Home /News /sports /

दिनेश बाना; भारत को मिला धोनी की तरह छक्का मारकर विश्व कप जिताने वाला कीपर-बैटर, ऋषभ पंत के लिए नया चैलेंज

दिनेश बाना; भारत को मिला धोनी की तरह छक्का मारकर विश्व कप जिताने वाला कीपर-बैटर, ऋषभ पंत के लिए नया चैलेंज

एमएस धोनी ने 2011 में छक्का मारकर वर्ल्ड कप जिताया था. (AFP)

एमएस धोनी ने 2011 में छक्का मारकर वर्ल्ड कप जिताया था. (AFP)

Under 19 World Cup Final: भारतीय टीम ने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीत लिया है. इस जीत ने 2011 के आईसीसी वर्ल्ड कप की याद दिला दी, जिसकी आखिरी गेंद पर कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी (MS Dhoni) ने छक्का लगाया था. अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में भी भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश बाना (Dinesh Bana) ने छक्का मारकर जीत दिलाई. बाना ने एक नहीं, लगातार दो छक्के जमाकर मैच खत्म किया.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. भारतीय टीम ने अंडर-19 वर्ल्ड कप (Under 19 World Cup 2022) जीतकर अपने प्रशंसकों का सीना चौड़ा कर दिया है. ना सिर्फ जीत, बल्कि जीतने के तरीके ने भी बता दिया कि हमारे युवा चैंपियन अगले कई बरस क्रिकेट की दुनिया पर राज करने वाले हैं. अंदाज की बात की, तो दिनेश बाना (Dinesh Bana) का नाम सबसे पहले याद आया. इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने बिलकुल उसी तरह छक्का लगाकर भारत को विश्व कप जिताया, जैसा 11 साल पहले एमएस धोनी (MS Dhoni) ने जिताया था. यह भी कह सकते हैं कि दिनेश बाना तो धोनी से एक कदम आगे ही निकल गए. धोनी ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाया था. बाना ने आखिरी दो गेंदों पर छक्का लगाकर भारत को लक्ष्य के पार पहुंचाया.

एक जमाना था जब भारत ऐसे विकेटकीपर बल्लेबाज (Wicket-Keeper Batsman) के लिए तरसता था, जो अपने बैट से भी मैच जिताने की कूबत रखता हो. और अब हमारे पास ऐसे विकेटकीपर बल्लेबाजों की लंबी फौज है, जो छक्कों-चौकों में ही बात करना पसंद करते हैं. दिनेश बाना (Dinesh Bana) इस लिस्ट में नया नाम है. बाना को चौके-छक्के कितने प्रिय हैं, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अंडर-19 वर्ल्ड कप (Under 19 World Cup) की अपनी आखिरी 9 गेंदों पर 32 रन बनाए हैं. इनमें 4 छक्के और 2 चौके शामिल हैं. बाना ने फाइनल में 5 गेंद पर 13 रन बनाए. इससे पहले बाना ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में 4 गेंद पर 20 रन बनाए थे. यानी उनका स्ट्राइक रेट 500 रहा था.

भारत के विस्फोटक विकेटकीपर बल्लेबाजों की लिस्ट बनाने पर पहला नाम एमएस धोनी का आता है. वैसे तो धोनी से कुछ महीने पहले दिनेश कार्तिक भी टीम में एंट्री कर चुके थे और अच्छी बैटिंग करते थे. लेकिन धोनी ने अपने चौकों-छक्कों से कुछ ऐसा सिक्का जमाया कि दिनेश कार्तिक 100 से ज्यादा मैच खेलकर भी कभी टीम के नियमित सदस्य नहीं बन पाए.

यह भी पढ़ें: U19 WC: भारत ने रिकॉर्ड 5वीं बार खिताब जीता, इंग्लैंड को रौंदा, बावा और रशीद का दमदार खेल

U19 WC Final Highlights: दिनेश बाना ने छक्के से दिलाया वर्ल्ड कप, कोहली के बराबर पहुंचे यश धुल

एमएस धोनी के रिटायर होते-होते ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने एंट्री मारी. पंत ने जब टीम इंडिया में एंट्री की, वह विकेटकीपर बल्लेबाजों का दौर कहा जा सकता है. इससे गजब क्या हो सकता है कि 2019 के वर्ल्ड कप में भारत की ओर से एक ही मैच में हमें 4 विकेटकीपर बल्लेबाज खेलते दिखे. इनमें एमएस धोनी के अलावा, दिनेश कार्तिक ऋषभ पंत और केएल राहुल शामिल हैं. आज भी हम देखते हैं कि भारतीय टीम में ऋषभ पंत के अलावा ईशान किशन और संजू सैमसन दिखते हैं. खास बात यह कि जब पंत विकेटकीपर बल्लेबाज खेलते हैं, तो ईशान किशन या संजू सैमसन बतौर बल्लेबाज टीम में जगह बना लेते हैं.

कह सकते हैं कि ऋषभ पंत को चौतरफा चुनौती मिल रही है. उन पर हमेशा अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव बना रहने वाला है. जबकि हकीकत यह भी है कि खेल में किसी खिलाड़ी की फॉर्म या फिटनेस कब खराब हो जाए, कोई नहीं जानता. और अगर चुनौती पंत जैसी हो तो फिर कहने ही क्या? ऋषभ पंत को भी यह बात अच्छे से पता होगी कि भारत को एक और दमदार विकेटकीपर बल्लेबाज मिल गया है और वह उनकी ही तरह छक्के लगाकर मैच जिताना भी जानता है. कोई शक नहीं कि दिनेश बाना अगले कुछ बरसों में भारतीय टीम में दस्तक देते नजर आएंगे. उनकी यह दस्तक ऋषभ पंत समेत उन विकेटकीपर बल्लेबाजों के लिए चुनौती मानी जाएगी, जो इन दिनों या तो टीम इंडिया से खेल रहे हैं या उसकी बेंच स्ट्रेंथ माने जाते हैं.

Tags: Dinesh Bana, India under 19, Indian Cricket Team, Ms dhoni, Rishabh Pant, Under 19 World Cup, Under-19 World Cup 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर