ढाका प्रीमियर लीग के अधिकारियों पर हमला, पुलिस और कर्मचारियों की झड़प में हुए चोटिल

घटना की वजह से मुकाबला भी आधे घंटे की देरी से शुरू हुआ (सांकेतिक फोटो)

रिपोर्ट्स के अनुसार मैच अधिकारियों की कार को करीब 20 मिनट तक रोककर रखा गया, जिसके बाद अधिकार वहां से भाग निकले. इस घटना की वजह से मुकाबला भी आधे घंटे की देरी से शुरू हुआ

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. ढाका प्रीमियर लीग (DPL 2021) इन दिनों काफी चर्चा में हैं. कभी मैदान पर खिलाड़ियों की हरकत के कारण तो कभी मैदान के बाहर किसी न किसी वजह से चर्चा में है. बांग्लादेश क्रिया शिक्खा प्रोटिष्टन जा रहे ढाका प्रीमियर लीग के कुछ अधिकारियों पर हमला किया गया, जिसमें उन्‍हें चोटें भी आई हैं. दरअसल कुछ कपड़ा मजदूरों और पुलिस के बीच चल रहे विरोध प्रदर्शन के दौरान मैच अधिकारियों पर हमला किया गया.

    शैफुद्दीन, अब्‍दुल्‍ला, अल मोतिन, तनवीर अहमद, इमरान परवेज, सोहराब हुसैन, बराकतुल्‍लाह तुर्की, आदिल अहमद और देबब्रत पॉल इस हमले में शिकार बने. इस हमले में उनकी कार भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्‍त हो गई. चश्‍मदीदों का यह भी कहना है कि कार को करीब 20 मिनट तक रोके रखा गया था, जिसके बाद अधिकार वहां से भाग निकले.

    देरी से शुरू हुआ मैच 

    घटना के बाद अपांयर और रेफरी मैच की जगह पहुंचे, मगर इस कारण से मुकाबला आधे घंटे की देरी से शुरू हुआ. ढाका मेट्रोपोलिस क्रिकेट कमेटी के चेयरमैन काजी अहमद ने कहा कि मैच अधिकारियों ने काफी साहस दिखाया और मैच सुबह 9.30 बजे शुरू हुआ.

    यह भी पढ़ें : 

    DPL 2021 : माफी मांगने पर भी नहीं बच पाए शाकिब अल हसन, बैन के साथ देना होगा पांच लाख का जुर्माना

    WTC Final 2021: इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज से न्‍यूजीलैंड को फायदा, भारत के खिलाफ टीम चुनने के लिए मिले काफी विकल्‍प

    इससे पहले यह लीग शाकिब अल हसन के कारण चर्चा में आ गई थी. दरअसल अंपायर की ओर से एलबीडब्ल्यू कॉल पर इनकार करने के बाद शाकिब पूरी तरह से अपना आपा खो बैठे थे और गुस्से में स्टंप्स को लात मार दी थी. उन्होंने बाद में स्टंप्स को हाथ से उखाड़कर फेंक दिया. उन्‍हें ढाका प्रीमियर लीग (DPL 2021) के तीन मैचों के लिए सस्पेंड कर दिया गया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.