IPL में 6 साल बाद हुआ ये 'हादसा', दिल्‍ली का चैंपियन खिलाड़ी बना शिकार

अमित मिश्रा के साथ आईपीएल में हुआ 'हादसा' (photo-ipl)

अमित मिश्रा के साथ आईपीएल में हुआ 'हादसा' (photo-ipl)

आईपीएल में दूसरी बार कोई बल्‍लेबाज़ ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड का शिकार हुआ है.

  • Share this:
आईपीएल 12 के एलिमिनेटर मुकाबले में दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने सनराइजर्स हैदराबाद को दो विकेट से हराकर क्‍वालिफायर 2 में जगह बना ली है.

इस मैच में दिल्‍ली के कप्‍तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर हैदराबाद को पहले बल्‍लेबाजी का न्‍योता दिया. हालांकि अच्छी शुरुआत के बावजूद दिल्ली कैपिटल्स के गेंदबाजों ने हैदराबाद को 162 रनों पर रोक दिया. जबकि दिल्‍ली ने 163 रन का लक्ष्‍य पृथ्‍वी शॉ ( 56) और रिषभ पंत (45) के दम पर एक गेंद बाकी रहते हुए आठ विकेट गंवाकर हासिल कर लिया. लेकिन इस मैच में दिल्‍ली की जीत के अलावा अमित मिश्रा खासे सुर्खियों में रहे.

ऐसे बने चर्चा का कारण
रिषभ पंत के आउट होने के बाद अमित मिश्रा मैदान में आए. उस वक्‍त दिल्‍ली को छह गेंदों पर पांच रन की जरूरत थी. लेकिन वह दो गेंदों पर एक रन बनाकर ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड के कारण आउट हो गए. वह इस तरह आउट होने वाले इस सीजन के पहले खिलाड़ी हैं.
आपको बता दें कि सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज़ खलील अहमद ने अपने चौथे और पारी के 20वें ओवर की चौथी गेंद दिल्‍ली के बल्‍लेबाज़ अमित मिश्रा को डाली. वह (मिश्रा) इस लेंथ बॉल को नहीं खेल सके और वह विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के पास चली गई, लेकिन उनका थ्रो भी स्‍टंम्‍प चूक गया. इसके बाद खलील ने गेंद को पकड़कर नॉन स्‍ट्राइकर एंड पर मारा, लेकिन अमित मिश्रा के बीच में आने की वजह से वह निशाने पर नहीं लगा.




इसके बाद हैदराबाद के खिलाड़ियों ने अंपायर से ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड की अपील कर डाली और हैदराबाद को विकेट मिल गया. हालांकि अगली गेंद पर कीमो पॉल ने चौका जड़कर ना सिर्फ अपनी टीम को जीत दिलाई बल्कि हैदराबाद की टीम के जश्‍न को गम में बदल दिया.

आईपीएल में 6 साल बाद हुआ 'हादसा'
आईपीएल में इतिहास में कोई बल्‍लेबाज़ दूसरी बार ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड का शिकार हुआ है. इससे पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के यूसुफ पठान पुणे वॉरियर्स के खिलाफ आउट हुए थे. यह घटना 2013 में हुई थी. यह मैच रांची में खेला जा रहा था.

इस नियम के तहत होते हैं आउट
मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) को क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्था के रूप में जाना जाता है. जबकि क्रिकेट के नियम 37 के मुताबिक कोई बल्लेबाज रन लेने के दौरान फील्डर को अपने बल्ले या शरीर के हिस्से से बाधा पहुंचाता है तो वह आउट करार दिया जाएगा. इसे ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड कहते हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज