अपना शहर चुनें

States

बड़ी खबर: जल्द शुरू होगा इंग्लैंड क्रिकेट टीम का अभ्यास, जुलाई में होगी वेस्टइंडीज से सीरीज

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने दिया अहम सुझाव
इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने दिया अहम सुझाव

इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) ने बड़ा फैसला लेते हुए जल्द ही खिलाड़ियों को प्रैक्टिस पर उतारने का फैसला किया है

  • Share this:
लंदन. कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से क्रिकेट पूरी तरह ठप है लेकिन अब खबर आ रही है कि जल्द ही खिलाड़ी मैदान पर प्रैक्टिस करने के लिए उतर सकते हैं. इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) अपने खिलाड़ियों को प्रैक्टिस के लिए मैदान पर उतारने का विचार कर रही है. खबरों के मुताबिक इंग्लैंड के क्रिकेटर आने वाले सप्ताहों में आउटडोर अभ्यास शुरू कर सकते हैं चूंकि इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) जुलाई में वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला के जरिये अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली चाहता है . ईसीबी के क्रिकेट निदेशक एशले जाइल्स ने यह जानकारी दी . वैसे सरकार द्वारा जारी स्वास्थ्य दिशा निर्देशों के अनुसार ब्रिटेन में सभी खेलों में खिलाड़ियों को नाम वापिस लेने का विकल्प रहेगा .

क्या बोले एशले जाइल्स
जाइल्स ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा ,'ये क्रिकेट की बहाली की दिशा में पहले कदम हैं .' उन्होंने कहा ,'यह व्यक्तिगत अभ्यास की बात है . अगर हालात काबू में आते हैं तो सुपरमार्केंट जाने से सुरक्षित अभ्यास पर लौटना होगा .' सरकारी विभाग द्वारा जारी दस्तावेज के अनुसार खिलाड़ियों के पास विकल्प रहेगा . इसमें कहा गया ,'खिलाड़ियों के पास अभ्यास से पीछे हटने का विकल्प भी रहेगा . उन्हें कोई जबर्दस्ती अभ्यास के लिये नहीं उतार सकता .' जाइल्स ने हालांकि कहा कि अभ्यास शुरू करने से पहले जोखिम का पूरा आकलन किया जायेगा .

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने इंग्लैंड सीरीज पर क्या कहा?
क्रिकेट वेस्टइंडीज (West Indies) के मुख्य कार्यकारी जॉनी ग्रेव ने कहा है कि अगर कैरेबियाई खिलाड़ी कोरोना वायरस संकट के दौरान इंग्लैंड दौरे पर जाने के इच्छुक नहीं होते तो उन्हें ऐसा करने के लिये मजबूर नहीं किया जाएगा. वेस्टइंडीज की टीम को तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिये इंग्लैंड दौरे पर जाना है जिसे जुलाई तक स्थगित कर दिया गया है. ग्रेव ने कहा कि कई खिलाड़ियों से इस बारे में विचार विमर्श किया गया और उनमें से किसी को भी दौरे के लिये बाध्य नहीं किया जाएगा. उन्होंने बीबीसी रेडियो से कहा, 'इस दौरे पर कोई ऐसा खिलाड़ी नहीं होगा जिसे जबरदस्ती टीम में शामिल किया गया हो.'



ग्रेव ने कहा, 'अगर आप ऐसे देश में पले बढ़े हों जहां की जनसंख्या केवल 60,000 या 70,000 है तो उनके लिये ब्रिटेन में 30,000 लोगों की मौत बहुत बड़ी संख्या है. ' इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) खिलाड़ियों को अलग थलग रखने और उनके लिये पूरी तरह सुरक्षित वातावरण तैयार करने पर विचार कर रहा है. पूरी संभावना है कि मैच खाली स्टेडियमों में खेले जाएंगे.
ग्रेव ने स्वीकार किया कि वेस्टइंडीज के खिलाड़ी भिन्न भिन्न द्वीपीय देशों के रहने वाले हैं जहां वायरस के कारण अलग अलग तरह की पांबदियां हैं ऐसे में उन्हें एक जगह एकत्रित करना भी चुनौती होगी लेकिन यह असंभव नहीं होगा. उन्होंने कहा, 'खिलाड़ी भी उत्साहित होंगे. हमने ईसीबी से कहा है कि हमें पहले टेस्ट मैच से पूर्व तैयारी के लिये चार सप्ताह चाहिए. हम लगातार तीन टेस्ट मैचों के आयोजन के लिये तैयार हैं. '

चपरासी के बेटे की जिंदगी वर्ल्ड चैंपियन कप्तान ने बदल दी,आज मोदी लेते हैं नाम!

अमित मिश्रा: सुपर स्टार ना सही, मगर किसी प्रेरणा से कम भी नहीं!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज