ENG vs WI: पहले टेस्‍ट से बाहर रहने वाले स्‍टुअर्ट ब्रॉड ने 500 विकेट लेते ही संन्‍यास पर कही बड़ी बात

ENG vs WI: पहले टेस्‍ट से बाहर रहने वाले स्‍टुअर्ट ब्रॉड ने 500 विकेट लेते ही संन्‍यास पर कही बड़ी बात
स्टुअर्ट ब्रॉड ने पूरे किये 500 टेस्ट विकेट

मैनचेस्टर टेस्ट में स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) ने क्रेग ब्रेथवेट को आउट कर अपने 500 विकेट पूरे किये.

  • Share this:
मैनचेस्टर. कोरोना के चार महीने बाद इंग्‍लैंड और वेस्‍टइंडीज (England vs West Indies) टेस्ट सीरीज से इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हुई और इस सीरीज में स्‍टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) ने टेस्‍ट क्रिकेट में 500 विकेट लेकर इतिहास रच दिया. ब्रॉड का मानना है कि मेहनत ‘आदत’ की तरह होती है. ब्रॉड ने अपने भविष्‍य पर कहा कि उनमें और लंबे समय से तेज गेंदबाजी में उनके जोड़ीदार जिम्‍मी एंडरसन में अभी ‘कुछ ओवर बाकी’ हैं. वेस्टइंडीज के खिलाफ साउथेम्पटन में पहले टेस्ट से बाहर रहे 34 साल के ब्रॉड ने शानदार वापसी करते हुए तीसरे टेस्ट में दस विकेट लिए.

उन्होंने स्काइ स्पोटर्स से कहा कि आप मैच में जो कड़ी मेहनत करते हैं, वह आदत की तरह होती है और मैच के दिन यही जीत दिलाती है. करियर में उतार चढाव के बीच जीत काफी संतोष देती है. एंडरसन ने इंग्लैंड के लिए सर्वाधिक 589 टेस्ट विकेट लिए हैं. उनके बाद दूसरे स्थान पर पहुंचे ब्रॉड ने कहा कि हमें एक दूसरे के साथ गेंदबाजी में मजा आता है. मुझे लगता है कि हमारे भीतर अभी कुछ ओवर बाकी है.

एंडरसन और ब्रॉड का संयोग
बता दें साल 2017 में जेम्स एंडरसन ने टेस्ट क्रिकेट में अपने 500 विकेट पूरे किये थे. एंडरसन ने वेस्टइंडीज के खिलाफ क्रेग ब्रेथवेट को आउट कर ये मुकाम हासिल किया था. मैनचेस्टर टेस्ट में स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) ने भी ब्रेथवेट को आउट कर अपने 500 विकेट पूरे किये.
यह भी पढ़ें: 



गजब प्रदर्शन के बावजूद मैन ऑफ द सीरीज नहीं बन पाए बेन स्टोक्स, जानिए इंग्लैंड-विंडीज सीरीज की बड़ी बातें

इंग्लैंड के वेस्टइंडीज को हराते ही वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप अंक तालिका में हो गया बड़ा बदलाव

ब्रॉड बने मैन ऑफ द सीरीज
बता दें स्टुअर्ट ब्रॉड (Stuart Broad) को पहले टेस्ट मैच में मौका नहीं मिला था जिसके बाद इंग्लैंड की टीम हार गई थी. इसके बाद इंग्लैंड के प्लेइंग इलेवन सेलेक्शन पर काफी सवाल खड़े हुए थे. हालांकि जो रूट ने दूसरे टेस्ट मैच में टीम की कमान संभालते ही ब्रॉड को टीम में जगह दी और उन्होंने मैनचेस्टर में खेले गए दोनों टेस्ट मैचों में जबर्दस्त प्रदर्शन कर टीम को जीत दिलाई. ब्रॉड ने टेस्ट सीरीज में खेले दो टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा 16 विकेट झटके. तीसरे टेस्ट मैच में ब्रॉड ने 10 विकेट अपने नाम किये. इसके अलावा ब्रॉड ने बल्ले से भी 73 रनों का योगदान दिया. तीसरे टेस्ट की पहली पारी में ब्रॉड ने अर्धशतक भी जड़ा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading