सौरव गांगुली की पसली तोड़ने वाले बॉलर का बड़ा खुलासा, कहा-इंग्लैंड दौरे पर रात 12 बजे के बाद...

सौरव गांगुली की पसली तोड़ने वाले बॉलर का बड़ा खुलासा, कहा-इंग्लैंड दौरे पर रात 12 बजे के बाद...
1999 में वनडे मैच में शोएब अख्‍तर की गेंद से सौरव गांगुली बुरी तरह से चोटिल हो गए थे (फाइल फोटो)

पूर्व गेंदबाज ने इंग्‍लैंड दौरे के अपने एक अनुभव का खुलासा किया. दिग्‍गज खिलाड़ी ने कहा कि रात 12 बजे के बाद ऐसा करने के बाद ही उन्‍हें नींद आती थी

  • Share this:
नई दिल्‍ली. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को अपनी गेंदों से परेशान करने वाले और 1999 में भारत के खिलाफ वनडे मैच में उनकी पसलियां तोड़ने वाले पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेदबााज शोएब अख्‍तर (shoaib akhtar) ने चौंकाने वाला खुलासा किया. शोएब अख्‍तर ने इंग्‍लैंड दौरे ने अपने अनुभव के बारे में बताया कि कैसे वहां पर खाने को लेकर उन्‍हें समस्‍या होती थी. दरअसल पाकिस्‍तान की टीम अभी इंग्‍लैंड दौरे पर गई है. वहां पर टीम को तीन टेस्‍ट और तीन टी20 मैचों की सीरीज खेलनी है, मगर उससे पहले टीम 14 दिनों के लिए क्‍वारंटाइन हैं. ऐसे में शोएब अख्‍तर ने कहा कि उनके ये दिन कैसे गुजरेंगे. उन्‍होंने कहा कि हम लोगों को रोटी खाने का बड़ा शौक होता है. रोटी खाए बिना पेट नहीं भरता. इंग्‍लैंड जाने पर खाना बदल जाता है. वहां सलाद आदि खाने पड़ते हैं और ये सब चीजें जल्‍दी हजम हो जाती है. जिसके कारण उन्‍हें ठीक 12 बजे के करीब भूख लग जाती थी.



फोन करके करते थे खास ऑर्डर
शोएब अख्‍तर ने कहा कि इसके बाद सीधे फोन करके ऑर्डर करते हुए कहते थे एक शोरमा लेकर आओ. उसमें चिकन, बीफ डालने के लिए कहते थे और इसे खाने के बाद ही उन्‍हें नींद आती थी. उन्‍होंने कहा कि जब भी कोई पूछता था कि कहां जा रहे तो कहते थे खाना खाने. शोएब अख्‍तर ने कहा कि एक बार फिर पाकिस्‍तान की टीम इंग्‍लैंड गई है और 14 दिन के क्‍वारंटाइन में उन्‍हें अच्‍छा अच्‍छा खाने को मिलेा , मगर अफसोस की बात ये है कि इनके पास कोई प्रैक्टिस मैच नहीं है.



यह भी पढ़ें: 


National Doctors Day पर युवराज सिंह और रोहित शर्मा ने कही ऐसी बात, हर कोई कर रहा है सलाम


सचिन-द्रविड़ को पहली गेंद पर किया बोल्ड, लगातार 4 विकेट झटकने के बाद लगाया था शतक, फिर भी नहीं चमकी किस्मत

युनूस खान को नहीं देना चाहिए था ऐसा बयान
शोएब अख्‍तर ने कहा कि युनूस खान ने ऐसा बयान दिया कि जोफ्रा आर्चर ने बचना होगा. वो मारते हैं. बल्कि युनूस खान को ऐसा बयान नहीं देना चाहिए. युनूस को अपना ऐसा एटीट्यूड युवाओं को ट्रांसफर करना चाहिए. पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि पाकिस्‍तान बोर्ड ने 43 लोगो का काफी बड़ा दल भेजा. जिसमें 23 के करीब खिलाड़ी, फिर डॉक्‍टर, सपोर्ट स्‍टाफ और भी लोग हैं. उन्‍होंने कहा कि हालांकि पाकिस्‍तान बोर्ड ने इंग्‍लैंड के साथ सीरीज करवा ली. उन्‍होंने कहा कि इंग्‍लैंड के पास लंबा चौड़ा बैटिंग लाइन अप है. पाकिस्‍तान की टेस्‍ट रिपोर्ट नेगेटिव आई है, मगर उन्‍हें पॉजिटिव माइंड सेट के साथ खेलने की जरूरत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading