द्रविड़ चाहते हैं टेस्ट में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करे रहाणे

पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि वह चाहते हैं कि बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे पांचवें नंबर बल्लेबाजी करे।

पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि वह चाहते हैं कि बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे पांचवें नंबर बल्लेबाजी करे।

पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि वह चाहते हैं कि बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे पांचवें नंबर बल्लेबाजी करे।

  • Share this:
मुंबईटेस्ट क्रिकेट में अजिंक्य रहाणे के बल्लेबाजी क्रम को लेकर चल रही बहस में हिस्सा लेते हुए पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि वह चाहते हैं कि राजस्थान रॉयल्स टीम में एक समय उनका साथी रहा यह बल्लेबाज पांचवें नंबर बल्लेबाजी करे और तीसरे नंबर पर नहीं जहां वह श्रीलंका के खिलाफ अंतिम दो टेस्ट में खेलने उतरे।

पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज आकाश चोपड़ा की किताब ‘द इनसाइड’ के लांच के दौरान द्रविड़ ने उनसे कहा कि वह पांचवें नंबर पर अच्छा है, यहां तक कि चौथे नंबर पर और साथ ही वह दूसरी नई गेंद का सामना करने को भी तैयार रहता है। चोपड़ा ने किताब के लांच के दौरान द्रविड़ से सवाल पूछा था कि अजिंक्य तीसरे नंबर पर या पांचवें नंबर पर, आप क्या चाहते हैं।

रहाणे दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के दौरे पर पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए भारत की ओर से निरंतर प्रदर्शन करने वाले मध्यक्रम के बल्लेबाज रहे, लेकिन श्रीलंका के खिलाफ दूसरे और तीसरे टेस्ट में उन्हें तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया। जिसके बाद उनके क्रम को लेकर बहस शुरू हुई। भारत ने श्रीलंका को 2-1 से हराया था।



रहाणे ने कोलंबो के पी सारा ओवल में दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी में शतक जड़ते हुए भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई थी। लेकिन बाकी तीन पारियों में वह दोहरे अंक में भी पहुंचने में नाकाम रहे। मुंबई की रणजी टीम के उनके साथी रोहित शर्मा पहले टेस्ट में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए नाकाम रहे। लेकिन पांचवें नंबर पर खेलते हुए उन्होंने दो अर्धशतक जड़े जबकि अन्य दो पारियों में भी अच्छी शुरुआत की।
एक अन्य महान क्रिकेटर और पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी दूसरे टेस्ट के दौरान टीवी चैनल से बात करते हुए बल्लेबाजी क्रम बदलने की आलोचना की थी। गावस्कर ने कहा था कि उन्होंने एक अच्छे व्यक्ति का बलिदान दे दिया। वह कुछ अच्छे और शांत रहने वाले खिलाड़ियों में से है जो कुछ नहीं कहता। उसे उस समय तीसरे नंबर पर भेजा गया जब वह पांचवें नंबर पर सफल रहा। यह उसके प्रति कड़ा फैसला है। उन्होंने कहा कि लेकिन वह वही करेगा जिसकी जरूरत है। वह राहुल द्रविड़ से सीख लेकर आया है। राहुल ने भी तीसरे और पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी की। वह रहाणे का मेंटर है और वह (रहाणे) भी यही करेगा।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज