Home /News /sports /

चेतेश्वर पुजारा को 'स्टीव' बुलाने के लिए इंग्लिश खिलाड़ी ने मांगी माफी, बोले- यह गलत था

चेतेश्वर पुजारा को 'स्टीव' बुलाने के लिए इंग्लिश खिलाड़ी ने मांगी माफी, बोले- यह गलत था

इंग्लिश खिलाड़ी जैक ब्रूक्स ने चेतश्वर पुजारा से माफी मांगी है (PIC: AFP)

इंग्लिश खिलाड़ी जैक ब्रूक्स ने चेतश्वर पुजारा से माफी मांगी है (PIC: AFP)

चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) को यॉर्कशर में खेलने के दौरान नस्लीय टिप्पणी का सामना करना पड़ा था. यॉर्कशर काउंटी (Yorkshire) के ही पूर्व कर्मचारियों ने कहा है कि पुजारा को भी एशियाई होने और चमड़ी के रंग के स्टीव कहकर बुलाया जाता था. इस बात का खुलासा फॉक्स क्रिकेट के लिए कमेंट्री कर रहे शेन वॉर्न (Shane Warne) ने मजाकिया अंदाज में किया था. हालांकि, इससे फैन्स काफी ज्यादा नाराज हो गए थे.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. इंग्लैंड के खिलाड़ी जैक ब्रूक्स (Jack Brooks) ने चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) से संपर्क किया और उनके असली नाम का इस्तेमाल करने के बजाय उन्हें ‘स्टीव’ (Steve) के रूप में संदर्भित करने के लिए उनसे माफी मांगी है. ब्रूक्स अब समरसेट के लिए खेलते हैं, लेकिन 2015 में वह यॉर्कशायर क्रिकेट क्लब (Yorkshire) के साथ अपने पहले कार्यकाल के दौरान पुजारा के साथी थे. ब्रूक्स ने एक बयान में कहा है कि वह तब इसे नस्लवादी व्यवहार के रूप में नहीं पहचानते थे, लेकिन अब वह इसे अस्वीकार्य मानते हैं. दरअसल, अजीम रफीक (Azeem Rafiq) के माइकल वॉन (Michael Vaughan) पर नस्लवाद का आरोप लगाने के बाद यह मामला काफी सुर्खियों में छाया हुआ है.

    जैक ब्रूक्स ने चेतेश्वर पुजारा से माफी मांगते हुए कहा, ”जब यह अतीत में ड्रेसिंग रूम के माहौल में हुआ है, तो पंथ या नस्ल की परवाह किए बिना उपनाम देना आम बात हो गई है. मैं इस संदर्भ में इसका इस्तेमाल करने की बात स्वीकार करता हूं, लेकिन अब स्वीकार करता हूं कि ऐसा करना अपमानजनक और गलत था. मैंने उनसे संपर्क किया है और चेतेश्वर से किसी भी अपमान के लिए माफी मांगी है, जो मैंने उन्हें या उनके परिवार को दिया है. उस समय मैं इसे नस्लवादी व्यवहार के रूप में नहीं पहचानता था, लेकिन अब मैं देख सकता हूं कि यह स्वीकार्य नहीं था.”

    IND vs NZ: रांची में फैन्स की होगी बल्ले-बल्ले, 100% दर्शक देख पाएंगे स्टेडियम में मुकाबला

    संसद में डिजिटल, संस्कृति, मीडिया और खेल (डीसीएमएस) समिति में अजीम रफीक की गवाही के दौरान जैक ब्रूक्स नामित लोगों में से एक थे. ब्रूक्स के अलावा, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन, डेविड लॉयड, एलेक्स हेल्स, टिम ब्रेसनन यॉर्कशायर के पूर्व स्पिनर द्वारा नामित लोगों में शामिल हैं.

    नस्लवादी ट्वीट्स को लेकर भी जांच के दायरे में ब्रुक्स
    स्टीव शब्द का उपयोग करने के अलावा, ब्रूक्स अपने ऐतिहासिक नस्लवादी ट्वीट्स के लिए भी जांच के दायरे में हैं. भले ही उन्होंने अपना ट्विटर अकाउंट डिलीट कर दिया हो, लेकिन ब्रुक के ट्वीट्स पब्लिक नॉलेज में हैं. समरसेट क्रिकेट क्लब (जिस टीम के लिए ब्रूक्स वर्तमान में खेलते हैं) ने भी इस मामले को लेकर एक बयान जारी किया है. ब्रूक्स यॉर्कशायर का हिस्सा थे, जब उन्होंने नस्लवादी ट्वीट किए.

    हेल्स ने अपने काले कुत्ते का नाम केविन रखने के आरोप से किया इंकार
    इस बीच इंग्लैंड टीम से बाहर किए गए सलामी बल्लेबाज एलेक्स हेल्स ने अपने काले कुत्ते को केविन का नाम देने के आरोप से इंकार कर दिया है. रफीक के अनुसार, केविन शब्द का इस्तेमाल काले रंग के लोगों के लिए किया जाता था. 2019 विश्व कप से बाहर किए जाने के बाद से राष्ट्रीय टीम से बाहर चल रहे हेल्स ने इस मामले को लेकर बयान जारी किया है.
    IND vs NZ: आर अश्विन और रोहित शर्मा रांची में बन सकते हैं नंबर-1, घर में धोनी का रिकॉर्ड रहा है खराब!

    उन्होंने कहा, ”मेरे खिलाफ लगाए गए आरोपों को सुनने के बाद, मैं स्पष्ट रूप से और पूरी तरह से इंकार करता हूं कि मेरे कुत्ते के नाम में कोई नस्लीय अर्थ था. अजीम रफीक ने जो रुख अपनाया है और जो उन्हें सहना पड़ा है, मैं उसका पूरी तरह से सम्मान करता हूं और उसके लिए बहुत सहानुभूति रखता हूं. उसके सबूत दुखद थे.”

    Tags: Alex hales, Azeem Rafiq, Cheteshwar Pujara, Cricket news, Jack Brooks, Michael vaughan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर