• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • यशपाल शर्मा जिस अभिनेता को इंटरनेशनल में लाने का श्रेय देते थे, उनके निधन के 7 दिन के भीतर दुनिया छोड़ गए

यशपाल शर्मा जिस अभिनेता को इंटरनेशनल में लाने का श्रेय देते थे, उनके निधन के 7 दिन के भीतर दुनिया छोड़ गए

Yashpal Sharma RIP: यशपाल शर्मा ने टेस्ट में भी यादगार पारी खेली.

Yashpal Sharma RIP: यशपाल शर्मा ने टेस्ट में भी यादगार पारी खेली.

Yashpal Sharma RIP: पूर्व भारतीय क्रिकेटर यशपाल शर्मा का 66 साल की उम्र में मंगलवार को निधन हो गया. वे 1983 में वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम में शामिल थे. इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण पारी भी खेली थी. हालांकि उनके इंटरनेशनल क्रिकेटर बनने की कहानी काफी रोचक थी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पूर्व भारतीय क्रिकेटर यशपाल शर्मा (Yashpal Sharma) का मंगलवार को निधन हो गया. वे 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम में शामिल थे. उन्होंने वर्ल्ड कप में 89 और 61 रन की महत्वपूर्ण पारियां खेली थीं. उन्होंने अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत 1978 में पाकिस्तान के खिलाफ की. वनडे में सिर्फ 4 अर्धशतक लगाने के बावजूद भी वे हमेशा टीम के अहम सदस्य रहे.

    हम बात कर रहे हैं भारत के दिग्गज बल्लेबाज यशपाल शर्मा (Yashpal Sharma) की, जिनकी 1983 की विश्व कप जीत में बेहद अहम भूमिका रही. दिलीप कुमार की सिफारिश की बात खुद यशपाल शर्मा ने ही बताई थी. यशपाल ने कहा था, ‘आप लोग दिलीप साहेब कहते हैं, मैं यूसुफ भाई (Yusuf Khan) कहता हूं. उसका एक किस्सा है. अगर क्रिकेट में मेरी किसी ने जिंदगी बनाई है, वह यूसुफ भाई ने बनाई है.’ दिलीप कुमार का निधन एक हफ्ते पहले 7 जुलाई को हुआ था.

    यशपाल शर्मा ने दिलीप कुमार और अपने इमोशनल रिश्ते को दो साल पहले ‘द कपिल शर्मा शो’ में विस्तार से बताया था. इस रिश्ते को यशपाल की जुबानी ही जानिए. वो कहते हैं, ‘मैं तब रणजी प्लेयर था. एक कंपनी के ग्राउंड पर नॉकआउट मैच चल रहा था, जिसके वो (दिलीप कुमार) चेयरमैन थे. मैं पहली पारी में शतक बना चुका था. दूसरी पारी में 80 के स्कोर के करीब खेल रहा था. तभी कुछ गाड़ियां आईं. मुझे लगा कि कोई लोकल नेता होंगे. उन्होंने कुछ पूछा होगा, जो मुझे बाद में पता लगा. मैंने शतक बनाया, उन्होंने क्लैपिंग की. फिर मुझे लगा कि वो जा चुके हैं. लेकिन जब मैच खत्म हुआ तो मुझे स्टेडियम के पदाधिकारियों ने कहा कि आप चलिए, आपसे कोई मिलना चाहता है. मैं जब ऑफिस गया तो देखा कि वहां सामने यूसुफ भाई खड़े हैं. उन्होंने जब मुझसे हाथ मिलाया और कहा कि मेरे को लगता है कि तुझमें दम है. मैं तेरे लिए किसी से बात करूंगा.’

    दिलीप कुमार ने इसके बाद यशपाल शर्मा के खेल की तारीफ राजसिंह डूंगरपुर से की, जो उस वक्त बीसीसीआई में अच्छी दखल रखते थे. यशपाल शर्मा को राजसिंह डूंगरपुर ने ही बताया था कि कभी दिलीप साहेब ने उनकी सिफारिश की थी. यशपाल शर्मा ने शो में बताया, ‘दिलीप साहेब ने राजसिंह से कहा था कि पंजाब का एक लड़का है. रणजी ट्रॉफी खेल रहा है. मैं उसकी बैटिंग देखकर आया हूं.’ इसके बाद राजसिंह डूंगरपुर ने यशपाल शर्मा के बारे में बीसीसीआई पदाधिकारियों से बात की थी.

    यह भी पढ़ें: Yashpal Sharma Death: यशपाल शर्मा के निधन की खबर सुन रो पड़े कपिल देव

    यह भी पढ़ें: यशपाल शर्मा थे 83 वर्ल्ड कप के हीरो, वेस्टइंडीज-इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया सबको धोया था

    क्रिकेटप्रेमी जानते हैं कि यशपाल शर्मा 1980 के दशक के भारत के प्रमुख और भरोसेमंद बल्लेबाजों में शामिल रहे हैं. उन्होंने 1983 के विश्व कप के पहले ही मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ 89 रन की जोरदार पारी खेली थी. भारत ने इस पारी की बदौलत ही दो बार के चैंपियन और सबसे तगड़े दावेदार को हराकर टूर्नामेंट की शानदार शुरुआत की थी. शर्मा ने इसके बाद वैसे तो कई उपयोगी पारियां खेलीं. लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल की 61 रन की पारी कोई कैसे भूल सकता है. भारत ने इस मैच में इंग्लैंड को 6 विकेट से हराया था और यशपाल शर्मा टॉप स्कोरर रहे थे. यशपाल शर्मा ने इसी मैच में इंग्लैंड के दिग्गज बल्लेबाज एलन लैंब को डायरेक्ट थ्रो से रन आउट किया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज