Home /News /sports /

IND vs NZ: दिनेश कार्तिक ने विराट कोहली को आउट देने के थर्ड अंपायर के फैसले का किया समर्थन

IND vs NZ: दिनेश कार्तिक ने विराट कोहली को आउट देने के थर्ड अंपायर के फैसले का किया समर्थन

दिनेश कार्तिक ने कहा कि मामला बहुत करीबी था, इसी वजह से थर्ड अंपायर ने नियमों पर ध्यान दिया. (Instagram)

दिनेश कार्तिक ने कहा कि मामला बहुत करीबी था, इसी वजह से थर्ड अंपायर ने नियमों पर ध्यान दिया. (Instagram)

दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने कहा कि नियमों के अनुसार, मैदानी अंपायर के फैसले को पलटने के लिए निर्णायक सबूत होने चाहिए. उन्होंने साथ ही कहा कि थर्ड अंपायर वीरेंद्र शर्मा को निर्णायक सबूत नहीं मिले कि वह मैदानी अंपायर के फैसले को पलट दें, भले ही सोशल मीडिया की दुनिया को यकीन है कि गेंद पहले बल्ले से टकराई.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच (IND vs NZ 2nd Test) की पहली पारी में भारत के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का आउट होना चर्चा का एक विषय बन गया. कोहली को ऑन-फील्ड अंपायर ने एलबीडब्ल्यू आउट करार दिया. भारतीय कप्तान ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन थर्ड अंपायर वीरेंद्र शर्मा ने मैदानी अंपायर के फैसले को बरकरार रखा. रीप्ले से पता चला कि गेंद बल्ले के साथ-साथ पैड पर भी एक साथ लगी.

    थर्ड अंपायर वीरेंद्र शर्मा ने विराट कोहली को आउट ही माना क्योंकि उन्हें मैदानी अंपायर के फैसले को पलटने के लिए निर्णायक सबूत नहीं मिला. इससे कोहली खाता खोले बिना पैवेलियन लौट गए. अब विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने भी इस मामले पर अपनी राय रखी है. कार्तिक ने कहा कि जब उन्होंने पहली बार इसे लाइव देखा तो लगा कि गेंद पहले पैड से टकराई लेकिन बाद में पता चला कि यह एक करीबी मामला है.

    इसे भी देखें, एजाज पटेल ने वो कर दिखाया, जो 113 टेस्ट खेलकर दिग्गज गेंदबाज नहीं कर सका

    कार्तिक ने क्रिकबज से कहा, ‘मैंने इसे लाइव देखा. जब मैंने पहली बार देखा, तो लगा कि शायद यह पैड-बैट-पैड था लेकिन जब वे रिप्ले दिखाते रहे तो काफी करीबी मामला लगा. नियमों के अनुसार, मैदानी अंपायर के फैसले को पलटने के लिए निर्णायक सबूत होने चाहिए. मुझे लगता है कि अंपायर वीरेंद्र शर्मा को निर्णायक सबूत नहीं मिले, भले ही ट्विटर की दुनिया और बाकी सोशल मीडिया की दुनिया को यकीन है कि गेंद पहले बल्ले से टकराई.’

    36 वर्षीय दिनेश कार्तिक ने यह भी कहा कि इसका पता लगाने के लिए जूमर की जरूरत होती है कि गेंद पहले कहां लगी है. कार्तिक को भी लगता है कि इतना भ्रम था और वीरेंद्र शर्मा नियम पुस्तिका के अनुसार चले गए, भले ही यह एक बहस का विषय बन गया.

    उन्होंने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो, यह वास्तव में मुश्किल है. आपको जूमर की जरूरत है और सचमुच यह जानने की जरूरत है कि गेंद पहले कहां हिट हुई. जब गेंद बल्ले से टकराई तो आप पिछले हिस्से को पैड से टकराते हुए भी देख सकते हैं. इसलिए, जब इतना भ्रम होता है, तो आप उस निर्णय के साथ जाते हैं जो मैदानी अंपायर ने दिया है.’

    Tags: Cricket news, Dinesh karthik, IND vs NZ, IND vs NZ 2021, India vs new zealand, Virat Kohli

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर