19 साल के इस खिलाड़ी के बल्ले ने मचाई तबाही, 60 गेंदों पर जड़ दिए 122 रन, ठोके 13 चौके और 7 छक्के

देवदत्त पडिक्कल हाल ही में विजय हजारे ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में शीर्ष पर रहे थे. (फाइल फोटो)
देवदत्त पडिक्कल हाल ही में विजय हजारे ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में शीर्ष पर रहे थे. (फाइल फोटो)

कर्नाटक (Karnataka) के बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) ने हाल ही में खत्म हुई विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में 11 मैचों में 67.66 की औसत से सबसे ज्यादा 609 रन बनाए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2019, 6:08 PM IST
  • Share this:
विशाखापत्तनम. उम्र महज 19 साल और इरादे आसमान की बुलंदी छूने के. केरल में पैदा हुए और कर्नाटक (Karnataka) के लिए खेलने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) का परिचय कुछ ऐसा ही अलहदा है. अपने आक्रामक खेल से बेहद ही कम समय में अपनी अलग पहचान बनाने वाले देवदत्त पडिक्कल ने विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में तूफान उठाने के बाद अब सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (syed mushtaq ali trophy) में भी अपने बल्ले से तबाही मचा दी है. इसी का नतीजा रहा कि आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) से मिले 185 रन के लक्ष्य को कर्नाटक ने 18.5 ओवर में पांच विकेट खोकर ही हासिल कर लिया.

दरअसल, इस मैच में कर्नाटक (Karnataka) ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. टीम की शुरुआती हालांकि अच्छी नहीं रही और 5 रन के स्कोर पर ही उसके पहला झटका लग गया. ओपनर क्रांति कुमार 1 रन बनाकर अभिमन्यु मिथुन का शिकार बन गए. हालांकि इसके बाद अश्विन हेब्बर और प्रशांत ने दूसरे विकेट के लिए 143 रन की अहम साझेदारी कर टीम को संकट से निकाला. अश्विन ने 44 गेंद पर 61 रनों की पारी खेली. इस ताबड़तोड़ पारी में उन्होंने 7 चौके और 2 छक्के जड़े. वहीं प्रशांत ने 51 गेंदों पर खेली गई अपनी 79 रनों की पारी में 3 चौके और 6 छक्के लगाए. इन दोनों के अलावा कप्तान रिकी भुई ने 15 गेंद पर 21 रनों का योगदान दिया. कर्नाटक की ओर से वी. कौशिक ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए, जबकि अभिमन्यु मिथुन और श्रेयस गोपाल को एक-एक सफलता हाथ लगी.

cricket, cricket news, sports news, indian cricket team, Devdutt Padikkal, Syed Mushtaq Ali Trophy, karnataka, क्रिकेट न्यूज, स्पोर्ट्स न्यूज, देवदत्त पडिक्कल, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी, कर्नाटक, भारतीय क्रिकेट टीम, टी-20 क्रिकेट
देवदत्त पडिक्कल ने घरेलू क्रिकेट में लगातार बेहतरीन प्रदर्शन किया है. (फाइल फोटो)




जवाब में मजबूत लक्ष्य का पीछा करने उतरी कर्नाटक (Karnataka) की शुरुआत तो और भी खराब रही और उसके दो विकेट महज 7 रनों पर ही गिर गए. सी. स्टीफन ने दोनों ओपनर रोहन कदम और लवनित सिसोदिया को 1-1 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर आउट कर दिया. इसके बाद कृष्‍णप्पा गौतम और देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) ने मोर्चा संभाला और न केवल जोरदार पलटवार किया, बल्कि टीम को अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से एक समय असंभव नजर आ रही जीत दिला दी. गौतम ने 17 गेंदों पर ही 35 रन जड़े दिए. उन्होंने 5 चौके और एक बेहतरीन छक्का लगाया.
देवदत्त के तूफान में उड़ा आंध्र
इस दौरान देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) बेहद आक्रामक अंदाज में नजर आए. उन्होंने अपनी 122 रन की पारी में 13 चौके और 7 छक्के जड़े. देवदत्त ने ये रन महज 60 गेंदों पर बनाए. देवदत्त ने हाल ही में घरेलू क्रिकेट में असाधारण प्रदर्शन किया है और वह इस प्रदर्शन के दम पर टीम इंडिया (Team India) में बुलावे का इंतजार कर रहे हैं. ऐसे में जबकि ऑस्ट्रेलिया में अगले साल टी-20 वर्ल्ड कप भी होना है, देवदत्त का प्रदर्शन नजरअंदाज करना चयनकर्ताओं के लिए आसान कतई नहीं होगा.

विजय हजारे ट्रॉफी में बनाए सबसे ज्यादा रन
इस साल विजय हजारे ट्रॉफी में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) ही हैं. उन्होंने इस सीजन में 11 मैचों में 609 रन जड़ ‌दिए. इस टूर्नामेंट में उन्होंने दो शतक और पांच अर्धशतक जड़े हैं. अपने इस दमदार प्रदर्शन से उन्होंने टीम इंडिया का दरवाजा खटखटा दिया है.

टेनिस दिग्गज लिएंडर पेस को लगा बड़ा झटका, 19 साल में पहली बार हुआ ऐसा

मिलिए मकड़ी की एक नई प्रजाति 'मारेंगो सचिन तेंदुलकर' से, जानें क्या है पूरा मामला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज