लाइव टीवी

हरभजन ने दी थी दरवाजा तोड़ने की सलाह, अब इस बल्लेबाज ने 10 छक्कों से 54 गेंदों पर जड़े 117 रन

News18Hindi
Updated: February 27, 2020, 7:14 PM IST
हरभजन ने दी थी दरवाजा तोड़ने की सलाह, अब इस बल्लेबाज ने 10 छक्कों से 54 गेंदों पर जड़े 117 रन
सूर्यकुमार यादव ने डीवाई पाटिल टी20 टूर्नामेंट में कमाल का प्रदर्शन किया (फाइल फोटो)

सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने अपनी इस पारी में सात चौके और दस छक्के लगाए. ऐसी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करके मुंबई इंडियंस के सूर्यकुमार ने आईपीएल (IPL) से ठीक पहले अपनी फॉर्म दिखा दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 7:14 PM IST
  • Share this:
मुंबई. अगले महीने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन का आगाज होगा. हर टीम अपनी तैयारियों में जुट गई है. आईपीएल से पहले खिलाड़ी भी अपनी फॉर्म को हासिल करने की कोशिश में लगे हुए हैं. इसी बीच दायें हाथ के बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने 54 गेंदों पर 117 रन जड़कर कोहराम मचा दिया. सूर्यकुमार ने अपनी पारी में सात चौके और 10 छक्के लगाए. ऐसी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करके मुंबई इंडियंस के सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने आईपीएल (IPL) से ठीक पहले अपनी फॉर्म दिखा दी है.

डीवाई पाटिल टी20 टूर्नामेंट (DY Patil T20) में बीपीसीएल की ओर से सेंट्रल रेलवे के खिलाफ सूर्यकुमार ने कप्तानी पारी खेली. उनकी इस पारी के दम पर बीपीसीएल ने निर्धारित 20 ओवर में 233 रन बनाए.  सूर्यकुमार ने अपना शतक 45 गेंदों में पूरा किया था. उन्होंने 45 गेंदों पर सात चौके और आठ छक्के लगाकर 100 रन पूरे किए थे. जबकि पचासा 24 गेंदों पर पूरा किया था.

सूर्यकुमार को नजरअंदाज किए जाने पर भड़के थे हरभजन
ताबड़तोड़ पारी खेलकर सूर्यकुमार ने अपनी फॉर्म तो दिखा दी है. अब उनके पास टीम इंडिया (Team India) के लिए दरवाजा खटखटकाने का एक रास्ता आईपीएल ही है. हालांकि वह लगातार अच्छा प्रदर्शन  कर रहे हैं. मगर इसके बावजूद उन्हें टीम इंडिया के लिए नजरअंदाज किया जाता रहा है. लगातार उनकी अनदेखी करने के कारण हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) चयनकर्ताओं पर कई बार भड़क भी चुके हैं . श्रीलंका के ‌खिलाफ टी20 और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए सूर्यकुमार को न चुनने पर हरभजन ने हैरानी जताई थी कि आखिर उसने गलत क्या किया है? सूर्यकुमार दूसरे खिलाड़ियों की तरह ही रन बना रहे हैं जो कि इंडिया ए और इंडिया बी के लिए चयनित हो रहे हैं. अलग खिलाड़ियों के लिए अलग-अलग नियम क्यों?'



इससे पहले भी सूर्यकुमार का समर्थन करते हुए पिछले साल नवंबर में हरभजन ने कहा था कि वह उन्हें इंडिया के लिए खेलते हुए देखना चाहते हैं. उनका कहना है कि दरवाजा खटखटाते रहें (टीम में जगह के लिए) लेकिन अब समय है कि दरवाजा ही तोड़ दिया जाए.

ये भी पढ़ें :-

न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से पहले हनुमा विहारी बने भारतीय टीम के 'कोच'

पुजारा के समर्थन में खड़े हुए अजिंक्य रहाणे, कप्तान विराट को दिया जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 6:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर