Home /News /sports /

वर्ल्ड कप 2019 से पहले धोनी और युवराज के भविष्य पर चीफ सिलेक्टर का बड़ा बयान

वर्ल्ड कप 2019 से पहले धोनी और युवराज के भविष्य पर चीफ सिलेक्टर का बड़ा बयान

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 को ध्यान में रखते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के दो दिग्गज खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह के भविष्य को लेकर सेलेक्टर्स बड़ा फैसला ले सकते हैं

    आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 को ध्यान में रखते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के दो दिग्गज खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह के भविष्य को लेकर सिलेक्टर्स बड़ा फैसला ले सकते हैं. इस बात का संकेत टीम इंडिया के चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने दिए हैं.

    धोनी-युवी पर हो सकता है बड़ा फैसला
    प्रसाद ने विज़डन इंडिया को दिए इंटरव्यू में कहा कि फिलहाल दोनों खिलाड़ियों को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है लेकिन सही समय पर धोनी और युवराज को लेकर फैसले होंगे. प्रसाद ने कहा कि ये ऐसा फैसला नहीं है जिसे एक झटके में लिया जा सके. इन दोनों खिलाड़ियों के विकल्पों के बारे में एक-एक कर विचार किया जाएगा. हम समय आने पर टीम कॉम्बिनेशन के बारे में अपना फैसला लेंगे क्योंकि अचानक से कोई जल्दबाज़ी वाला फैसला नहीं लेना चाहते हैं. उन्होंने कहा, 'वर्ल्ड कप को लेकर टीम का तालमेल बैठाना कप्तान कोहली और कोच रवि शास्त्री पर निर्भर करता है.'

    प्रसाद ने धोनी और युवराज की तरफ इशारा करते हुए कहा कि सही समय आने पर हम इन दोनों दिग्गज खिलाड़ियों को लेकर टीम के कप्तान और कोच के साथ मिलकर बात करेंगे. भारतीय टीम के लिए साल 2007 से 2016 तक अद्भुत कप्तानी करने वाले धोनी टीम में अब विकेटकीपर बल्लेबाज़ के रूप में हैं.

    धोनी की हो रही है आलोचना
    पिछले कुछ समय से धोनी की खूब आलोचना की जा रही है. आलोचकों का कहना है कि धोनी में अब पहले की तरह मैच फिनिश करने का जादू नहीं रहा. उनका बल्लेबाजी स्तर पहले के मुकाबले काफी गिरा है, तो दूसरी तरफ 2011 विश्व कप के विजेता खिलाड़ी युवराज सिंह ने भी साल 2013 के बाद से बार-बार टीम में वापसी करने का प्रयास किया है. कुछ मौकों को छोड़ दिया जाए तो वह टीम के लिए लगातार प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं.

    चैंपियंस ट्रॉफी में दिखी टीम इंडिया की कमज़ोरी
    प्रसाद ने चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में हार पर भी बात करते हुए कहा, 'इस साल हुई चैंपियंस ट्रॉफी में हमें भारतीय टीम की कमज़ोरी और ताकत का पता चला है. हम टीम के सभी पक्षों को ध्यान में रखते हुए वर्ल्ड कप की तैयारियों में जुटेंगे. भारतीय टीम के भविष्य की योजनाओं को लेकर कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया जाएगा.

    फील्ड पर कप्तान बॉस होता है लेकिन सेलेक्शन कौन करता है
    इस सवाल के जवाब में प्रसाद ने कहा कि वैसे टीम में चयन का आखिरी फैसला चयनकर्ताओं का ही होता है. सबको ऐसा लगता है कि ये काम धोनी करते हैं या कोहली करते हैं. लेकिन सच्चाई ये नहीं है. सिलेक्शन मीटिंग में वो कप्तान की तौर पर बैठते हैं. वो स्टार खिलाड़ी हैं लेकिन हमारे ऊपर उनकी हर बात मानने का कोई दबाव नहीं है. धोनी हों या कोहली इन्होंने हमेशा ही चयनकर्ताओं का सम्मान किया है. अब तक हमने जितनी भी मीटिंग्स की हैं वो काफी दिलचस्प रहीं. उन्होंने कहा कि चयनकर्ताओं के साथ बैठक में कप्तान अपने साथ कोई बोझ नहीं लेकर आते हैं. प्रसाद ने कहा कि इससे टीम और क्रिकेट के हित में विचार करने में मदद मिलती है.

    ये भी पढ़ें:

    VIDEO: युवी की तरह एक ओवर में छह छक्के लगाना चाहता है टीम इंडिया का ये खिलाड़ी 

    शास्त्री ने बदला टीम इंडिया की ट्रेनिंग का तरीका, पहले टेस्ट में दिखा असर

    Tags: Mahendra Singh Dhoni, Yuvraj singh

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर