• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • लॉकडाउन में कई बार वर्ल्‍ड कप फाइनल देखने के बाद मोर्गन ने कहा- नीशाम की गेंद पर स्‍टोक्‍स...

लॉकडाउन में कई बार वर्ल्‍ड कप फाइनल देखने के बाद मोर्गन ने कहा- नीशाम की गेंद पर स्‍टोक्‍स...

इंग्लैंड है मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन

इंग्लैंड है मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन

इंग्‍लैंड को आज यानी 14 जुलाई को पहली बार विश्‍व विजेता बने हुए पूरा एक साल हो गया है. इस मौके पर इंग्‍लैंड के कप्‍तान ऑयन मोर्गन ने इस ऐतिहासिक जीत से जुड़ा एक किस्‍सा बताया

  • Share this:
    नई दिल्ली. इंग्लैंड की वनडे विश्व कप में खिताबी जीत के एक साल पूरा होने पर कप्तान ऑयन मोर्गन ने न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए फाइनल के उस क्षण को याद किया, जब उन्हें लगा था कि अब उनकी टीम जीत नहीं सकती. इंग्लैंड ने 12 महीने पहले आज के ही दिन न्यूजीलैंड को बाउंड्री की गिनती के आधार पर हराकर 50 ओवरों का विश्व कप जीता था. दोनों टीमों के बीच मैच टाई रहा था और इसके बाद सुपर ओवर में स्कोर बराबर रहने के बाद बाउंड्री की गिनती के आधार पर इंग्लैंड को विजेता घोषित किया गया. यह निश्चित तौर पर विश्व कप इतिहास के सबसे रोमांचक फाइनल में से एक था.



    मोर्गन ने क्रिकइन्फो से कहा, ‘‘केवल एक बार कुछ सेकेंड के लिए ऐसा समय आया, जब मुझे अपनी जीत को लेकर संदेह हुआ. जिम्मी नीशाम तब बेन स्टोक्स को गेंदबाजी कर रहे थे. उन्‍होंने धीमी गेंद की. बेन ने उसे लॉन्‍ग ऑन पर खेला और मुझे याद है कि गेंद हवा में लहरा रही थी. उन्होंने कहा कि गेंद सीधे जाने के बाद ऊपर चली गई और एक क्षण के लिए मुझे लगा कि बेन स्‍टोक्‍स आउट हुए तो हम गए. हमें अब भी एक ओवर में 15 रन चाहिए. तब मुझे सेकेंड भर के लिए लगा कि अब हम जीत नहीं सकते.

    इंग्‍लैंड ने लगाई अधिक बाउंड्री
    न्यूजीलैंड ने फाइनल में आठ विकेट पर 241 रन का स्कोर बनाया और इसके बाद इंग्लैंड को भी इसी स्कोर पर आउट कर दिया. इससे मैच सुपर ओवर तक खिंच गया. सुपर ओवर में दोनों टीम बराबरी पर रही. लेकिन इंग्लैंड ने मैच में 26 बाउंड्री लगाई थी और उसे न्यूजीलैंड (17 बाउंड्री) पर विजेता घोषित किया गया. वनडे क्रिकेट में 236 मैचों में 7368 रन बनाने वाले मोर्गन ने कहा कि विश्व कप फाइनल असल में क्रिकेट से बड़ा था. कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान तीन बार फाइनल मैच देख चुके मोर्गन ने कहा कि फाइनल वास्तव में क्रिकेट से बड़ा था.

    मोर्गन की निगाह अब ऑस्ट्रेलिया और फिर भारत में होने वाले टी20 विश्व कप पर टिकी हैं और वह चाहते हैं कि उनकी टीम एक साथ दो फॉर्मेट में विश्व कप विजेता बनने वाली पहली टीम बने. उन्होंने कहा कि अभी तक ऐसी कोई टीम नहीं हुई है जिसने टी20 और 50 ओवरों के विश्व कप एक साथ अपने पास रखे हों. इसलिए यह बहुत अच्छी चुनौती होगी. मोर्गन ने कहा कि अगले दो विश्व कप में से एक में जीत दर्ज करना अविश्वसनीय होगा. दोनों विश्व कप जीतना 50 ओवरों के विश्व कप जीतने से बड़ी उपलब्धि होगी, क्योंकि ये दोनों विदेशी सरजमीं पर खेले जाएंगे और ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया और भारत में भारत खिताब का दावेदार होगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन