151 शतक जड़ने वाले इस खिलाड़ी को मिला बड़ा सम्मान

News18Hindi
Updated: September 10, 2019, 4:50 PM IST
151 शतक जड़ने वाले इस खिलाड़ी को मिला बड़ा सम्मान
इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जैफ्री बॉयकॉट नाइटहुड से सम्मानित

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जैफ्री बॉयकॉट (Geoffrey Boycott) और एंड्रयू स्ट्रॉस (Andrew Strauss) को नाइटहुड (Knighthood) की उपाधि से सम्मानित किया गया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2019, 4:50 PM IST
  • Share this:
लंदन. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जैफ्री बॉयकॉट (Geoffrey Boycott) और इंग्लैंड को अपनी कप्तानी में नंबर 1 टेस्ट टीम बनाने वाले पूर्व कप्तान एंड्र्यू स्ट्रॉस (Andrew Strauss) को नाइटहुड (Knighthood) की उपाधि से सम्मानित किया गया है. इन दोनों ही खिलाड़ियों को खेल के क्षेत्र में विशेष योगदान देने के लिए ये सम्मान मिला है. 78 साल के बॉयकॉट ने 18 सालों तक इंग्लैंड के लिए क्रिकेट खेला जिस दौरान उन्होंने 108 टेस्ट और 36 वनडे मैच खेले. बॉयकॉट ने 22 टेस्ट शतक और 42 अर्धशतक लगाए. वहीं एंड्रयू स्ट्रॉस ने भी इंग्लैंड के लिए 100 टेस्ट और 127 वनडे मैच खेले.

बॉयकॉट को क्यों मिला नाइटहुड
जैफ्री बॉयकॉट (Geoffrey Boycott) एक बेहतरीन ओपनिंग बल्लेबाज थे, जिन्होंने अपने करियर में 609 फर्स्ट क्लास मैच खेले. बॉयकॉट ने इस दौरान 48426 रन बनाए वहीं उनके बल्ले से 151 शतक और 238 अर्धशतक निकले. जैफ्री बॉयकॉट ने 1977 में एशेज सीरीज के दौरान अपना शतक ठोका था. हेडिंग्ले में बॉयकॉट के इस शतक की बदौलत इंग्लैंड को जीत मिली और उसने एशेज भी अपने नाम की. बॉयकॉट ने अपने इंग्लिश फर्स्ट क्लास करियर के दौरान 1971 और 1979 के सीजन में 100 से ज्यादा के औसत से रन बनाने का कारनामा भी किया था.

बॉयकॉट ने फर्स्ट क्लास मैचों में 151 शतक ठोके


एंड्रयू स्ट्रॉस का करियर
इंग्लैंड के पूर्व कप्तान स्ट्रॉस (Andrew Strauss) का जन्म तो साउथ अफ्रीका में हुआ था लेकिन महज 6 साल की उम्र में वो इंग्लैंड में बस गए थे. साल 2004 में न्यूजीलैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में डेब्यू करने वाले स्ट्रॉस ने अपने पहले ही मैच में शतक ठोका था. ये कारनामा करने वाले वो दुनिया के चौथे खिलाड़ी थे. साल 2005 में इंग्लैंड ने 18 साल बाद ऑस्ट्रेलिया को एशेज में मात दी थी और इस टीम का हिस्सा स्ट्रॉस भी थे. स्ट्रॉस ने इस सीरीज के तीसरे टेस्ट में 106 और पांचवें टेस्ट में 129 रनों की पारी खेली थी.

स्ट्रॉस ने इंग्लैंड को नंबर 1 टेस्ट टीम बनाया था

Loading...

साल 2009 में स्ट्रॉस (Andrew Strauss) को कप्तानी मिली और उन्होंने इंग्लैंड को नंबर 1 टेस्ट टीम भी बनाया. उनकी कप्तानी में इंग्लैंड ने 50 में से 24 टेस्ट जीते और उसे सिर्फ 11 में हार मिली. साल 2015 में स्ट्रॉस इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के डायरेक्टर बने और उन्ही के मार्गदर्शन के बाद इंग्लैंड की टीम 2019 में वर्ल्ड कप जीतने में कामयाब रही.

140 साल पहले ऑस्ट्रेलिया ने किया था ये कारनामा, अब अफगानिस्तान ने दोहराया
11 हजार रन बनाकर भी नहीं मिली टीम इंडिया में जगह, अब बना द.अफ्रीकी कोच!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 4:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...