के दो दिग्गजों से विकेटों के बीच दौड़ना सीखें.

भारत को 5 कमियों को करना होगा दूर, नहीं तो टी20 वर्ल्ड कप की उम्मीदों को लग सकता है झटका

बिशप ने कहा कि बल्लेबाजों को गेंद के हाथ से छोड़े जाने तक गेंदबाज पर ध्यान देना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने विराट कोहली और केन विलियमसन का उदाहरण सामने रखा, जो विकेटों के बीच दौड़ने के मामले में दुनिया के सर्वोत्तम क्रिकेटरों में से दो हैं. 54 वर्षीय दिग्गज ने महसूस किया कि युवाओं को विकेटों के बीच दौड़ने का कौशल सीखने की जरूरत है और उन्होंने कहा कि बल्लेबाज का अनुचित लाभ उठाना सिर्फ एक बहाना है.

बिशप ने ट्वीट किया, ‘सादा और सरल. विराट कोहली और केन विलियमसन की तरह गेंदबाज और गेंद पर पूरी तरह से नजर रखें और फिर सारे तर्क खत्म हो जाते हैं. आइए अपने छोटे बच्चों को इन दो महान खिलाड़ियों की तरह सिखाएं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘विकेटों के बीच दौड़ना एक स्किल है. बल्लेबाज स्प्रिंट दौड़ की तरह तेज शुरुआत करने के लिए गेंदबाज द्वारा गेंद को रिलीज करने का अनुमान लगाने की कोशिश कर रहे हैं… या तो वे लापरवाह हैं या फिर वे एक अनुचित लाभ हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं, या सिर्फ आलसी. किसी भी तरह से यह कोई बहाना नहीं है.’

Tags: Harmanpreet kaur, Kane williamson, Team india, Virat Kohli

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें