Ashes 2019: एशेज में गूंजी नस्लीय टिप्पणी, इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड हुआ परेशान

News18Hindi
Updated: September 10, 2019, 4:33 PM IST
Ashes 2019: एशेज में गूंजी नस्लीय टिप्पणी, इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड हुआ परेशान
चौथे टेस्ट मैच के दूसरे दिन ये घटना हुई

चौथे एशेज टेस्ट (Ashes) मैच के दूसरे दिन नस्लीय टिप्पणी सुनने के बाद कई दर्शकों ने स्टेडियम छोड़ दिया था

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2019, 4:33 PM IST
  • Share this:



मैनचेस्टर.  इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट (England and Wales Cricket Board) बोर्ड के सामने इन दिनों कुछ दर्शकों ने मुश्किल खड़ी कर दी है. सीरीज के दौरान नस्लीय टिप्पणी ने बोर्ड को परेशान कर रखा है. ओल्ड ट्रैफर्ड में खेले गए चौथे टेस्ट मैच के दौरान दर्शकाें के एक ग्रुप की ओर से किए गए नस्लीय, सेक्सिस्ट और होमोफोबिक कमेंट्स ने पूरे स्टेडियम में खलबली मचा दी ‌थी. जिससे बाकी के दर्शकाें को भी परेशानी हुई. चौथे टेस्ट के दौरान कई फैंस ने इस कारण स्टेडियम छोड़ ‌दिया था.

ब्रिटिश मीडिया के अनुसार चौथे मैच के दूसरे दिन एक दर्शक ने इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) के बारे में नस्लीय टिप्पणी सुनने के बाद स्टेडियम छोड़ दिया था. इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (England and Wales Cricket Board) को इसकी शिकायत भी की. ब्रिटिश मीडिया के  लिए जारी किए गए बयान में इंग्‍लैंड बोर्ड ने कहा ‌कि उन्हें यह सुनकर काफी बुरा लगा कि चौथे टेस्ट मैच के दौरान दर्शकाें का एक समूह असमाजिक व्यवहार कर रहा था. बोर्ड ने कहा कि यह अहम है कि इस तरह के व्यवहार के लिए सभी प्रशंसक आगे आए और शिकायत दर्ज कराए.


पहले भी आर्चर  बने थे ‌शिकार

ओल्ड ट्रैफर्ड में खेले गए इस मुकाबले को ऑस्ट्रेलिया ने 185 रनों से अपने नाम किया और इसी जीत के साथ टीम एशेज सीरीज पर भी अपना कब्जा बरकरार रखने में सफल हो गई.
Loading...



ashes, england national cricket team, jofra archer, जोफ्रा आर्चर, एशेज
पहले भी जोफ्रा आर्चर ऑस्ट्रेलियन फैंस के कमेंट्स का शिकार बने थे


हालांकि इससे पहले भी जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer)  को लेकर स्टेडियम में ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों ने कई कमेंट्स किए थे. इससे पहले दर्शकों ने एक समूह ने आर्चर (Jofra Archer)  से अपना पासपोर्ट दिखाने के लिए कहा था. दरअसल जोफ्रा आर्चर का जन्म बारबाडोस में हुआ था, लेकिन इनके पिता इंग्लिश थे और पिता के जरिए उन्हें यहां का पासपोर्ट मिल गया.




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 4:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...