जिस खिलाड़ी को ऋषभ पंत ने नहीं दिया मौका, वो चुना गया साउथ अफ्रीका का बेस्ट क्रिकेटर

एनरिच नॉर्किया ने आईपीएल के पिछले सीजन सबसे तेज गेंद फेंकी थी  (Instagram)

एनरिच नॉर्किया ने आईपीएल के पिछले सीजन सबसे तेज गेंद फेंकी थी (Instagram)

दिल्ली कैपिटल्स के तेज गेंदबाज ने आईपीएल के पिछले सीजन में अपनी तेज रफ्तार गेंदों से सनसनी मचा दी थी. उन्‍होंने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आईपीएल इतिहास की सबसे तेज गेंदबाज फेंकी थी

  • Share this:

नई दिल्‍ली. ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की अगुआई वाली दिल्‍ली कैपिटल्‍स (Delhi Capitals) की तरफ से आईपीएल (IPL 2021) के इस सीजन के पहले चरण में मौका न मिल पाने वाले तेज गेंदबाज एनरिच नॉर्किया (Anrich Nortje) को साउथ अफ्रीका का बेस्‍ट क्रिकेटर चुना गया है. दरअसल नॉर्किया 6 अप्रैल को आईपीएल के लिए मुंबई पहुंचे थे और वह 7 दिन के लिए क्‍वारंटीन रहे थे. जिस वजह से नॉर्किया चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के खिलाफ 10 अप्रैल को दिल्‍ली के लिए ओपनिंग मैच नहीं खेल पाए थे. इसके बाद उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई गई और इसे मात देने के बावजूद उन्‍हें दिल्‍ली के लिए इस सीजन एक भी मैच में मौका नहीं मिल पाया.

साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड ने एक वर्चुअल अवॉर्ड सेरेमनी में नॉर्किया के नाम का ऐलान किया. इस सीजन में 10 टेस्‍ट मैच में नॉर्किया ने 48.50 की स्‍ट्राइक रेट से 39 विकेट लिए हैं. नॉर्किया (Anrich Nortje) ने आईपीएल के पिछले सीजन अपनी तेज रफ्तार गेंदों से सनसनी मचा दी था. उन्‍होंने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आईपीएल इतिहास की सबसे तेज गेंदबाज फेंकी. इस तेज गेंदबाज ने 156.2 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंक नया आईपीएल रिकॉर्ड बनाया था. उन्‍होंने पिछले सीजन 22 विकेट लिए थे.

कोरोना रिपोर्ट पर हुआ विवाद

नॉर्किया को लीग के पिछले सीजन के ऑक्‍शन से पहले कोलकाता नाइट राइडर्स ने रिलीज कर दिया था. इसके बाद अगस्‍त में उन्‍हें क्रिस वोक्‍स के रिप्‍लेसमेंट के रूप में दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने अपने साथ जोड़ा. दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के तेज गेंदबाज एनरिच नॉर्किया (Anrich Nortje) को कोविड-19 की गलत रिपोर्ट के कारण दो अतिरिक्त दिनों तक कड़े आइसोलेशन में रहना पड़ा था.
यह भी पढ़ें: 

IPL 2021: विदेशी खिलाड़ियों के नहीं आने से BCCI को नहीं पड़ता फर्क, कही हैरान करने वाली बात

IPL 2021 पर आई बड़ी खुशखबरी, फैंस को मिलेगी स्टेडियम में एंट्री, पूरी करनी होगी एक शर्त!



इस तेज गेंदबाज को आइसोलेशन के दौरान कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाया गया था, जिससे उनका आइसोलेशन जारी रहा. इसके बाद आरटी-पीसीआर जांच में तीन बार नेगेटिव आने के आद उन्हें टीम से जुड़ने की मंजूरी दे दी गई. हालांकि उन्‍हें इस साल आईपीएल के पहले चरण में अपनी गेंदबाजी का कमाल दिखाने को मौका नहीं मिला था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज