लाइव टीवी

वनडे सीरीज गंवाने के बाद ये क्या बोल गए युजवेंद्र चहल, कहा- ये हार इतनी भी बड़ी नहीं

News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 7:17 PM IST
वनडे सीरीज गंवाने के बाद ये क्या बोल गए युजवेंद्र चहल, कहा- ये हार इतनी भी बड़ी नहीं
न्यूजीलैंड से हार चिंता की बात नहीं- युजवेंद्र चहल

India vs New Zealand: न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत ने वनडे सीरीज के तीनों मैच गंवा दिए लेकिन टीम इंडिया का मानना है कि ये हार बड़ी नहीं है

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 7:17 PM IST
  • Share this:
माउंट मोंगानुई. न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में भारतीय टीम ने इतना खराब प्रदर्शन किया कि उसे क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ा. कीवी टीम ने उसे हैमिल्टन, ऑकलैंड और माउंट मोंगानुई वनडे में एकतरफा अंदाज में हरा दिया. बावजूद इसके टीम इंडिया को इससे फर्क नहीं पड़ रहा है. उसका तो ये मानना है कि ये हार इतनी भी बड़ी नहीं है कि इसके बारे में बातचीत हो. लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) ने मंगलवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ क्लीनस्वीप को अधिक तवज्जो नहीं देते हुए कहा कि पिछले पांच साल में भारत के प्रदर्शन में इतनी अधिक निरंतरता है कि वनडे सीरीज में हार चिंताजनक नहीं है.

भारत की वनडे सीरीज में शर्मनाक हार


चहल का अजीबोगरीब बयान
वनडे सीरीज में हार के बाद चहल (Yuzvendra Chahal) ने कहा, 'कुल मिलाकर अगर आप देखो तो पिछले चार-पांच साल में हमने सिर्फ चौथी या पांचवीं श्रृंखला गंवाई है. दूसरी टीम भी खेलती है, आप हर मैच नहीं जीत सकते. हमने एक श्रृंखला जीती, दूसरी हार गए, इसलिए यह इतना गंभीर नहीं है कि इस पर मंथन किया जाए.' युजवेंद्र चहल का ये बयान बेहद ही अजीब है क्योंकि भारतीय टीम ने पहली बार विराट कोहली की कप्तानी में इतनी बड़ी हार देखी है. ये वही कप्तान विराट कोहली हैं जो हर मैच को जंग की तरह लेते हैं, जीत के लिए वो कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहते हैं. अजीब बात तो ये भी थी कि विराट कोहली ने भी दूसरा वनडे हारने के बाद कुछ ऐसी ही बात कही थी. विराट कोहली ने कहा था कि साल 2020 में टीम इंडिया का ध्यान टेस्ट और टी20 पर है, वनडे की इतनी अहमियत नहीं है.

India vs New Zealand: दूसरे वनडे में न्यूजीलैंड की 274 रनों की चुनौती के जवाब में भारतीय टीम 251 रनों पर ऑल आउट हो गई
31 साल बाद भारत का वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप


ये हार है बड़ी
भले ही भारतीय खिलाड़ी इस हार को छोटा बता रहे हैं और इसे तवज्जो नहीं दे रहे हैं, लेकिन आंकड़ों को देखें तो न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली ये हार बेहद ही शर्मनाक है. भारत ने 31 सालों के बाद वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप की हार झेली है. इससे पहले साल 1988/89 में भारत को 0-5 से हार का सामना करना पड़ा था. 2006-07 में भी भारतीय टीम को साउथ अफ्रीका ने 4-0 से हरा दिया था लेकिन ये पांच मैचों की वनडे सीरीज थी और एक मैच बारिश के चलते रद्द हो गया था.
cricket, cricket news, sports news, kedar jadhav, yuzvendra chehal, indian cricket team, क्रिकेट न्यूज, स्पोर्ट्स न्यूज, खेल, इंडियन क्रिकेट टीम, केदार जाधव, युजवेंद्र चहल, इंडिया वस वेस्टइंडीज
युजवेंद्र चहल ने कहा-हर वनडे सीरीज नहीं जीत सकते


चहल ने की टीम इंडिया के प्रदर्शन की तारीफ
चहल (Yuzvendra Chahal) ने कहा कि युवा खिलाड़ी न्यूजीलैंड में खेलने के अनुभव से काफी कुछ सीखेंगे. इस लेग स्पिनर ने कहा, 'पृथ्वी शॉ और मयंक अग्रवाल टीम में आए, इसलिए युवाओं को भारत के बाहर खेलने का मौका मिला. न्यूजीलैंड में खेलना आसान नहीं होता लेकिन कुल मिलाकर देखें तो यह सिर्फ एक वनडे श्रृंखला थी. हमने टी20 श्रृंखला 5-0 से जीती थी, पहली बार, यह हमारे लिए भी सकारात्मक पक्ष है.' लोकेश राहुल ने चौथा एकदिवसीय शतक जड़ा जबकि श्रेयस अय्यर ने भी अर्धशतक जड़ा जिससे भारत ने सात विकेट पर 296 रन बनाए. चहल ने इन दोनों के प्रयास की सराहना की. उन्होंने कहा, 'आप उनके अंदर आत्मविश्वास देख सकते हो. वे 25-26 साल के हैं और परिपक्वता के साथ बल्लेबाजी कर रहे हैं, वे स्थिति को अच्छी तरह समझते हैं. बीच के ओवरों के बल्लेबाजी करना आसान नहीं होगा विशेषकर तब जब स्पिनर गेंदबाजी कर रहे हों. राहुल ने शीर्ष क्रम में भी बल्लेबाजी की है, इसलिए यह परिपक्वता दिखाता है कि उसे पता है कि टीम को क्या जरूरत है.'

भारत की फील्डिंग बेहद खराब रही


फील्डिंग चिंता का विषय
चहल (Yuzvendra Chahal) ने मेजबान टीम की तारीफ की लेकिन साथ ही कहा कि फील्डिंग भारत के लिए चिंता की बात है. उन्होंने कहा, ' न्यूजीलैंड ने वनडे सीरीज में असाधारण प्रदर्शन किया, इसलिए हमें इसकी सराहना करनी होगी. कई बार खराब क्षेत्ररक्षण भी हुआ. 10 में से एक श्रृंखला में ऐसा होता है, हमारे पास अगली एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला तक का समय है.' चहल से जब यह पूछा गया कि विश्व कप के बाद वह और कुलदीप यादव एक साथ नहीं खेले हैं तो उन्होंने कहा, 'रवींद्र जडेजा शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, फिर यह बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी या क्षेत्ररक्षण, इसलिए आधे मैच मैं खेलता हूं और आधे कुलदीप.' चहल ने हालांकि कहा कि व्यस्त घरेलू सत्र के बाद 22 दिन में आठ सीमित ओवरों के मैच खेलने का उनकी हार से कोई लेना देना नहीं है. (भाषा के इनपुट के साथ)

इस खिलाड़ी ने वनडे में ठोका 'शर्मनाक दोहरा शतक', अब टीम इंडिया से होगा बाहर!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 7:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर