विराट कोहली पर भड़के पूर्व भारतीय कप्तान, कहा-न ओपनिंग का पता, न मध्यक्रम की खबर, ये तो होना ही था

विराट कोहली पर भड़के पूर्व भारतीय कप्तान, कहा-न ओपनिंग का पता, न मध्यक्रम की खबर, ये तो होना ही था
विराट कोहली का बल्ला इस दौरे पर अभी तक शांत है (फाइल फाेटो)

पहले टेस्ट मैच में मेजबान न्यूजीलैंड (New Zealand) ने भारत को 10 विकेट से हरा दिया था, जो इस दौरे पर टीम इंडिया की लगातार चौथी हार थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 3:07 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली.  मेजबान न्यूजीलैंड के हाथों पहले टेस्ट मैच में 10 विकेट से करारी शिकस्त झेलने के बाद हर जगह टीम इंडिया (Team India) की किरकिरी हो रही है. विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुआई वाली टीम वेलिंगटन टेस्‍ट में हर विभाग में फ्लॉप रही. भारतीय बल्लेबाज मेजबान के स्विंग और तेज गेंदबाजी अटैक के सामने जूझते दिखे और टीम पहली पारी में 165 और दूसरी पारी में 191 रन पर ही सिमट गई. इस दौरे पर भारत की यह लगातार चौथी हार थी. इससे पहले टीम ने 0-3 से वनडे सीरीज गंवा दी थी. पहले मैच में सिर्फ तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) और सलामी बल्लेबाज मयं‌क अग्रवाल ही कुछ प्रभावी प्रदर्शन कर पाए. मयंक ने दूसरी पारी में अर्धशतक जड़ा था.

वनडे सीरीज में हार के बाद पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर (Dilip Vengsarkar) ने टेस्ट सीरीज के लिए भी टीम को चेतावनी दी थी. उनके अनुसार टीम की हार का सबसे बड़ा कारण स्थिरता की कमी है. टीम को स्थिर होने का मौका ही नहीं मिलता. ओपनिंग जोड़ी तय नहीं हो पाई. मिडिल ऑर्डर का भी पता नहीं. हार के बाद कप्तान कोहली ने अपनी टीम से सकारात्मक इरादे के साथ मैदान पर उतरने का आग्रह किया था. पूर्व चयनकर्ता वेंगसरकर ने चेतेश्वर पुजारा की ओर भी इशारा किया.

स्ट्राइक रोटेट करने में सक्षम होना चाहिए
वेंगसरकर ने पुजारा के बारे में कहा कि उन्होंने काफी रन बनाए हैं, मगर उन्हें स्ट्राइक रोटेट करने में सक्षम होना चाहिए, नहीं  तो दूसरे छोर पर खड़ा उनका बल्लेबाजी जोड़ीदार वहां पर खड़े-खड़े अपनी लय खो देगा और मुश्किल में फंस जाएगा.



सुरक्षित विकल्प चुनना होगा


हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के अनुसार भारत के पूर्व नंबर तीन बल्लेबाज वेंगसरकर ने भारत को गेंद छोड़ने और डक करने को लेकर सुरक्षित विकल्प चुनने की सलाह दी है. उन्होंने कहा कि आप हुक शॉट को नियंत्रण में नहीं रख सकते. उन्होंने न्यूजीलैंड के निचले क्रम के खिलाफ भारत की शॉर्ट पिच बॉलिंग की तकनीक की भी काफी आलोचना की. उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया (Australia) और इंग्लैंड के बल्लेबाज शॉर्ट पिच गेंद के आदी हैं. उनके निचले क्रम के बल्लेबाजों ने रन बनाए और 225 रन पर सात विकेट गंवाने वाली न्यूजीलैंड की टीम ने पहली पारी में 348 रन बना डाले.

 

क्राइस्टचर्च में ठोका था दोहरा शतक, दूसरे टेस्ट में विराट का होगा संकटमोचक!

वनडे मैच में एक भी छक्का लगाए बिना ठोक डाले 345 रन

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading