• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • CRICKET DEVDUTT PADIKKAL IS THE FIRST INDIAN TO SMASH FOUR CONSECUTIVE LIST A HUNDREDS

Vijay Hazare Trophy: 20 साल के पडिक्कल ने कोहली को पीछे छोड़ा, बनाया नया रिकॉर्ड

देवदत्त पडिक्कल ने मौजूदा सीजन के सभी मैच में 50 से अधिक रन बनाए हैं.

कर्नाटक के ओपनर बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल ने विजय हजारे ट्रॉफी में नया रिकॉर्ड बनाया. वे लिस्ट ए क्रिकेट में लगातार चार मैच में चार शतक लगाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कर्नाटक के बाएं हाथ के बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) ने लिस्ट ए टूर्नामेंट नया रिकॉर्ड बनाया. विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) के एक मैच में सोमवार को पडिक्कल ने केरल के खिलाफ शानदार 101 रन बनाए. वे लिस्ट ए क्रिकेट के लगातार चार मैच में चार शतक लगाने वाले पहले भारतीय बन गए हैं. विराट कोहली भी ऐसा नहीं कर सके थे. उन्होंने इस सीजन में खेले गए सभी 6 मैच में 50 से अधिक का स्कोर बनाया है.

    विराट कोहली (Virat Kohli) ने 2008-09 में विजय हजारे ट्रॉफी के एक सीजन में चार शतक लगाए थे. देवदत्त पडिक्कल के भी मौजूदा सीजन में चार शतक हो गए हैं. लेकिन कोहली ने लगातार चार शतक नहीं लगाए थे, जबकि पक्किल ने लगातार चार मैच चार शतक लगाए. 20 साल के पडिक्कत आईपीएल में कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू की ओर से ही खेलते हैं. टी20 लीग के पहले ही सीजन में पडिक्कल ने 15 मैच में 5 अर्धशतक के साथ 473 रन बनाए थे. विजय हजारे ट्रॉफी के मौजूदा सीजन की बात की जाए तो पडिक्कल ने 6 मैच में 168 की औसत से 673 रन बनाए हैं. इसमें 4 शतक और 2 अर्धशतक शामिल है. उन्होंने बाउंड्री से 364 रन बनाए हैं. यानी लगभग 54 फीसदी रन. इस दौरान उन्होंने 61 चौके और 20 छक्के लगाए.

    श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा की बराबरी की

    देवदत्त पडिक्कल ने इसके साथ श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. संगकारा ने 2015 वर्ल्ड कप में लगातार 4 मैच में शतक लगाए थे. पडिक्कत लिस्ट के इतिहास में लगातार 4 मैच में 4 शतक लगाने वाले सिर्फ तीसरे खिलाड़ी हैं. दक्षिण अफ्रीका के एल्विरो पीटरसन भी ऐसा कर चुके हैं. पडिक्कल विजय हजारे ट्रॉफी के एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं. इसके पहले यह रिकॉर्ड मयंक अग्रवाल के नाम था. 2018 में उन्होंने 633 रन बनाए थे. देवदत्त पडिक्कल ने 2019 में भी 609 रन बनाए थे.