इंग्लैंड जाने वाले खिलाड़ियों की चिंता खत्म, बीसीसीआई की टीम घर जाकर करेगी कोरोना टेस्ट

विराट काेहली पहली आईसीसी ट्रॉफी जीतना चाहेंगे. (AFP)

विराट काेहली पहली आईसीसी ट्रॉफी जीतना चाहेंगे. (AFP)

टीम इंडिया (Team India) को अगले महीने इंग्लैंड दौरे पर जाना है. टीम को वहां वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World test Championship) के फाइनल के अलावा इंग्लैंड (India vs England) से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. दोनों सीरीज के लिए टीम घोषित की जा चुकी है.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना (Covid-19) के बीच कई भारतीय खिलाड़ी पहला टीका लगवा चुके हैं. इंग्लैंड जाने पहले सभी खिलाड़ियाें को एक टीका लगना है. टीम 2 जून को इंग्लैंड दौरे के लिए रवाना होगी. टीम को वहां वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World test Championship) के फाइनल के अलावा इंग्लैंड से (India vs England) से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. फाइनल 18 से 22 जून के साउथम्प्टन में खेला जाएगा. दोनों सीरीज के लिए भारतीय टीम घोषित की जा चुकी है.

क्रिकबज की खबर के अनुसार, इंग्लैंड दौरे पर जाने वाले सभी खिलाड़ियों का कोरोना आरटी-पीसीआर टेस्ट घर पर होगा. बीसीसीआई के मैनेजर सभी खिलाड़ियाें के घर मेडिकल टीम भेजेंगे. खिलाड़ियों के अलावा घर के सभी सदस्यों का भी टेस्ट होगा. अगले कुछ दिनों में सभ खिलाड़ियाें का टेस्ट किया जाएगा. खिलाड़ियों को किसी तरह की दिक्कत ना हो बोर्ड, इसलिए इस तरह के कदम उठा रहा है.

लोकल खिलाड़ियों को एक हफ्ते की छूट

बीसीसीआई अभी ब्रिटेन सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय की एडवाइजरी का इंतजार कर रहा है. बोर्ड को इस बारे में जानकारी आईसीसी से मिलेगी. हालांकि बोर्ड सभी खिलाड़ियाें को दो हफ्ते के लिए मुंबई में क्वारंटाइन करेगी. इस दौरान लोकल खिलाड़ियों को इससे एक हफ्ते की छूट रहेगी. लेकिन वे इस दौरान घर के बाहर नहीं जा सकेंगे. खिलाड़ी 18 या 19 जून को एकत्रित हो सकते हैं, जिससे वे समय से क्वाइंटाइन का समय पूरा कर सकें.
क्वारेंटाइन से पहले तीन टेस्ट होगा

इंग्लैंड दाैरे पर जाने वाले खिलाड़ियों को उनके सदस्याें का क्वारंटाइन से पहले तीन टेस्ट होगा. इसके बाद आइसोलेशन में आने के बाद उनका लगातार टेस्ट किया जाएगा. आईपीएल के दौरान बायो बबल के बाद भी कोरोना के केस आने के बाद बीसीसीआई ने आइसोलेशन के नियम को और कड़ा कर दिया है. दौरे पर जाने वाले 90 फीसदी खिलाड़ियों को टीका लगाया जाएगा. टीके का दूसरा डोज ब्रिटेन में ही लगेगा. बोर्ड ने पहले ही यह बात साफ कर दी है कि पॉजिटिव पाए जाने वाले खिलाड़ी इंग्लैंड दौरे पर नहीं जा सकेंगे. ऐसे में सभी खिलाड़ी काफी सतर्क हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज